• अन्य शहर
--Advertisement--

फोटो स्टोरी /वसुंधरा ने खेत में खाई प्याज-रोटी, 2013 की वोटिंग के दिन भी ऐसा ही किया था



मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे शुक्रवार को मतदान करने के बाद झालावाड़ जिले के पिड़ावा गांव पहुंचीं। खेत में खाट पर बैठकर प्याज-रोटी-दही खाया। ठीक ऐसा ही उन्होंने 2013 के मतदान के दिन किया था। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे शुक्रवार को मतदान करने के बाद झालावाड़ जिले के पिड़ावा गांव पहुंचीं। खेत में खाट पर बैठकर प्याज-रोटी-दही खाया। ठीक ऐसा ही उन्होंने 2013 के मतदान के दिन किया था।
X
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे शुक्रवार को मतदान करने के बाद झालावाड़ जिले के पिड़ावा गांव पहुंचीं। खेत में खाट पर बैठकर प्याज-रोटी-दही खाया। ठीक ऐसा ही उन्होंने 2013 के मतदान के दिन किया था।मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे शुक्रवार को मतदान करने के बाद झालावाड़ जिले के पिड़ावा गांव पहुंचीं। खेत में खाट पर बैठकर प्याज-रोटी-दही खाया। ठीक ऐसा ही उन्होंने 2013 के मतदान के दिन किया था।

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 08:39 AM IST

झालावाड़.  राजस्थान विधानसभा की 199 सीटों के लिए शुक्रवार को मतदान हुआ। राज्य में 74.08% वोटिंग हुई। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने झालावाड़ जिले के झालरापटन में वोट डाला। इसके बाद वे झालावाड़ के पिड़ावा में खेत में पहुंचीं और प्याज-रोटी-दही खाया।

 

ठीक ऐसा ही उन्होंने 1 दिसंबर 2013 में मतदान के दिन किया था। खेत में बैठकर प्याज और रोटी खाई थी। संयोग से उन्होंने दोनों बार ऐसी साड़ी पहनी जिसका पैटर्न एक सा है।

  • राजस्थान : एक वोट की कीमत

    राजस्थान : एक वोट की कीमत

    नाथद्वारा. यह तस्वीर कांग्रेस नेता और नाथद्वारा सीट से प्रत्याशी सीपी जोशी और उनकी पत्नी हेमलता की है। इस बार वे पत्नी को साथ लेकर वोट डालने गए। वे 2008 विधानसभा का चुनाव एक वोट से हार गए थे। तब हेमलता ने वोट नहीं किया था। 2008 में उन्हें 62,215 वोट मिले थे, जबकि भाजपा के कल्याण सिंह चौहान को 62,216 वोट मिले थे।

  • राजस्थान : बुजुर्ग को सिर पर बिठाकर वोट डलवाने पहुंचा गांव

    राजस्थान : बुजुर्ग को सिर पर बिठाकर वोट डलवाने पहुंचा गांव

    बांसवाड़ा. फोटो बांसवाड़ा की है। लोकतंत्र की ताकत दिखाने वाली सबसे सुखद तस्वीर। यहां लक्ष्मीपुरा गांव में 90 साल के नाथू दादा को पूरा गांव सिर पर बिठाकर वोट डलवाने के लिए लेकर गया। जश्न किसी बारात से कम नहीं था। ढोल-थाली से पूरा गांव गूंज रहा था

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..