वारदात / साकेत कोर्ट में महिला आईएएस से वकील ने की छेड़छाड़ और बदसलूकी



साकेत कोर्ट (फाईल फोटो) साकेत कोर्ट (फाईल फोटो)
X
साकेत कोर्ट (फाईल फोटो)साकेत कोर्ट (फाईल फोटो)

  • दिल्ली में जब महिला आईएएस तक सुरक्षित नहीं तो आम महिलाएं खुद को कैसे करेंगी सेफ महसूस
  • वकील और उसके साथियों के खिलाफ केस दर्ज 

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2019, 02:15 AM IST

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस के लाख दावों के बावजूद दिल्ली में जब महिला आईएएस अधिकारी तक सुरक्षित नहीं है तो आम महिलाएं कैसे खुद को सेफ महसूस कर सकती है। ऐसा ही एक मामला गुरुवार को दक्षिणी दिल्ली के साकेत कोर्ट परिसर में सामने आया है। यहां एक महिला आईएएस से छेड़छाड़, बदसलूकी व पति के साथ मारपीट की गई।

 

छेड़छाड़ व मारपीट का आरोप वकीलों के ऊपर लगा है। वकीलों का तर्क है उनके ऊपर हमला किया गया, जिसमें उनको चोटें आईं। पुलिस ने बताया कि सूचना मिलने के बाद महिला अधिकारी की शिकायत पर साकेत थाने में एक वकील और उसके साथियों के खिलाफ इस संबंध में मामला दर्ज किया गया है। लेकिन शुक्रवार तक मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई थी। डीसीपी विजय कुमार ने घटना की पुष्टि की है। शिकायतकर्ता महिला 2014 बैच की आईएएस अधिकारी हैं। वर्तमान में मिजोरम में तैनात हैं। पहले वह महरौली में एसडीएम भी रह चुकी है।
 

सीसीटीवी फुटेज बरामद :
गुरुवार को महिला अधिकारी पति के साथ पुराने मामले की सुनवाई के लिए साकेत कोर्ट आई थीं। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज बरामद हुआ है, जिसमें द महिला पति के साथ कोर्ट परिसर में आती हैं। उसी दौरान उनको कुछ वकील रोकते हैं और इसके बाद विवाद शुरू हो जाता है। महिला अधिकारियों को संपत्ति के सिलसिले में सुनवाई के लिए बुलाया गया था। दोनों पक्षों की तरफ से पुलिस को शिकायत मिली है।

 

वकील अभद्र व्यवहार सहन नहीं करेंगे: 

साकेत बार एसोसिएशन के सेक्रेटरी धीर सिंह कसाना ने कहा  कि कोई भी वकील किसी आईएएस अधिकारी हो या अन्य का अभद्र व्यवहार सहन नहीं करेंगे। एसोसिएशन मामले की जांच कर रही है। इसमें वकीलों की गलती मिलती है तो उन पर एक्शन लिया जाएगा। अगर महिला अधिकारी की गलती पाई जाती है तो उन पर कार्रवाई की मांग करेंगे। दरअसल, महिला अधिकारी को संपत्ति मामले में विटनेस के तौर पर कोर्ट ने बुलाया था। उसी दौरान यह विवाद हुआ था।

COMMENT