• Hindi News
  • Delhi
  • Delhi ncr
  • Sonia said to the los election candidates fight the election, give JP a chance to son, Ajay Maken asks for time

भास्कर खास / लोस चुनाव प्रत्याशियों से सोनिया ने कहा- विस चुनाव लड़ें, जेपी बोले-बेटे को मौका दें, अजय माकन ने समय मांगा

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी।
X
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी।कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी।

  • सोनिया की बैठक में महाबल मिश्रा नहीं पहुंचे, बॉक्सर विजेंदर सिंह को नहीं बुलाया गया

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2020, 03:02 PM IST

नई दिल्ली | विधानसभा में कांग्रेस की मजबूती दिखाने की जिम्मेदारी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने वरिष्ठ नेताओं के कंधे पर सौंपी है। सोमवार को सोनिया ने लोकसभा चुनाव 2019 लड़ने वाले कांग्रेस नेताओं की बैठक बुलाई और कहा- सभी चुनाव लड़ें। बैठक में जेपी अग्रवाल, अजय माकन, अरविंदर सिंह लवली, राजेश लिलोठिया शामिल हुए। कांग्रेस नेता राजेश लिलोठिया ने बताया, मैंने कहा है कि मैं नई दिल्ली से अरविंद केजरीवाल के खिलाफ चुनाव लड़ने को तैयार हूं।

कयास: कांग्रेस में कई बड़े नेता चुनाव नहीं लड़ना चाहते
बैठक में शामिल एक अन्य नेता ने बताया कि जेपी अग्रवाल ने उम्र का हवाला देकर पहले बेटे को मैदान में उतारने की बात रखी। लेकिन बाद में कहा- अगर आप कहेंगी तो अलग बात है। वहीं अजय माकन ने फैसले के लिए सोनिया गांधी से एक दिन का टाइम मांगा है। इस बैठक में महाबल मिश्रा नहीं पहुंचे और बॉक्सर विजेंदर सिंह को नहीं बुलाया गया था। बैठक में पूूर्व विधायक व पार्टी के सचिव नसीब सिंह को भी बुलाए जाने की सूचना है। बैठक के पीछे कहा जा रहा है कि कुछ नेता चुनाव में उतरने से आनाकानी कर रहे हैं।

इधर, भाजपा में दिनभर नेता टिकटों के बटंवारे को लेकर माथापच्ची करते रहे, सहमति नहीं बन पाई

दिल्ली के चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर के घर उम्मीदवारों के चयन के लिए सुबह नौ बजे से कोर कमेटी की दोपहर तक बैठक चली जो बिना नतीजा खत्म हो गई। बताया जा रहा है कि अब 16 जनवरी की देर रात कुछ उम्मीदवारों की सूची भाजपा जारी कर सकती है। वहीं चुनाव प्रभारी व प्रदेश के बड़े नेताओं का भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ भी मंथन हुआ। बताया जा रहा है कि कुछ सीटों पर उन्होंने स्वीकृति भी दे दी है।  सूत्रों का कहना है कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व दोबारा प्रदेश संगठन से नए उम्मीदवारों के नामों की सूची मांगी है। बताया जा रहा है कि कृष्णानगर से पूर्व सांसद महेश गिरी को लड़वाना चाह रही है। ऐसे में उन उम्मीदवारों का समीकरण बिगड़ गया है जिन्हें प्रदेश से हरी झंडी मिल गई थी। बताया जा रहा है 15 को अकाली और भाजपा के नेताओं के बीच सीटों को लेकर चर्चा होगी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना