दिल्ली / वॉट्सएप पर दिया ट्रिपल तलाक, पति गिरफ्तार, अगले दिन जमानत पर रिहा



Triple divorce granted on WhatsApp, husband arrested, released on bail the next day
X
Triple divorce granted on WhatsApp, husband arrested, released on bail the next day

  • नया कानून बनने के बाद राजधानी दिल्ली में ट्रिपल तलाक का पहला मामला आया सामने

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2019, 05:29 AM IST

नई दिल्ली . केंद्र सरकार द्वारा ट्रिपल तलाक पर नए कानून बनाए जाने के बाद दिल्ली में शुक्रवार को तीन तलाक पहला मामला दर्ज हुआ किया गया। मामला उत्तरी दिल्ली के बाड़ा हिंदूराव इलाके का है। जहां एक महिला ने आरोप लगाया है कि उसके पति ने तीन तलाक कहकर मासूम बच्चे के साथ उसे घर से बाहर निकाल दिया। पीड़िता का आरोप है कि तलाक देने के बाद उसके भाई के वॉट्सएप नंबर पर तलाक हो जाने का फतवा भेज दिया गया। आरोप है कि ससुराल वालों ने उसका सारा सामान यहां तक उसका मेहर भी नही दिया।

 

परेशान होकर महिला ने पुलिस में शिकायत दी। डीसीपी नूपुर प्रसाद ने बताया कि पीड़िता की शिकायत पर द मुस्लिम वूमेन (प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स ऑन मैरेज) एक्ट-2019  सेक्शन 4 के तहत मामला दर्ज कर आरोपी पति आतिर शमीम को गिरफ्तार कर लिया गया। शनिवार को आतिर शमीम को जमानत मिल गई है।

 

शादी के 8 साल बाद दिया तलाक | पीड़िता रायमा याहिया (29) परिवार के साथ डी-14, वजीराबाद अपने मायके में रहती है। रायमा की शादी 24 नवंबर 2011 को नया मोहल्ला, पुल बंगश, आजाद मार्केट निवासी आतिर शमीम से हुई थी। रायमा का आरोप है कि शादी के बाद सब कुछ ठीक चला, लेकिन कुछ दिनों बाद ही उसे दहेज के लिए परेशान किया जाने लगा।

 

सास छोटी-छोटी बातों पर पीटती थी | 23 जून 2019 को रायमा ने बच्चे को जन्म दिया। इसके बाद उसकी परेशानी कम नही हुई। रायमा की सास और जेठानी छोटी-छोटी बातों पर पीटने लगीं। आतिर और उसका परिवार कारोबार में घाटा पूरा करने के लिए रायमा के पिता से रु. लाने की बात करता था। समाज के डर से पीडि़ता ने किसी को कुछ नही कहा।

 

तलाक की पुष्टि कराने के लिए आतिर ने रायमा के भाई के वॉट्सअप नंबर पर फतवा भेज दिया : रायमा ने बताया कि 26 जून 2019 को आतिर के परिवार ने उसे पत्नी को तलाक देने का जोर दिया। वह अपनी ससुराल में मौजूद थी, उसी दौरान पीडि़ता का पति आतिर उसके कमरे में पहुंचा और आरोपी ने पीडि़ता को तीन तलाक बोलकर घर से निकाल दिया। पीडि़ता का आरोप है कि उसे एक जोड़ी कपड़े भी नही ले जाने दिए गए। तलाक होने की पुष्टि कराने के लिए पति आतिर ने रायमा के भाई के वॉट्सअप नंबर पर फतवा भेज दिया। परेशान होकर पीडि़ता ने मामले की शिकायत बाड़ा हिन्दूराव थाना पुलिस को दी। छानबीन के बाद पुलिस ने शुक्रवार को मामला दर्ज कर आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया था, जिसके बाद उसे अगले दिन जमानत पर रिहा कर दिया।

 

कारोबार में घाटा होने पर पत्नी पर रु. लाने का दबाव बनाया : आरोपी आतिर की कमला नगर इलाके में चश्मे के कारोबार की एक दुकान है। इसी चश्मे के कारोबार में घाटा होने पर आरोपी आतिर ने पत्नी पर मायके से रुपए लाने के लिए दबाव बना रहा था। डिमांड न पूरी होने पर आतिर ने यह कदम उठाया। वहीं रायमा याहिया दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट है, जबकि पति आतिर 12वीं क्लास पास है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना