--Advertisement--

वारदात / पैरा अोलिंपिक मेडलिस्ट वरुण भाटी के चचेरे दादा-दादी की गला रेतकर हत्या



मृतक दंपती का फाइल फोटो। मृतक दंपती का फाइल फोटो।
X
मृतक दंपती का फाइल फोटो।मृतक दंपती का फाइल फोटो।
  • 11 फीट ऊंची बाउंड्री वॉल को फांदकर घर के अंदर घुसे बदमाश
  • ग्रेटर नोएडा के जमालपुर गांव में शुक्रवार देर रात हुई वारदात

Dainik Bhaskar

Oct 14, 2018, 04:45 AM IST

ग्रेटर नोएडा.  पैरा ओलिंपिक व पैरा एशियन गेम्स के मेडलिस्ट वरुण भाटी के चचेरे दादा व दादी की शुक्रवार देर रात गला रेतकर हत्या कर दी गई। दंपती बीते कुछ दिनों से ग्रेटर नोएडा के जमालपुर स्थित गांव में रहने के लिए दिल्ली से आए थे। बदमाश हत्या के बाद अलमारी तोड़कर ज्वैलरी व कैश भी लूटकर ले गए हैं। इस वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश 300 मीटर की दूरी पर दूसरे घर में पति-पत्नी को बेरहमी से मारपीट कर घायल कर दिया।

हालांकि, यहां लोगों को भनक लग गई तो बदमाश भाग निकले। पुलिस ने बावरिया गिरोह का हाथ होने की आशंका जताई है। एसएसपी डॉ. अजयपाल ने डबल मर्डर के पर्दाफाश के लिए पांच टीमें गठित की हैं। जकार्ता में चल रहे पैरा एशियन गेम्स में ऊंची कूद में सिल्वर मेडल जीतने वाले वरुण भाटी के सगे दादा के भाई आजाद उर्फ कालूराम (63) व उनकी पत्नी देववती (56) दोनों 3 अक्टूबर को ही दिल्ली से ग्रेटर नोएडा स्थित गांव आए थे। यहां वे अकेले ही रह रहे थे। दोनों पति-पत्नी अपने बेटे के साथ दिल्ली के खजूरी में रहते थे। करीब 3 साल पहले आजाद दिल्ली जल बोर्ड में कैशियर पद से रिटायर्ड हुए थे।

बावरिया गिरोह पर शक, ज्वैलरी और कैश लूटा, हत्या के बाद पूरा गांव बना छावनी

  1. पैरा एथलीट वरुण भाटी के चचेरे दादा-दादी की हत्या के बाद गांव में पुलिस तैनात है। पुलिस ने बताया कि घटना की रात पति-पत्नी घर के बरामदे में सो रहे थे। तभी घर में घुसे बदमाशों ने दोनों के सिर पर पहले भारी सामान या रॉड से हमला किया और फिर चाकू से गला रेत दिया, जिससे दोनों की मौत हो गई। हत्या करने के बाद अलमारी की चाबी लेकर उसे खोल कर कीमती सामान लूट लिए। पुलिस का कहना है कि घर में ये लोग कभी-कभार आते थे, लूटे हुए सामान के बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है। 5 से ज्यादा बदमाशों के शामिल होने और शुक्रवार रात 12 बजे के बाद अंजाम देने की आशंका जताई जा रही है। कालूराम के घर में 8 फीट ऊंचा गेट है। उसके बाद दीवार है। जांच में 3 लोगों के गेट पर चढ़कर उसके ऊपर की दीवार की ग्रिल को पकड़कर अंदर घुसने के निशान मिले हैं। अंदेशा है कि घर के बाहर खड़े 2 या इससे ज्यादा बदमाशों ने 3 बदमाशों को घर में एंट्री के लिए कंधे पर चढ़ाया होगा। इसके बाद बाहर खड़े दोनों बदमाश निगरानी करने में लग गए होंगे।

  2. 300 मीटर दूरी पर दूसरी वारदात की

    पति-पत्नी की हत्या व लूट के बाद बदमाश इनके घर से 300 मीटर दूर सुधीर के घर पहुंचे। यहां भी बदमाश बाउंड्री कूदकर अंदर घुसे। यहां बुजुर्ग महिला सो रहीं थीं। बदमाशों ने कमरे का दरवाजा बाहर से बंद कर बरामदे में सो रहे दंपती सुधीर व शोभा पर हमला कर दिया। उस समय 3 से 4 बजे थे तभी एक शख्स तबेले में आ रहा था। दूध के डिब्बे की आवाज सुनते ही बदमाश भाग निकले।

    घर में बिखरा सामान।

     

  3. बावरिया गैंग की तरह किया गया मर्डर

    जमालपुर में हुई दोनों घटनाओं में बदमाशों ने पहले दोनों परिवार के लोगों को आधे घंटे तक लाठी से पीटा और फिर धारदार हथियार से हमला किया। यह तरीका बावरिया गैंग की तरह है। गैंग के बदमाश घर के किसी शख्स पहले इतनी पिटतेे हैं कि वह अधमरा हो जाए और फिर धारदार हथियार से हमला कर सिर्फ सोना-चांदी और कैश लूटते हैं। इस घटना में ज्वैलरी और कैश लूटने की बात सामने आई है।

  4. 5 टीमें कर रही हैं हत्याकांड की जांच

    इस घटना में बावरिया गैंग से लेकर किसी विवाद या अन्य सभी एंगल को ध्यान में रखते हुए जांच की जा रही है। इसके लिए एसपी देहात व एसपी क्राइम के नेतृत्व में पुलिस की 5 टीमें गठित की गईं हैं। उम्मीद है जल्द ही बदमाशों को पकड़ लिया जाएगा। -डॉ. अजयपाल, एसएसपी

  5. उन्हें बाबा बुलाता था

    मैं जकार्ता में हूं। घटना की जानकारी मिली तो काफी दुख हुआ। मैं बचपन से उन्हें बाबा कहकर बुलाता था। - वरुण भाटी

    वरूण

     

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..