पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Election 2021
  • Narendra Modi Live Update | PM Modi In West Bengal, PM Modi In Siliguri, PM Modi In Krishnanagar, Narendra Modi Live, Prime Minister Narendra Modi Live, West Bengal Assembly Election 2021, Assam Assembly Election 2021

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बंगाल में वोटिंग के बीच मोदी की रैली:कृष्णानगर में PM बोले- बनारस की बात ऐसे ही नहीं आई, चुनाव हारकर दीदी यहां से एग्जिट हो जाएंगी

कोलकाताएक महीने पहले

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के चौथे चरण की वोटिंग के बीच PM नरेंद्र मोदी शनिवार को पश्चिम बंगाल के कृष्णानगर में रैली की। उन्होंने कहा कि दीदी इस बार अपने लिए नहीं बल्कि भाइपो के लिए बड़े सपने देखकर सारी व्यूह रचना बना रही हैं। हार तय देखकर दीदी ने बंगाल से बाहर राजनीति करने का फैसला कर लिया है। बनारस वाली बात ऐसे ही नहीं उछाली गई है। चुनाव के बाद दीदी एग्जिट हो जाएंगी, भाइपो नया दांव लगाएगा। यह भी एक खेला है।

कुछ दिन पहले TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा था कि दीदी दूसरी सीट से चुनाव लड़ेंगी और वह सीट बनारस होगी। महुआ ने यह बात PM मोदी को जवाब देने के लिए ही कही थी। मोदी ने कहा था कि सुना है दीदी दूसरी सीट से चुनाव लड़ने का सोच रही हैं।

गुंडागर्दी से निकलकर समृद्धि की तरफ बढ़ेगा बंगाल
मोदी ने कहा कि बरसों के रक्तपात, भय, अत्याचार गुंडागर्दी से बाहर निकलकर अब बंगाल शांति और समृद्धि की ओर बढ़ेगा। सोनार बांग्ला का संकल्प पूरा करेगा। यह पवित्र धरा अब घुसपैठ से मुक्त होगी। होरीचंद्र ठाकुर के प्रति आस्था रखने वालों का सम्मान बीजेपी के बंगाल में होगा। अब अभाव पीछे छूटेगा। आकांक्षी बंगाल का उदय होगा। मोदी ने भीड़ से कहा कि नौजवानों आपका उत्साह मेरे सर आंखों पर है।

परेशानी सुरक्षाबल नहीं, बल्कि दीदी की हिंसक राजनीति है
अपनी हार देखकर दीदी और TMC ने हिंसा की कोशिश शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि अब बंगाल आपसे उम्मीद छोड़ चुका है। दीदी, आप माताओं-बहनों के आंसू गिरने की वजह बन गई हैं। 4 राज्यों में मतदान हुआ है, कोई दिक्कत नहीं हुई। उन्होंने ममता बनर्जी को निशाना बनाते हुए कहा कि दीदी समस्या सुरक्षाबल नहीं है। समस्या आपकी हिंसक राजनीति है।

कूचबिहार की हिंसा पर दुख जताया
इससे पहले सिलीगुड़ी पहुंचे मोदी ने कूचबिहार में हुई हिंसा पर दुख जाहिर करते हुए हिंसा में मरने वालों के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने कहा कि दीदी, TMC और उनके गुंडों के मंसूबे कामयाब नहीं होंगे। प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि ममता बनर्जी लोगों को सिक्युरिटी फोर्स पर हमले के लिए उकसा रही हैं, लेकिन इन सब से वो बच नहीं पाएंगी। 10 साल के शासन का हिसाब ममता बनर्जी को देना होगा।

दीदी के करीबी ने SC समुदाय का अपमान किया
मोदी ने कहा कि एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। लोग इसे देखकर चौक गए हैं। वीडियो में दीदी के करीबी ने SC समुदाय का अपमान किया है। वो कह रहे हैं, बंगाल के SC भिखारियों की तरह व्यवहार करते हैं। दीदी, इतना अहंकार। मेरे भाइयों, बहनों और उनके बच्चों के साथ आपकी पार्टी और नेता इतनी नफरत करते हैं। दीदी और उनके साथियों का यही असली चेहरा है।

सिंडीकेट मुक्त बंगाल बनाएगी BJP
बंगाल से निकलीं संतानों ने साहित्य से लेकर सेना तक सभी को मजबूत किया है। उन्हीं की प्रेरणा से बंगाल आशोल परिवर्तन के लिए प्रेरित हुआ है। दीदी ने जिन्हें दबा रखा था, उन्हें अब आशोल परिवर्तन चाहिए। भाजपा की सरकार में सुनवाई होगी, न्याय होगा। भाजपा की सरकार में प्रशासन जनता के लिए काम करेगा। पुलिस जनता को न्याय दिलाएगी। बंगाल में दशकों से जिस तरह का राजनीतिक वातावरण बना दिया गया है, उसे बदलने का समय आ गया है। अब तोलाबाज मुक्त, कटमनी मुक्त और सिंडीकेट मुक्त बंगाल बनेगा।

सुरक्षाबलों के खिलाफ लोगों को भड़का रहीं दीदी
मोदी ने कहा कि अपनी हार सामने देख, दीदी का गुस्सा मुझ पर बढ़ता जा रहा है। उनहें 10 साल तक गरीबों को सताने वाले गुंडों पर, हत्यारों पर, लुटेरे तोलाबाजों पर गुस्सा नहीं आया। लेकिन उन सुरक्षाबलों पर गुस्सा आ गया, जो बंगाल के लोगों के अधिकार की रक्षा कर रहे हैं। एक राज्य की मुख्यमंत्री 10 साल सत्ता में रहने के बाद सिखा रही हैं कि कैसे सुरक्षा बलों का घेराव करना है। कैसे उन पर हमला करना है। देश के बहादुर सुरक्षा बल आतंकियों और नक्सलियों से नहीं डरते, तो क्या वे आपके पाले गुंडों से डर जाएंगे? केंद्र सरकार ने लॉकडाउन के समय केंद्र ने जो मुफ्त चावल और चना भेजा था, उसे तृणमूल के तोलाबाजों ने पार कर दिया।

ममता ने स्वीकारा, उनके लोग तोलाबाजी करते हैं
मोदी ने कहा कि सिलीगुड़ी में ही दीदी ने कहा था कि उनके तोलाबाज तो सिर्फ 200, 300 या 500 रुपए लेते हैं, इसमें क्या बड़ी बात है। इसके लिए एक कथा मैंने बचपन में सुनी थी। कथा में एक बहुत बड़े लुटेरे को फांसी हुई। अंतिम इच्छा पूछने पर उसने कहा कि मां से मिलना है। सरकार ने कहा कि मां से मिलवाया जाए। मां से मिलने के बाद उसने उन्हें गले लगाया और मां की नाक पर काट लिया। उससे पूछा गया कि ऐसा तुमने क्यों किया। उसने बताया कि जब मैं छोटी चोरी करता था, उस दिन अगर मेरी मां ने मुऐ रोका होता तो ये नौबत नहीं आती।

कैमरे के सामने TMC विधायक कर हे गुंडागर्दी
जैसे-जैसे चुनाव आगे बढ़ रहा है, दीदी की बौखलाहट बढ़ते जा रही है। मैंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो देखा कि उनके मंत्री और पास के विधायक कह रहे हैं कि अगर भाजपा को वोट दिया तो आपको उठाकर बाहर फेंक दिया जाएगा। क्या बंगाल की जनता को ये मंजूर है। लोकतंत्र और कानून का राज होने के बाद भी दीदी के मंत्री कैमरे के सामने खुलेआम गुंडागर्दी कर रहे हैं। दीदी के 10 साल के राज की यही सच्चाई है।

बंगाल के लोगों की भाग्य विधाता नहीं हैं दीदी
बंगाल के लोग यहीं रहेंगे। अगर किसी को जाना है, तो सरकार से आपको जाना पड़ेगा। दीदी आप बंगाल के लोगों की भाग्य विधाता नहीं हैं। बंगाल के लोग आपकी जागीर नहीं हैं। इसलिए बंगाल के लोगों ने तय कर लिया है कि आपको जाना ही होगा।

यह बंगाल ने ठान लिया है। बंगाल की जनता आपको निकाल कर ही दम लेगी। आप अकेली नहीं जाएंगी, आपके पूरे गिरोह को ये जनता हटाकर रहेगी। आपके साथ-साथ ये टोलाबाज भी जाएंगे, सिंडिकेट भी जाएंगे। आपके साथ-साथ नॉर्थ बंगाल के साथ भेदभाव करने वाली नीति भी बाहर जाएगी। आपके साथ तुष्टिकरण की राजनीति भी बाहर जाएगी।

बंगाल में 4 फेज और बाकी
पश्चिम बंगाल की 294 सीटों पर इस बार 8 फेज में वोटिंग होनी है। पहले फेज में 27 मार्च को 30 सीट, 1 अप्रैल को दूसरे फेज में 30 सीट और तीसरे फेज में 6 अप्रैल को 31 सीटों पर मतदान हो चुका है। आज (10 अप्रैल) 44 सीटों पर वोटिंग हो रही है। इसके बाद 17 अप्रैल को पांचवे चरण के तहत 45 सीट, 22 अप्रैल को छठवें चरण में 43 सीट, सातवें चरण में 26 अप्रैल को 36 सीट और 29 अप्रैल को आठवें चरण में 35 सीटों पर वोटिंग होनी है। काउंटिंग 2 मई को होगी।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

और पढ़ें