वर्क-फ्रॉम-होम / ट्रैवल कंसल्टेंट, ऑनलाइन चैट एजेंट और वर्चुअल असिस्टेंट बन कर आप घर से कर सकती हैं काम

You can work from home by becoming a travel consultant, online chat agent and virtual assistant
X
You can work from home by becoming a travel consultant, online chat agent and virtual assistant

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 08:09 PM IST
एजुकेशन डेस्क. भारत में फ्रीलांस जॉब्स पसंद करने वालों की संख्या तेजी से बढ़ी है। इस साल टैलेंट कंपनी नोबेलहाउस के एक अध्ययन में 73 फीसदी लोगों ने माना कि उन्हें फुल टाइम से ज्यादा फ्रीलांस जॉब पसंद हैं। अर्नेस्ट एंड यंग की रिपोर्ट ‘फ्यूचर ऑफ जॉब्स इन इंडिया’ के भी मुताबिक 24 फीसदी फ्रीलांस वर्कर भारत से हैं। अब कई तरह के वर्क-फ्रॉम-होम और फ्रीलांस जॉब्स उपलब्ध हैं। इन्हीं में से कस्टमर सर्विस से जुड़ी नौकरियां भी हैं। , gharsenaukri.com की डिजिटल कंटेंट हेड रूमानी सैकिया फुकन बता रही हैं ऐसी ही नौकरियों के विकल्पों के बारे में, जिन्हें आप घर से ही कर सकती हैं।

हॉलीडे/ट्रैवल कंसल्टेंट

  1. एक हॉलीडे कंसल्टेंट को क्लाइंट्स की ट्रैवल और छुटि्टयों से जुड़ी चीजों में मदद करनी होती है। इसमें वैकेशन प्लान करने, बुकिंग करने, ट्रेन/प्लेन का टिकट बुक करने में मदद करना, पर्यटन स्थल पर घूमने (साइट-सीइंग) आदि की व्यवस्था करना शामिल होता है। यह सारे काम आप फोन पर घर
    बैठे ही कर सकती हैं। इसके लिए कई कंपनियां ट्रेनिंग देती हैं और ऑनलाइन कोर्स भी उपलब्ध हैं। कोर्स न भी किया हो तो अच्छा कम्युनिकेशन स्किल और इंटरनेट की अच्छी जानकारी होना आवश्यक है। इसमें सैलरीड और कमीशन बेस्ड, दोनों तरह के जॉब्स मिल सकते हैं।

  2. ऑनलाइन चैट एजेंट/रिप्रेजेंटेटिव

    यह उनके लिए अच्छा विकल्प हैं जो घर पर फोन आधारित जॉब नहीं करना चाहतीं। ऑनलाइन चैट एजेंट के जॉब में क्लाइंट्स को सपोर्ट प्रदान करना, बिल संबंधी प्रश्नों का जवाब देना, ई-मेल, टेक्स्ट और चैट के माध्यम से प्रोडक्ट्स बेचना शामिल होता है। जो भी कंपनियां यह नौकरी देती हैं, वे इससे जरूरी ट्रेनिंग भी देती हैं। यह एक प्रकार से कॉल सेंटर जैसा ही जॉब है, लेकिन इसे आप घर से कर सकती हैं। तमाम जॉब वेबसाइट्स पर इस तरह के जॉब मिल जाते हैं।

  3. वर्चुअल असिस्टेंट

    यह कस्टमर सर्विस में बहुत स्पेशलाइज्ड जॉब होता है। एक वर्चुअल असिस्टेंट अपने क्लाइंट की अलग-अलग तरह के टास्क को पूरा करने में मदद करता है। इसमें मीटिंग शेड्यूल करना, क्लाइंट्स और इंवेस्टर से बात करना, ऑर्डर्स के बारे में पता करना, पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन और एक्सलशीट डॉक्यूमेंट्स बनाना, ब्लॉग या वेबसाइट या सोशल मीडिया एकाउंट मेंटेन करना आदि शामिल होता है। यानी यह इस तरह के काम होते हैं जिन्हें बिजनेस करने वाले क्लाइंट्स अपनी व्यस्तता के चलते नहीं कर पाते हैं। इस जॉब के लिए भी अच्छा कम्यूनिकेशन स्किल और एमएस ऑफिस (वर्ड, एक्सेल आदि) पर काम करने की दक्षता जरूरी है।

  4. टेक्निकल सपोर्ट

    अब कई कंपनियां टेक्निकल सपोर्ट वाली नौकरियां भी घर से करने का विकल्प देती हैं। इसमें आपको किसी कॉल सेंटर में काम करने वाली दक्षता चाहिए होगी, जिसमें अच्छा कम्यूनिकेशन, आवाज में स्पष्टता, धैर्य पूर्वक क्लाइंट्स से बात करना शामिल है। बेशक टेक्निकल स्किल भी जरूरी हैं। आपको कंपनियां भी अपने प्रोडक्ट से जुड़ी सारी टेक्निकल जानकारियां और अन्य जरूरी जानकारियां प्रदान करती हैं, जिसे आपको ग्राहकों के साथ साझा करना होता है।

    यहां मिलेंगे ये जॉब्स: सभी जॉब वेबसाइट पर ऐसे फ्रीलांस जॉब मिल जाते हैं। इसमें gharsenaukri.com के अलावा naukri.com, freelancer.in, upwork.in आदि शामिल हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना