--Advertisement--

निर्णय / पेसमेकर और कॉटन-पट्‌टी जैसे सामान की कीमतें तय करेगी सरकार



Government will fix prices of pacemakers and cotton-strip
X
Government will fix prices of pacemakers and cotton-strip

  • मार्च तक फैसला संभव

Dainik Bhaskar

Oct 14, 2018, 04:35 AM IST

पवन कुमार, नई दिल्ली.  इलाज का खर्च कम करने के लिए केंद्र सरकार पेसमेकर जैसे उपकरणों और कॉटन-पट्‌टी जैसे सामान की कीमतें तय करने जा रही है। कई इम्प्लांट, उपकरणों, डिस्पोजेबल सामान और डॉयग्नोस्टिक किट्स को जरूरी दवाओं की सूची में शामिल करने के प्रस्ताव पर पिछले दिनों स्टैंडिंग नेशनल कमेटी ऑन मेडिसिन की पहली बैठक में चर्चा हुई।

 

कमेटी को फैसला करना है कि कौन-कौन से इम्प्लांट या डिस्पोजेबल जरूरी दवाओं की श्रेणी में रखे जाने चाहिए। इसकी सिफारिश के आधार पर नेशनल फॉर्मास्यूटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी (एनपीपीए) कीमत तय करेगी। सरकारी अधिकारियों के अनुसार यह प्रक्रिया अगले साल फरवरी से मार्च तक पूरी हो सकती है।

 

उल्लेखनीय है कि इलाज से पहले रेडियोलॉजिकल और पैथोलॉजिकल जांच में मरीजों को हजारों रुपए खर्च करने पड़ते हैं। ऐसे में सरकार चुनिंदा डायग्नोस्टिक किट्स और रेडियोलॉजिकल उपकरणों को जरूरी दवाओं की सूची में डालना चाहती है, ताकि एक्स-रे, सीटी स्कैन, एमआरआई, यूरिन और ब्लड की जांच की लागत कम की जा सके। कॉटन, पट्‌टी जैसे डिस्पोजेबल आइटम भी दवा की श्रेणी में रखे जाएंगे। वहीं, हार्ट पेशेंट्स के काम आने वाले हार्ट वॉल्व और पेसमेकर की कीमतें नियंत्रित करने के लिए इन्हें भी दवा की श्रेणी में लाने का प्रस्ताव है।
 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..