दिल्ली / सर्विस वोटर के दफ्तर तक पहुंचेगा ऑनलाइन पोस्टर बैलेट, दिव्यांगों को मिलेगी आने-जाने की सुविधा



Online poster ballot will reach service voter's office
X
Online poster ballot will reach service voter's office

  • सर्विस और दिव्यांग वोटर्स के लिए खास इंतजाम
  • मॉडल पोलिंग स्टेशन 70 और पिंक बूथ 19 बनेंगे

Dainik Bhaskar

Apr 16, 2019, 04:26 AM IST

नई दिल्ली. दिल्ली में अभी तक रजिस्टर 1,41,83,055 वोटर्स में दिव्यांग 37,407 और सर्विस वोटर 10,622 रजिस्टर हैं। वहीं चुनावी मशीनरी में करीब 1.70 लाख लोग लगेंगे। सीईओ दिल्ली डॉ. रणबीर सिंह ने बताया कि इस साल सर्विस वोटर्स के लिए चुनाव आयोग ऑनलाइन बैलेट पेपर(इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसमिशन ऑफ पोस्टल बैलेट सिस्टम) की व्यवस्था कर रहा है। इसमें बैलेट पेपर फाइनल होने पर पोस्ट से बैलेट पेपर संबंधित सर्विस वोटर के ऑफिस तक भेजने में जो टाइम खर्च होता था अब नहीं लगेगा।

 

इंचार्ज के पास सुरक्षित तरीके से ऑनलाइन पोस्टर बैलेट पहुंचेगा जिसे वो प्रिंट करके लिफाफे के साथ वोटर को देगा। वापस रिटर्निंग ऑफिसर तक वोट पहुंचने की प्रक्रिया पहले की ही तरह है। दिव्यांग वोटर्स के लिए चुनाव अधिकारी विशेष व्यवस्था करेंगे। जो घर से बूथ तक पहुंचने की सुविधा मांगेंगे, उन्हें सुविधा देंगे। वहीं हर बूथ पर रैंप की व्यवस्था की गई है। चुनावी ड्यूटी में तैनात पुलिस या अन्य तरह के स्टाफ वोट कर सके इसके लिए ट्रेनिंग में पहले फार्म भरवाएंगे। अगर जहां ड्यूटी है, उसी संसदीय सीट का वोटर है तो ड्यूटी प्रमाणपत्र लेकर ड्यूटी वाले बूथ पर ही वोटिंग सुविधा होगी। 

 

ये होगा खास: बुजुर्गों की अलग लाइन और बच्चों के लिए क्रेच 
इस बार 70 मॉडल पोलिंग स्टेशन के अलावा 19 पिंग पोलिंग बूथ और दिव्यांग बूथ बना रहे हैं। सीईओ ने बताया कि बुजुर्गों के लिए बूथ पर अलग लाइन की व्यवस्था होगी तो छोटे बच्चों के साथ आने वाली मां के लिए क्रेच की सुविधा भी रहेगी।  
 

गड़बड़ी वाली 30 बस्ती और 35 व्यक्तियों की पहचान 

सीईओ के अनुसार लोकसभा चुनाव को लेकर पुलिस ने 30 बस्ती या इलाके पहचाने जहां गड़बड़ी की आशंका है। वहां विशेष ऐहतियात बरती जाएगी। वहीं 35 ऐसे व्यक्तियों की भी पहचान की है जो दिक्कत पैदा कर सकते हैं, उन पर भी विशेष नजर रखी जाएगी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना