विस सत्र / ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी के मॉडल की तर्ज पर दिल्ली में होगी रोजगार दिलाने वाले कोर्सेज की पढ़ाई

On the lines of the model of Australia, Germany, the courses for employment in Delhi will be studied
X
On the lines of the model of Australia, Germany, the courses for employment in Delhi will be studied

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 01:45 AM IST

नई दिल्ली . विधानसभा में अंतिम दिन दिल्ली स्किल एंड इंटरप्रिन्योरशिप यूनिवर्सिटी बिल-2019 पास किया गया। यूनिवर्सिटी में अध्ययन के कितने स्कूल बनाए जाएंगे और पढ़ाई किस अस्थाई कैंपस में शुरू होगी, ये बाद में तय होगा। कैंपस के लिए जमीन जोनापुर में प्रस्तावित है। विभाग को 37 एकड़ जमीन आवंटित की गई है। वहां वर्ल्ड क्लास स्किल सेंटर भी बनेगा। हालांकि ये जमीन रिज एरिया में है, इसके लिए नई जमीन की पहचान की जाएगी।

रिज मैनेजमेंट बोर्ड निर्णय के अनुसार किसी अन्य स्थान पर वन विभाग की जोनापुर जमीन के बराबर भूमि निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। चालू वित्तवर्ष में अस्थाई कैंपस भवन व शैक्षणिक इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण पर 10 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। बिल में दिल्लीवालों के लिए आरक्षण का जिक्र नहीं है लेकिन उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भास्कर से कहा है कि दिल्ली के बच्चों को आरक्षण देंगे। सिसोदिया ने कहा- जरूरत के हिसाब से कोर्स का पाठ्यक्रम तय करेंगे। ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी और फिनलैंड के मॉडल को शामिल किया जाएगा। यहां दाखिला लेने वालों को नौकरी तलाशने की बजाय रोजगार पैदा करने के लिए तैयार किया जाएगा। कोर्स देश व विश्व के मार्केट में संभावनाएं तलाशकर बनाएंगे। सीएम ने कहा कि इस बिल का नाम रोजगार बिल होता तो ज्यादा अच्छा होता।

सिसोदिया बोले- विवि में दिल्लीवालों को आरक्षण दिया जाएगा

किस तरह के कोर्स होंगे| तीन महीने से 12 महीने के कौशल विकास मॉड्यूल, एक से दो साल के विभिन्न व्यवसायों के सर्टिफिकेट प्रोग्राम, दो तीन साल के डिप्लोमा के अलावा चार साल के स्नातक डिग्री प्रोग्राम और नेशनल स्किल क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क का वर्टिकल लेवल और एमफिल व पीएचडी कराए जाएंगे। नेशनल स्किल क्वॉलिफिकेशन फ्रेमवर्कके हिसाब से शिक्षा दी जाएगी जिसमें एप्लाइट साइंस में बैचलर और मास्टर डिग्री प्रोग्राम चलाए जाएंगे। जिन कोर्स की सिफारिश कमेटी ने दी है उसमें इलेक्ट्रॉनिक हार्डवेयर, ऑटो मेंटीनेंस और ऑटो पार्ट्स, रिटेल, आईटी एंड बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्स, एयरकंडिशनिंग, फूड सप्लाईचेन, बैंकिंग, फाइसेंस सर्विस आदि शामिल हैं।

प्याज पर विस के बाहर से अंदर तक हंगामा, मार्शलों ने विजेंद्र को बाहर निकाला

प्याज की आसमान छूती कीमतों को लेकर विधानसभा में मंगलवार को विपक्ष ने शोर-शराबा किया। सदन के बाहर भाजपा विधायक ओपी शर्मा ने सीएम को प्याज की माला दिखाई। वहीं सदन में भी हंगामा किया गया। इसके बाद विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता को विस अध्यक्ष ने मार्शलों से बाहर निकलवा दिया। इस बीच भाजपा की कुछ महिला नेता और कार्यकर्ता विरोध में स्लोगन लिखी तख्ती लेकर मेन गेट से सुरक्षा को धोखा देकर परिसर में दाखिल हुईं और आप सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इससे नाराज अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने सदन में विपक्ष के ध्यानाकर्षण प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना