UGC / डिस्टेंट लर्निंग मोड में कराए जाने वाले होटल मैनेजमेंट और रियल एस्टेट प्रोग्राम पाठ्यक्रम से हटेंगे

Hotel management and real estate program will no longer be in distance learning
X
Hotel management and real estate program will no longer be in distance learning

  • यूजीसी के नोटिस के अनुसार, कोई भी प्रोफेशनल कोर्स डिस्टेंस मोड में शामिल किया जा सकता

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 11:03 AM IST

एजुकेशन डेस्क. यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (यूजीसी) ने होटल मैनेजमेंट और रियल एस्टेट में डिस्टेंट लर्निंग प्रोग्राम को समाप्त करने के निर्देश दिए हैं। 2019-20 के अकैडमिक सेशन के बाद इन कोर्स को डिस्टेंट लर्निंग के पाठ्यक्रम से हटा दिया जाएगा। इसके अलावा पाठ्यक्रम में जितने भी एडमिशन पहले से हो चुके हैं उन्हें अमान्य नहीं घोषित किया गया है। ऑफिशियल के मुताबिक विभिन्न क्षेत्रों के रेगुलेटरी बॉडी से संचार स्थापित करने के बाद यह फैसला लिया गया है। 

यूजीसी के नोटिस के अनुसार, कोई भी प्रोफेशनल कोर्स डिस्टेंस मोड में शामिल किया जा सकता
2017 में यूजीसी ने ओपन एंड डिस्टेंट लर्निंग के नियम तय किए थे जिसमें मेडिकल, इंजीनियरिंग, आर्किटेक्चकर जैसे प्रोफेशनल कोर्स को डिस्टेंस मोड में नहीं शामिल करने से इंकार कर दिया था। जिसके बाद एग्रीकल्चर कोर्स को भी डिस्टेंस मोड से हटा दिया गया था। 

छात्रों की सुविधा के लिए  एग्रीकल्चर डिग्री प्रोग्राम को डिस्टेंट लर्निंग मोड में शामिल करने के लिए संस्थानों ने इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीक्लचर रिसर्च (आईसीएआर) से अनुरोध किया था। कमीशन ने मीटिंग में एडमिशन के समयसीमा को बढ़ाने का फैसला किया है। 

इस प्रकार होगा ओडीएल का प्रवेश कार्यक्रम

भारत में हर साल अगस्त-सितंबर तक बारिश का मौसम रहता है और अगस्त में कन्वेंशनल प्रोग्राम में प्रवेश होता है, इसलिए ओडीएल कार्यक्रमों में प्रवेश का कार्यक्रम इस प्रकार होगा - जनवरी में शुरू होने वाले शैक्षणिक सत्र के लिए फरवरी के आखिर तक प्रवेश प्रक्रिया चलेगी और फरवरी जुलाई में शुरू होने वाले सत्र के लिए प्रवेश प्रक्रिया सितंबर में समाप्त हो जाएगी, “यूजीसी के आदेश ने कहा।

 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना