सीबीएसई / हेल्पलाइन नंबर के बाद अब सीबीएसई ट्विटर के जरिए कर रहा स्टूडेंट्स की काउंसलिंग

After helpline number, CBSE is now give counselling to students through Twitter
X
After helpline number, CBSE is now give counselling to students through Twitter

Dainik Bhaskar

Feb 10, 2020, 05:41 PM IST

एजुकेशन डेस्क. सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्ररी एजुकेशन (सीबीएसई) की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं इस साल 15 फरवरी से शुरू हो रही हैं। इन परीक्षाओं को सही तरीके से कराने के लिए बोर्ड ने इस बार कई तरह के इंतजाम किए हैं। इसके लिए सीबीएसई बोर्ड स्टूडेंट्स की काउंसलिंग भी कर रहा है, जो कि 30 मार्च तक चलेगी। 

टोल फ्री नंबर पर पूछें सवाल
स्टूडेंट्स काउंसलिंग के लिए टोल फ्री नंबर 1800 11 8004 पर सुबह के 8 बजे से रात के 10 बजे तक आईवीआरएस और टेलिफोन के जरिए अपने सवाल पूछ सकते हैं। इसके साथ ही सीबीएसई बोर्ड ट्विटर पर ऑडियो- वीडियो प्रजेंटेशन के जरिए भी बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों की काउंसलिंग कर रहा है। वीडियो के जरिए बोर्ड स्टूडेंट्स के सवालों के जवाब दे रहा है।


सीबीएसई के ट्वीटर हैंडस पर स्टूडेंट्स पूछ रहे सवाल 

सवाल- मैं दसवीं कक्षा में हूं और मुझे प्री बोर्ड में 76 प्रतिशत अंक प्राप्त हुए हैं, क्या इसका मतलब यह है कि मैं बोर्ड परीक्षा में 90 प्रतिशत अंक प्राप्त नहीं कर सकता हूं?
जवाब- आप उन टॉपिक्स और विषयों पर अधिक समय दें जो आपको कठिन लगते हैं।

सवाल- क्या इम्प्रूवमेंट परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए प्रैक्टिकल परीक्षा होगी? या वर्ष 2019 के उनके प्रैक्टिकल अंक माने जाएंगे? 
जवाब- साल 2019 में परीक्षा देने वाले छात्रों के प्रैक्टिकल अंक बोर्ड के पास उपलब्ध रिकार्ड से लिए जाएंगे। जबकि 2018 या उससे पहले के छात्रों को आनुपातिक अंक दिए जाएंगे।

सवाल- क्या मार्क्स वेरीफ़िकेशन या पुनर्मूल्यांकन की प्रोसेस के बाद अंक बढ़ या घट सकते हैं ?
जवाब- मार्क्स वेरीफ़िकेशन की प्रोसेस के बाद मिले नंबरों के अनुसार अंक बढ़ सकते हैं या कम हो सकते हैं, जिसे छात्रों कोस्वीकार करना होगा।

सवाल- क्या सीबीएसई विशिष्ट रूप से सक्षम अभ्यर्थियों को कोई छूट देती है ?
जवाब-जी हां, इसके लिए आप सीबीएसई वेबसाइट पर बोर्ड का परिपत्र 12 अप्रैल 2019 देखें।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना