दिल्ली / पहली बार दोपहिया वाहनों के वीआईपी नंबरों की ई-नीलामी, बोली 15 हजार से शुरू



For the first time, e-auction of VIP numbers for two-wheelers, starting from bid 15 thousand
X
For the first time, e-auction of VIP numbers for two-wheelers, starting from bid 15 thousand

  • वीआईपी-फैंसी नंबर की नई पॉलिसी अधिसूचित, पहले आओ-पहले पाओ आधार पर मिलेगा
  • 4 श्रेणी के वीआईपी नंबर छोड़कर कोई भी पसंदीदा नंबर दोपहिया का 2500 और कार का 25 हजार रुपए में

Dainik Bhaskar

Jun 21, 2019, 06:44 AM IST

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार ने टू-व्हीलर और 4-व्हीलर के वीआईपी-फैंसी नंबर की नई पॉलिसी अधिसूचित कर दी है। अब स्कूटी-बाइक पर पसंदीदा नंबर चाहिए तो 136 तरह के नंबर के लिए पहले के मुकाबले 10 गुना या उससे अधिक पैसे चुकाने होंगे। नंबरों की ई-नीलामी की जाएगी। दोपहिया के वीआईपी नंबर 0001-0099 तक दिए जाने पर करीब 4 साल से प्रतिबंध था। गुरुवार को जारी नई अधिसूचना के बाद ये मिलना शुरू हो जाएंगे।

 

यह अधिसूचना भी एलजी और आप सरकार की पॉवर पॉलिटिक्स के बीच लंबे समय से फंसी हुई थी। कैबिनेट ने अप्रैल, 2018 में नई पॉलिसी को मंजूरी दी थी। अधिसूचना के बाद 4 व्हीलर के चौथी श्रेणी की सूची में शामिल 36 नंबर, जिनकी नीलामी अभी तक 1 लाख रुपए से शुरू होती थी, अब उन नंबरों की नीलामी 1.5 लाख रुपए से शुरू होगी। इस श्रेणी में 2-व्हीलर की नीलामी 15 हजार रुपए से शुरू होगी।

 

पुरानी कार-बाइक का नंबर नई गाड़ी पर चाहिए तो पैसे चुकाने होंगे

आपको आपकी पुरानी कार या बाइक का कोई नंबर नई कार या बाइक पर चाहिए तो अब फ्री में नहीं मिलेगा। सरकार ने नई पॉलिसी में वाहनों के नंबर रिटेंशन (पुरानी गाड़ी का नंबर नई गाड़ी पर) के लिए 4-व्हीलर में 25 हजार रुपए या जो नंबर मांग रहे हैं उस नंबर की नीलामी के लिए रिजर्व कीमत का 10% जो भी ज्यादा होगा चुकाना पड़ेगा। यानी 50 हजार रुपए तक चुकाने पड़ सकते हैं। उससे वाहन संबंधित व्यक्ति के नाम वो वाहन कम से कम 3 साल से होना चाहिए।

 

अभी तक कार में ये नंबर रिटेंशन फ्री में होते थे लेकिन 2-व्हीलर का नंबर नए वाहन पर नहीं मिलता (रिटेंशन नहीं होता) था। नई पॉलिसी में पुराने 2 व्हीलर का नंबर नए 2 व्हीलर पर चाहते हैं तो उसके लिए 2500 रुपए या ई नीलामी की रिजर्व प्राइज का 10% में जो अधिक होगा, वो चुकाना पड़ेगा जो 5000 रुपए तक हो सकता है।

 

इस तरह होगी इन खास नंबरों की नीलामी

4 श्रेणी में शामिल 140 वीआईपी नंबरों को छोड़कर अगर कोई व्यक्ति अलग से पसंदीदा नंबर चाहता है तो वो अब 25 हजार रुपए में पहले आओ पहले, पाओ के आधार पर मिलेगा। अभी तक कार के लिए ऐसे नंबरों की नीलामी 20 हजार रुपए से शुरू होती थी, अब नीलामी में ये नंबर शामिल नहीं होंगे।

 

नीलामी 
 

इस तरह मिलेगा ऑन द स्पॉट नंबर

जब आप वाहन लेने जाएंगे तो रजिस्ट्रेशन के दौरान डीलर के पास स्क्रीन पर रैंडम नंबर, ई-नीलामी वाले फैंसी नंबर, स्पेशल च्वाइस नंबर और चौथे नंबर पर पुराने कार के नंबर का रिटेंशन लिखा होगा। स्पेशल च्वाइस नंबर पर डीलर क्लिक करेगा तो सामने बचे हुए नंबर दिखाई देंगे। आपको जो नंबर पसंद आए, उसे लॉक करवा सकते हैं। तुरंत ऑनलाइन भुगतान के बाद वह नंबर मिल जाएगा।

 

3 साल में करीब 35 करोड़ की कमाई
परिवहन विभाग ने पसंदीदा नंबर ऑन द स्पॉट 25 हजार में दिए जाने के पीछे तर्क दिया है कि 2017 में 4276 नंबर नीलाम हुए थे। इनसे 9.80 करोड़ रुपये का राजस्व मिला था। यह औसतन 23 हजार रुपए प्रति नंबर है। ई नीलामी की प्रक्रिया लंबी है। इसे खत्म करके एकमुश्त पैसे लेंगे तो ज्यादा नंबर बिकेंगे। जबकि अलग-अलग श्रेणी को जोड़ लिया जाए तो 22 नंबर 0001 नीलाम हुआ जिससे 1.54 करोड़, दूसरी श्रेणी के 71 नंबर से 2.30 करोड़ रुपए के अलावा सबसे ज्यादा पसंदीदा नंबर से राजस्व मिला है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना