पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हाईकोर्ट का गूगल, एपल, वाट्सएप को नाेटिस, डेटा संरक्षित रखने की जानकारी मांगी

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोर्ट का कहना है कि हिंसा से संबंधित जानकारी भविष्य के लिए जरूरी है - Dainik Bhaskar
कोर्ट का कहना है कि हिंसा से संबंधित जानकारी भविष्य के लिए जरूरी है
  • जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार, पुलिस के साथ वाट्सएप, गूगल, एपल को नोटिस जारी किया
  • काेर्ट ने कहा- आगे की जांच के लिए डेटा जरूरी है, इसे संरक्षित रखा जाए

नई दिल्ली । जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार, पुलिस के साथ वाट्सएप, गूगल, एपल को नोटिस जारी किया। हाईकोर्ट ने सभी से पूछा है कि हिंसा से जुड़े सबूत जैसे सीसीटीवी फुटेज, डेटा संरक्षित रखने का ब्योरा दें, क्योंकि आगे की जांच के लिए यह जरूरी है। जस्टिस बृजेश सेठ की कोर्ट सोमवार को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के प्रोफेसरों द्वारा सबूतों को संरक्षित रखने की मांग से जुड़ी याचिका पर सुनवाई कर रही थी।


कोर्ट का कहना है कि हिंसा से संबंधित जानकारी भविष्य के लिए जरूरी है, इसलिए इसे सुरक्षित रखा जाना चाहिए। हालांकि कोर्ट ने कहा कि यहां टेक कंपनियों का पक्ष रखने के लिए कोई भी मौजूद नहीं है। जब तक उनका पक्ष नहीं रखा जाता, तब तक इस संबंध में कोई भी आदेश नहीं दे सकते। अब सुनवाई मंगलवार को होगी।  कोर्ट में दिल्ली पुलिस ने बताया उसने जेएनयू प्रशासन से हिंसा से जुड़े सीसीटीवी फुटेज को संरक्षित रखने अौर उन्हें पुलिस को सौंपने के लिए कहा है। दिल्ली सरकार के वकील राहुल मेहरा ने बताया कि पुलिस को अब तक विश्वविद्यालय से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है।
 
 उन्होंने कहा कि पुलिस ने वाट्सएप से भी दो ग्रुप के डेटा सुरक्षित रखने को कहा है। इसमें वाट्सएप ग्रुप “यूनिटी अगेंस्ट लेफ्ट’ और “फ्रेंड्स ऑफ आरएसएस’ शामिल हैं। इसमें मैसेज के साथ फोटो, वीडियो और सदस्यों के फोन नंबर सुरक्षित रखने को कहा है।

जामिया हिंसा : 28 दिन बाद वीसी ने कहा- पुलिस बिना पूछे दाखिल हुई, एफआईआर करवाएंगे; छात्र बोले- भरोसा नहीं
नई दिल्ली | जामिया मिलिया इस्लामिया विवि के कैम्पस में लाठीचार्ज के 28 दिन बाद पहली बार सोमवार को कुलपति नजमा अख्तर ने इस मामले में छात्रों से सीधा संवाद किया। नजमा ने कहा, “पुलिस बिना इजाजत कैम्पस में घुसी और छात्रों को पीटा। हमारी एफआईआर भी दर्ज नहीं की गई। हमने सरकार से शिकायत की है और जरूरत पड़ी तो हम कोर्ट भी जाएंगे।’ कुलपति के इस जवाब पर छात्रों ने कहा कि हमें आपकी बात पर भरोसा नहीं है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser