मोबाइल वॉलेट / पेटीएम, गूगल-पे की केवाईसी के लिए आधार जरूरी नहीं



paytm ; google pay ; g pay; kyc ; PetiM, Google-Pay KYC support is not necessary
X
paytm ; google pay ; g pay; kyc ; PetiM, Google-Pay KYC support is not necessary

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 10:12 AM IST

नई दिल्ली . आधार एक्ट में संशोधन के बाद मोबाइल वॉलेट कंपनियों को कुछ राहत मिली है। फिलहाल इन कंपनियों के कस्टमर्स को मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल करने के लिए आधार की जरूरत नहीं पड़ेगी। अब तक मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल करने के लिए ग्राहकों को केवाईसी पूरी करनी होती थी। इसमें आधार कार्ड का होना अनिवार्य था। ऐसे में इन कंपनियों के लिए कस्टमर्स को मैनुअली वेरिफाई करना आसान नहीं होता है। इसमें उन्हें बहुत पैसा खर्च करना पड़ता था। ऐसे में आधार की अनिवार्यता खत्म होने से उन्हें आराम मिलेगा। हालांकि अब भी मोबाइल वॉलेट कंपनियों की समस्या पूरी तरह खत्म नहीं हुई है, क्योंकि उन्हें फौरी तौर पर ग्राहकों के आधार कार्ड के सत्यापन की जरूरत नहीं पड़ेगी। 

 

लेकिन बाद में करना होगा, आधार एक्ट में हुआ ये बदलाव : नया कानून यह सुनिश्चित करता है कि किसी व्यक्ति के पास सत्यापन के लिए आधार कार्ड नहीं होने से उसे किसी सेवा के लिए मना नहीं किया जा सकेगा। आधार कार्ड धारक व्यक्ति QR कोड के जरिए ऑफलाइन वेरिफिकेशन करा सकता है। हालांकि मिनिमम केवाईसी पूरी करने के लिए आरबीआई ने सभी मोबाइल वॉलेट कंपनियों को अगस्त 2019 तक का समय दिया है। मिनिमम केवाईसी को फुल केवाईसी वॉलेट में बदलने के लिए उन्हें 18 महीनों का डेडलाइन दिया गया है।


मोबाइल वॉलेट कंपनियों की होगी बचत : इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक बैंकों, मोबाइल वॉलेट कंपनियों के लिए मैनुअली एक केवाईसी पूरी करने में 200 से 250 रुपए का खर्च आता है। उन्हें लॉजिस्टिक्स और मैनुअल वेरिफिकेशन सेंटर खोलने पड़ते हैं। जिन मोबाइल वॉलेट कंपनियों का कस्टमर बेस बड़ा है, उन्हें उतना ही ज्यादा खर्च करना पड़ता है, जिससे उनका रेवेन्यु प्रभावित होता है।

COMMENT