दिल्ली हत्याकांड / पुलिस का दावा- 30 हजार रुपए के लिए फुफेरे भाई ने ही परिवार के 5 लोगों की हत्या की थी

शम्भूनाथ, सुनीता, कोमल, शिवम और सचिन शम्भूनाथ, सुनीता, कोमल, शिवम और सचिन
X
शम्भूनाथ, सुनीता, कोमल, शिवम और सचिनशम्भूनाथ, सुनीता, कोमल, शिवम और सचिन

  • भजनपुरा इलाके में 12 तारीख को एक ही परिवार के 5 लोगों के शव मिले थे
  • पुलिस का कहना है कि तीनों की हत्या एक-एक करके 9 घंटे के अंदर की गई
  • कुछ सवालों के जवाब पुलिस के पास भी नहीं, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2020, 09:38 AM IST

नई दिल्ली. यहां के भजनपुरा इलाके में एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या की गुत्थी सुलझाने का पुलिस ने दावा किया है। उसका कहना है कि वारदात को 30 हजार रुपए न चुका पाने की वजह से मृतक की बुआ के बेटे ने ही अंजाम दिया था। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। पांचों हत्याएं 3 फरवरी को की गई थीं। पड़ोसियों ने दुर्गंध आने के बाद 12 फरवरी को शिकायत की थी, तब यह मामला सामने आया।

पुलिस के मुताबिक, आरोपी का नाम प्रभु है। शंभूनाथ की कॉल डिटेल से पता चला कि घटना वाले दिन उसने प्रभु से बात की थी। सीसीटीवी फुटेज में भी प्रभु घर की ओर जाता दिखा। घटना वाले दिन ज्यादातर समय उसकी फोन लोकेशन भी घटनास्थल के आसपास पाई गई। इससे पुलिस का उस पर शक गहरा गया। सख्ती से पूछताछ करने पर उसने शंभूनाथ चौधरी उनकी पत्नी सुनीता, बेटे शिवम, सचिन और बेटी कोमल की हत्या करने की बात कबूल कर ली।

उधार लौटाने के लिए शंभूनाथ दबाव डाल रहे थे

पुलिस के मुताबिक, प्रभु ने बताया कि वह सुपौल बिहार का रहने वाला है और दिल्ली में एक कोचिंग इंस्टीट्यूट में नौकरी करता है। उसने शंभूनाथ से 30 हजार रुपए उधार लिए थे, जिसे लौटाने के लिए शंभूनाथ उस पर दबाव डाल रहा था। इससे परेशान होकर प्रभु ने 3 फरवरी की दोपहर शंभूनाथ को कॉल करके लक्ष्मीनगर बुलाया। हालांकि, खुद शंभूनाथ के घर भजनपुरा पहुंच गया।

9 घंटे में 5 हत्याएं की गईं

पुलिस ने बताया कि घर पर सिर्फ शंभूनाथ की पत्नी सुनीता थी। प्रभु ने दोपहर बाद 3:30 से 3:45 बजे के बीच गला दबाकर और सिर पर रॉड से हमला करके उनकी हत्या कर दी। फिर 4:45 से 6:45 बजे के बीच बारी-बारी से स्कूल और ट्यूशन से घर पहुंचे तीनों बच्चों को मारा। रात को घर पहुंचे शंभूनाथ की हत्या 11 बजे की गई। उनके सिर पर रॉड से हमला किया गया। 

पुलिस कुछ सवालों के जवाब नहीं दे पाई

  • प्रभु का शंभूनाथ से पैसों को लेकर विवाद था, इसके लिए उसने पूरे परिवार को क्यों मारा?
  • प्रभु ने जब शंभूनाथ को लक्ष्मीनगर बुलाया और खुद नहीं पहुंचा तो शंभूनाथ ने फोन करके उससे वजह क्यों नहीं पूछी।
  • शंभूनाथ को लक्ष्मीनगर बुलाकर खुद घर पहुंचने के पीछे आखिर कातिल का क्या मकसद था?
  • आरोपी क्या सुनीता से मिलने घर पहुंचा था या उसने सुनीता के साथ जोर-जबरदस्ती की थी और विरोध करने पर उसकी हत्या कर दी?
  • सुनीता को मारने के बाद प्रभु भाग सकता था, लेकिन उसने ऐसा क्यों नहीं किया? 
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना