दिल्ली / ट्रेन के टॉयलेट में लिखे बेहूदा कमेंट्स पर बेटी को जवाब नहीं दे पाए तो खुद जुटे मिटाने में

Dainik Bhaskar

Jan 21, 2019, 02:38 AM IST


Uttam Singh removes dirty comments from public places
X
Uttam Singh removes dirty comments from public places
  • comment

  • 250 से ज्यादा ट्रेनों से हटा दिए ऐसै भद्दे कमेंट्स
  • उत्तम सिंह सार्वजनिक जगहों से भी हटाते हैं बेहूदा टिप्पणी

नई दिल्ली (अमित मिश्रा). झारखंड में धनबाद के उत्तम सिंह ने एक सामाजिक जिम्मेदारी निभाने की ठानी है। वे जब भी ट्रेन में सफर करते हैं, टॉयलेट में लिखे गए बेहूदा कमेंट्स को साफ करना नहीं भूलते।  ऐसा करने में उन्हें जरा भी संकोच नहीं होता। यही वजह है कि वे अब तक 250 से ज्यादा ट्रेनों में टाॅयलेट्स में लिखे भद्दे कमेंट साफ कर चुके हैं।

 

उत्तम बताते हैं कि एक साल पहले वे कोलफील्ड एक्सप्रेस से हावड़ा से धनबाद आ रहे थे। साथ में पत्नी अपर्णा और आठ साल की बेटी वर्षा भी थी। ट्रेन कुछ ही दूर चली थी कि बेटी ने टॉयलेट जाने के लिए कहा। बेटी जब टॉयलेट से बाहर आई तो कुछ अनमनी सी नजर आई।

 

मैंने जब उससे पूछा तो उसने टॉयलेट की दीवारों पर लिखे भद्दे कमेंट्स का अर्थ पूछा। मैं टालता गया, लेकिन उसके सवाल रुक नहीं रहे थे। मेरे पास जवाब नहीं थे। संकोच में था कि बेटी को क्या बोलूं। जैसे-तैसे बेटी को दूसरी बातों में लगाया और तय किया कि कुछ भी हो जाए, किसी और पिता के सामने ऐसी तस्वीर सामने नहीं आने दूंगा। तुरंत टॉयलेट के अंदर गया और दीवार में लिखे अश्लील वाक्य मिटा दिए। दरवाजा खुला था और कुछ लोग मुझे ऐसा करते देख रहे थे, लेकिन

मैंने संकोच नहीं किया और अपना काम पूरा किया।

 

उत्तम सिंह ने बताया कि वे अब अश्लील शब्दों को मिटाने के अलावा लोगों को जागरूक भी करते हैं कि ऐसी कोई बात इन दीवारों पर न लिखें, जिन्हें हम आपकी मां, बहन व घर के सदस्यों के सामने भी पढ़कर शर्मिंदा हों। वे अश्लील कमेंट मिटाने के बाद ट्रेन में पैंफ्लेट भी चिपकाते हैं,  जिस पर लिखा होता है- ‘स्टॉप राइटिंग, इस शौचालय का प्रयोग आपकी मां-बहन भी करेंगी।’

 

मुहिम को ट्रेन से निकाल पार्क तक पहुंचा दिया :
उत्तम सिंह मूल बिहार के हैं और धनबाद में कपड़े के कारोबारी हैं। उन्हें अक्सर बिजनेस के सिलसिले में कई शहरों में जाना पड़ता है। ट्रेनों में सफर के दौरान वे टॉयलेट चेक करना नहीं भूलते। उन्होंने अब इस मुहिम को ट्रेन से निकाल कर पार्क, सरकारी दफ्तर, बस स्टैंड और होटल के शौचालयों तक पहुंचाया है। वह इन जगहों से भी अश्लील टिप्पणियों को मिटाते हैं। 

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन