पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Election 2021
  • West bengal
  • Shubhendu Adhikari Is Openly Playing Hindu Cards Here; Now Mamta Banerjee Will Camp Here Till The Voting, People Say Whoever Won The Nandigram Will Belong To Bengal

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब सबकी निगाहें नंदीग्राम पर:शुभेंदु यहां खुलकर हिंदू कार्ड खेल रहे हैं; ममता वोटिंग तक यहीं कैंप करेंगीं, लोग कहते हैं - जो नंदीग्राम जीता बंगाल उसी का होगा

नंदीग्रामएक महीने पहलेलेखक: विशाल पाटडिया
  • कॉपी लिंक
दूसरे चरण में नंदीग्राम में एक अप्रैल को वोटिंग होनी है। इस बार यहां से ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी आमने-सामने हैं। - Dainik Bhaskar
दूसरे चरण में नंदीग्राम में एक अप्रैल को वोटिंग होनी है। इस बार यहां से ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी आमने-सामने हैं।

बंगाल में फर्स्ट फेज की वोटिंग के बाद अब सभी की नजरें हाई प्रोफाइल बैटलग्राउंड नंदीग्राम पर लगी हैं। BJP कैंडिडेट शुभेंदु अधिकारी कई दिनों से नंदीग्राम में ही डटे हैं। वहीं TMC उम्मीदवार और CM ममता बनर्जी ने भी अगले पांच दिनों तक नंदीग्राम में ही कैंप करने का फैसला किया है। शुभेंदु जहां हिंदू कार्ड खेल रहे हैं वहीं ममता अपने विकास कार्यों पर फोकस करके प्रचार कर रही हैं। उन्हें यहां की 30% मुस्लिम आबादी पर भरोसा है। ममता को उम्मीद है कि ये वोट उन्हें ही मिलेंगे। 2016 में शुभेंदु ने ये सीट TMC के टिकट पर 68 हजार से अधिक मतों से जीती थी।

अदालत और चुनाव आयोग में नेताओं का झगड़ा

ममता बनर्जी ने भी चुनाव प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी हैं। जगह-जगह उनके पोस्टर, बैनर नजर आ रहे हैं।
ममता बनर्जी ने भी चुनाव प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी हैं। जगह-जगह उनके पोस्टर, बैनर नजर आ रहे हैं।

मतदान में अब कुछ ही दिन ही बाकी हैं। BJP और TMC दोनों ही यहां के बड़े स्थानीय नेताओं सूफियान शेख, अबु ताहेर और मेघनाथ पाल को मुद्दा बनाकर लड़ रही हैं। एक समय तीनों ही शुभेंदु के खास थे। अब ताहेर और शेख दीदी के साथ हैं जबकि पाल ने शुभेंदु का दामन थामा है। शेख दीदी के इलेक्शन एजेंट हैं जबकि पाल शुभेंदु के एजेंट हैं। हाल ही में कोर्ट में एक याचिका दायर कर शेख और ताहेर के खिलाफ चल रहे मुकदमों की फिर से जांच की मांग की गई है। दूसरी तरफ TMC ने मेघनाथ पाल के खिलाफ इलेक्शन कमीशन में शिकायत की है। आरोप लगाया गया है कि शुभेंदु के गुंडे पाल के घर में छुपे हैं। इन तीनों ही नेताओं का नंदीग्राम में खासा प्रभाव है।

विकास और सांप्रदायिकता के बीच बंटे लोग

BJP के निशान वाली भगवा रंग की साड़ी पहने महिलाएं। तस्वीर हाल ही में नंदीग्राम में आयोजित मातृ शक्ति सम्मेलन की है।
BJP के निशान वाली भगवा रंग की साड़ी पहने महिलाएं। तस्वीर हाल ही में नंदीग्राम में आयोजित मातृ शक्ति सम्मेलन की है।

जब भास्कर ने यहां के लोगों से बात की तो TMC और BJP को लेकर उनकी राय विकास और सांप्रदायिकता के आधार पर बंटी दिखी। स्थानीय कारोबारी मधुसूदन साहू कहते हैं, 'दीदी मुसलमानों के साथ फुटबॉल खेल रही हैं क्योंकि वो केंद्र सरकार की सभी स्कीमों को अपने नाम पर कर रही हैं। उन्होंने यहां अस्पताल तो खोला, लेकिन उसमें सुविधाएं नहीं दीं। सिर्फ नंदीग्राम ही नहीं बल्कि समूचे बंगाल को डेवलपमेंट के लिए BJP की जरूरत है।'

स्थानीय नागरिक नजमुल शेख कहते हैं, 'दीदी ने अस्पताल, सड़कें और स्कूल बनवाएं हैं। उन्होंने कन्याश्री और स्वास्थ्य साथी जैसी स्कीम चलाई हैं। सभी काम शुभेंदु ने ही किए हैं, लेकिन दीदी ने ही उन्हें ये काम करने की खुली छूट दी थी। शुभेंदु सिर्फ हिंदुओं के ही वोट मांग रहे हैं, लेकिन बहुत से हिंदू भी तो दीदी का काम पसंद करते हैं।'

यहां खेतों में भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी के कटआउट्स दिख रहे हैं।
यहां खेतों में भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी के कटआउट्स दिख रहे हैं।

हिंदू-मुसलमानों की बात से अहसज हैं लोग

इस बार चुनाव में अलग क्या है? इस सवाल पर एक स्थानीय बुजुर्ग कहते हैं, 'ये पहली बार है जब नंदीग्राम में लोग हिंदू-मुसलमान की बातें कर रहे हैं। हमने साझा रसोई में खाना खाकर नंदीग्राम का संघर्ष किया था। ये नंदीग्राम का चरित्र नहीं है। BJP ये चरित्र यहां लेकर आई है। बहुत से लोगों को ये स्वीकार नहीं है क्योंकि वे दो समुदायों के बीच तनाव से अहसज महसूस करते हैं।'

बहुत खर्च कर रहे हैं शुभेंदु

नंदीग्राम में शुभेंदु के बड़े-बड़े पोस्टर और कटआउट दिखाई देते हैं। BJP के निशान वाली भगवा रंग की साड़ी पहने महिलाएं भी दिखती हैं। एक स्थानीय नेता कहते हैं, 'शुभेंदु इस बार बहुत खर्च कर रहे हैं क्योंकि वो अपनी साख बचाने के लिए बेचैन हैं। यदि वो यहां कामयाब रहते हैं तो दीदी के लिए बंगाल जीतना मुश्किल हो जाएगा। यदि शुभेंदु यहां हारते हैं तो दीदी बंगाल में निश्चित तौर पर जीतेंगी। इस बार दोनों ही पक्ष चुनावी प्रक्रिया पर आरोप लगाएंगे और विवाद करेंगे।'

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

और पढ़ें