• Hindi News
  • Delhi
  • Delhi ncr
  • Five dead bodies of the same family were found in the house, including three children; Neighbors gave information to the police after the smell came out of the house

दिल्ली / घर में एक ही परिवार के पांच शव मिले, इनमें तीन बच्चे भी; घर से उठी बदबू के बाद पड़ोसियों ने पुलिस को दी सूचना

मृतक शम्भूनाथ, सुनीता, कोमल, शिवम और सचिन । मृतक शम्भूनाथ, सुनीता, कोमल, शिवम और सचिन ।
X
मृतक शम्भूनाथ, सुनीता, कोमल, शिवम और सचिन ।मृतक शम्भूनाथ, सुनीता, कोमल, शिवम और सचिन ।

  • घर से हथौड़ी-आरी मिलने से हत्या की आशंका जताई गई, पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की
  • सबसे बड़ा सवाल- किसी से रंजिश नहीं, आर्थिक हालत भी ठीक, फिर क्या हो सकता है मौत का कारण

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2020, 03:36 AM IST

नई दिल्ली. नार्थ ईस्ट डिस्ट्रिक के भजनपुरा इलाके में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां एक घर में 5 लोगों का शव मिले हैं। इनमें दंपति सहित 3 बच्चों के शव शामिल हैं। पुलिस सूत्रों ने पाचों की हत्या का शक जताया है। पुलिस ने शुरुआती जांच के आधार पर हत्या का मामला भी दर्ज कर लिया है। हालांकि पुलिस हर एंगल से जांच करने की बात कह रही है। करीब सप्ताह भर तक शव घर में पड़े थेे। घटना का खुलासा तब हुआ जब आस पड़ोस के लोगों को दुर्गंध आने लगी। बुधवार को मिली सूचना पर पुलिस घर का ताला तोड़ अंदर दाखिल हुई, जिसके बाद सड़ी-गली हालत में 5 लाशें मिलीं। सभी शव पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजे गए।

घर में मिले  हथौड़ी-आरी हो सकते हैं हत्या का सामान
पुलिस की जांच में पता चला कि मृतक शम्भूनाथ कुछ साल पहले तक जूस की दुकान लगाता था। बाद में उसने यह काम छोड़ एक साल से ई रिक्शा चलाना शुरू कर दिया था। पुलिस को घर से हथौड़ी और आरी भी मिली है। पुलिस इन्हें हत्या का औजार मान कर भी जांच कर रही है। घर से पांच शव मिलने की खबर मिलते ही जिले के डीसीपी और ईस्ट रेंज के संयुक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार भी  मौके पर पहुंच गए। क्राइम और एफएसएल टीम को भी जांच के लिए बुलाया गया। घर के मुख्य दरवाजे पर ताला लगा था और घर का पिछला दरवाजा अंदर से बंद मिला। अब पुलिस इस परिवार से जुड़े लोगों के बारे में और घर की तलाशी करके सबूत जुटाने में लगी है। आसपास के लोगों ने बताया कि मारे गए पूरे परिवार में सिर्फ शम्भूनाथ ही मोबाइल का इस्तेमाल करता था। पुलिस मानकर चल रही है इन पांचों की हत्या के पीछे किसी नजदीकी का हाथ हो सकता है, जिसे परिवार के बारे में पूरी जानकारी हो। आसपास के लोगों ने बताया कि आखिरी बार तीनों बच्चे 3 फरवरी को स्कूल गए थे।

किसी से रंजिश नहीं थी

पुलिस ने बताया कि भजनपुरा के सी ब्लॉक में गली नंबर दस स्थित मकान संख्या 275 भूतल पर शम्भूनाथ (43) पत्नी और तीन बच्चों के साथ रहते थे। यहां वह 5 महीने से किराए पर रह रहे थे। उनके परिवार में पत्नी सुनीता (37), बड़ा बेटा शिवम (17), सचिन (14) व बेटी कोमल (12) थी। ये सभी क्रमश: बारहवीं, नौंवी और सातवीं कक्षा में पढ़ते थे। शम्भूनाथ मूलरूप से बिहार सुपौल के रहने वाले थे, जो भजनपुरा क्षेत्र में लगभग पंद्रह बीस वर्ष से रह रहे थे। लोगों के अनुसार शम्भू दिनरात मेहनत कर अपने बच्चों का भविष्य बनाने की बात कहता था। परिवार के आर्थिक हालात भी ठीक-ठाक थे। शम्भूनाथ के मामा शंकर जायसवाल ने कहा वह बीस साल पहले काम के लिए दिल्ली आया था। बुधवार दिन में 11 बजकर 16 मिनट पर इस घर के अंदर से उठ रही दुर्गंध से परेशान हो पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पुलिस पहुंची और घर के बाहर लगे ताले तो तोड़ा और घर में दाखिल हुई। जहां दो कमरे से सड़ी हालत में पांच शव मिले। एक कमरे में दंपति की बॉडी और दूसरे में तीनों बच्चों के शव पड़े थे। घर से उठती बदबू से पुलिस ने आंशका जतायी कि सभी की मौत 6-7 दिन पहले ही हो चुकी है। वहीं, मामले की जांच से जुड़े एक पुलिस अधिकारी का कहना है हालात के मद्देनजर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है, लेकिन मौत की असल वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही साफ होगी। पोस्टमार्टम के लिए पुलिस ने डॉक्टरों के एक बोर्ड के गठन की मांग की है। पुलिस इस बिंदु को ध्यान में रखकर भी जांच कर रही है कि कहीं शम्भू ने परिवार को खत्म करने के बाद खुद की जान तो नहीं ले ली।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना