दिल्ली / सुप्रीम कोर्ट का आदेश- बागियों पर आज ही करें फैसला, स्पीकर का जवाब- मुझे आदेश नहीं दें



Supreme Court order - decide on rebels today, answer Speaker - Do not order me
X
Supreme Court order - decide on rebels today, answer Speaker - Do not order me

  • देर शाम स्पीकर के सामने पेश हुए 10 बागी विधायक
  • स्पीकर को आज कोर्ट में पेश करनी होगी इस्तीफे की रिपोर्ट

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 03:50 AM IST

नई दिल्ली | कर्नाटक में सरकार बचाने-गिराने का सियासी ड्रामा गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में गूंजता रहा। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच ने बागी िवधायकों की याचिका पर सुनवाई करते हुए स्पीकर रमेश कुमार से कहा कि वह रात 12 बजे तक बागी विधायकों के इस्तीफों पर फैसला लें। फिर इसकी जानकारी शुक्रवार सुबह कोर्ट को दें। इसके चंद घंटों के बाद ही स्पीकर रमेश भी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए। उन्होंने अपनी याचिका में कहा कि कोर्ट को ऐसे आदेश देने का अधिकार नहीं है। हालांकि कोर्ट ने उनकी याचिका पर तुरंत सुनवाई से इनकार कर दिया। 

 

विधायकों की पेशी : शीर्ष कोर्ट के आदेश के बाद गुरुवार शाम बागी विधायक मुंबई से बेंगलुरू पहुंचे और कड़ी सुरक्षा के बीच स्पीकर से मिले। हालांकि स्पीकर ने उनके इस्तीफे स्वीकार नहीं किए। कहा- वे देखेंगे कि इस्तीफे किसी दबाव में तो नहीं दिए गए।
 

अब नजरें सुप्रीम कोर्ट पर :  16 बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार होते ही कांग्रेस-जेडीएस का आंकड़ा 100 पर सिमट जाएगा। सरकार गिर जाएगी। भाजपा और सहयोगियों का अांकड़ा 107 हो जाएगा। ऐसे में भाजपा फ्लोर टेस्ट का प्रस्ताव ला सकती है।

 

गाेवा : भाजपा में शामिल 10 कांग्रेसी विधायकों की दिल्ली परेड : कांग्रेस के 15 में से 10 विधायक बुधवार को भाजपा में शामिल हो गए थे। सभी विधायक गुरुवार को सीएम प्रमोद सावंत के साथ दिल्ली पहुंचे। वहां पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिले। 40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में अब भाजपा के 27, कांग्रेस के 5 व अन्य 8 विधायक हैं।

COMMENT