CBSE / स्कूलों में लगेंगे नए राजनैतिक मानचित्र, सर्वेक्षण विभाग ने तैयार किया नक्शा

New political map will be installed in schools, survey department has prepared map
X
New political map will be installed in schools, survey department has prepared map

  • देश में अब केवल 28 ही राज्य, केंद्र शासित बढ़कर 9 हो गए

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2019, 04:06 PM IST
एजुकेशन डेस्क. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से संबद्ध स्कूलों में अब दो नए केंद्र शासित प्रदेश जम्मू व कश्मीर तथा लद्दाख को शामिल कर तैयार किए गए नए राजनैतिक मानचित्र लगेंगे। ये नक्शे भारत के सर्वेक्षण द्वारा तैयार किए गए हैं।

31 अक्टूबर 2019 के बाद से देश का राजनैतिक परिदृश्य बदल गया है। अब जम्मू व कश्मीर तथा लद्दाख दो अलग नए केंद्र शासित राज्य बन गए हैं। इसके चलते भारत के मानचित्र में भी बदलाव हुए हैं। सीबीएसई ने सभी स्कूल परिसरों में लगे पुराने नक्शों के स्थान पर इन नए मानचित्रों को लगाने के लिए कहा है।

सीबीएसई द्वारा सभी स्कूलों को अपने परिसर में सभी उद्देश्यों के लिए भारत के केवल नवीनतम राजनीतिक मानचित्र को प्रदर्शित करने और उपयोग करने की सलाह दी गई है। मानचित्र http://www.surveyofindia.gov.in पर उपलब्ध है, मानचित्र की आधिकारिक प्रतियां निदेशक, सर्वेक्षण (वायु), आरके पुरम, दिल्ली (ईमेल - [email protected]) के पास भी उपलब्ध हैं।

अब दो नए केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख बनने से बदलाव
साथ ही साथ उनके मानचित्र बिक्री कार्यालयों और देश भर में अधिकृत बिक्री एजेंटों के साथ। सीबीएसई ने स्कूल प्रशासन से शिक्षकों को सचेत करने और इस सलाह का पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा है। सर्वे ऑफ इंडिया ने यूनिवर्सल / ट्रांस वर्स मार्केटर (यूटीएम) ग्रिड के साथ नई शैक्षिक शृंखला के नक्शे तैयार किए हैं, जो छात्रों / अनुसंधान विद्वानों / नागरिकों द्वारा उपयोग के लिए प्रकाशित किए गए हैं। स्कूलों से यह भी अनुरोध किया गया है कि वे भूगोल / एटलस / मैप कार्य / किसी अन्य मानचित्र संबंधी शैक्षिक गतिविधि के लिए नवीनतम स्थलाकृतिक मानचित्र (ओएसएम) के अनुरूप तैयार किए गए इन शिक्षा शृंखला मानचित्रों का उपयोग करने पर विचार करें। ये नए शैक्षिक शृंखला मानचित्र देश भर में सर्वे ऑफ इंडिया के मानचित्र बिक्री कार्यालयों पर बिक्री के लिए उपलब्ध हैं।

सीबीएसई की यह कवायद इसलिए
जम्मू व कश्मीर का राज्य का दर्जा समाप्त होने के बाद अब देश में कुल 28 राज्य रह गए हैं, जबकि केंद्रशासित प्रदेशों की संख्या बढ़ कर 9 हो गई है। जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन विधेयक, 2019 के मुताबिक, दोनों केंद्रशासित प्रदेशों को 31 अक्तूबर से वजूद में आ गए हैं। यह पहली बार है, जब किसी राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटा गया है। इससे पहले ऐसे कई उदाहरण हैं, जब केंद्रशासित प्रदेश को पूर्ण राज्य बनाया गया या फिर एक राज्य को दो राज्यों में बांटा गया हो। सीबीएसई ने इसे देखते हुए ही स्कूलों को नए मानचित्र परिसर में लगाने के लिए कहा है। ताकि विद्यार्थियों और शिक्षकों को देश की सही स्थिति का ज्ञान होता रहे।
 
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना