दिल्ली चुनाव / विपक्ष से शामिल हुए 9 लोगों को टिकट, 5 उम्मीदवार ऐसे जिन्होंने महज 36 घंटे पहले आप का दामन थामा

आप ने 15 मौजूदा विधायकों के नाम काटकर नए उम्मीदवारों को मौका दिया है। आप ने 15 मौजूदा विधायकों के नाम काटकर नए उम्मीदवारों को मौका दिया है।
X
आप ने 15 मौजूदा विधायकों के नाम काटकर नए उम्मीदवारों को मौका दिया है।आप ने 15 मौजूदा विधायकों के नाम काटकर नए उम्मीदवारों को मौका दिया है।

  • लोकसभा चुनाव हारे तीन प्रत्याशी अब विधानसभा चुनाव में आजमाएंगे किस्मत
  • शोएब इकबाल, प्रह्लाद साहनी और महाबल मिश्रा के बेटे विनय को भी टिकट मिला

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 11:02 AM IST

नई दिल्ली (आनंद पवार). आम आदमी पार्टी ने 15 मौजूदा विधायकों के नाम काटकर जिन नए उम्मीदवारों को जगह दी है, उनमें 9 विपक्षी पार्टियों से आप में शामिल होने वाले लोग हैं। खास बात तो यह है कि 36 घंटे पहले पार्टी ज्वाइन करने वाले सभी पांच उम्मीदवारों को मौका दिया गया है।

इसमें बदरपुर विधानसभा से कांग्रेस के राम सिंह नेताजी, द्वारका से कांग्रेस के पूर्व सांसद महाबल मिश्रा के बेटे विनय, हरीनगर से कांग्रेस की पूर्व निगम पार्षद रही राजकुमारी ढिल्लों, गांधी नगर से कांग्रेस से जुडे़ और समाजसेवी नवीन चौधरी उर्फ दीपू और बवाना से बसपा पार्टी के रोहिणी से पार्षद जय भगवान उपकार है। वहीं कांग्रेस से धनवती चंदीला, शोएब इकबाल, प्रह्लाद साहनी और बीएसपी से चौधरी सुरेंदर कुमार है। यह पहले गोकलपुरी से पहले विधायक रहे है।

लोकसभा चुनाव हारे तीन प्रत्याशियों को टिकट

पार्टी ने पिछला लोकसभा चुनाव हारे तीन प्रत्याशियों को भी उम्मीदवार बनाया है। इसमें पूर्वी दिल्ली से लोकसभा की प्रत्याशी रही आतिशी को कालकाजी, साउथ दिल्ली से प्रत्याशी रहे राघव चड्‌ढा को राजेन्द्र नगर और उत्तर-पूर्वी दिल्ली से प्रत्याशी रहे दिलीप पांडे को तिमारपुर से पार्टी ने उम्मीदवार बनाया है।

सर्वे के आधार पर दिए गए टिकट

आप पीएसी मेंबर दुर्गेश पाठक ने भास्कर से कहा कि पार्टी ने कामकाज का सर्वे कराया था। टिकट काटे जाने पर इसमे कमी के बाद टिकट काटे गए है। पार्टी में चुनाव ही लड़ना सबकुछ नहीं होता। संगठन में भी कई जिम्मेदारी होती है। सभी साथियों से बात की जाएगी। कोई नाराज नहीं होगा। हालांकि मुंडका के विधायक सुखबीर दलाल ने कहा कि पार्टी का कामकाज के प्रदर्शन पर टिकट काटने का दावा गलत है।

सीएए के हिंसा विरोधी आरोपी को टिकट 

आम आदमी पार्टी के चौहान बांगर से पार्षद अब्दुल रहमान को सीलमपुर से टिकट दिया गया है। उन पर सीलमपुर में हुई सीएए के विरोध में 17 दिसंबर को हुई हिंसा में एफआईआर दर्ज की गई है। रहमान ने प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व किया था। 

पार्टी से बगावत करने वालों को बाहर का रास्ता
तिमारपुर विधानसभा क्षेत्र से आप के मौजूदा विधायक विधायक पंकज पुष्कर का टिकट कट गया है। पंकज पुष्कर पार्टी से बगावत कर वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण के पार्टी छोड़ने पर उनके साथ चले गए थे और स्वराज इंडिया पार्टी के गठन में शामिल थे। उन्होंने मुखर्जी में पानी की किल्लत को लेकर भी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन की अगुवाई की थी। हालांकि कुछ समय बाद पुष्कर ने दोबारा पार्टी में सक्रिय हो गए थे। उनका पार्टी ने टिकट काट दिया है। मटिया महल से विधायक आसिम अहमद खान को जब मंत्री पद से एक ऑडियो स्टिंग सामने आने पर हटाया गया था, तब अरविंद केजरीवाल व पार्टी के खिलाफ बगावत की थी।

लालबहादुर शास्त्री के पोते आदर्श शास्त्री का भी टिकट कटा 
पार्टी ने द्वारका से पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री के पोटे आदर्श शास्त्री को भी टिकट काट दिया है। इसका कारण क्षेत्र में उनकी सक्रियता कम बताई जा रही है। यहां से विनय कुमार मिश्रा को टिकट दिया गया।

फर्जी डिग्री का धब्बा, फिर भी टिकट 
त्रिनगर विधानसभा क्षेत्र से पार्टी ने जितेन्द्र ताेेमर को दोबारा टिकट दिया है। तोमर पर फर्जी डिग्री का आरोप लगा। उस समय पार्टी ने उनसे मंत्री पद छिन लिया था। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की नजदीकी ने उनको दोबारा टिकट दिला दिया। 

8 महिलाओं को पार्टी ने उम्मीदवार बनाया 
मंगोलपुरी से राखी बिड़लान, शालीमार बाग से वंदना कुमारी, पालम से भावना गौर, राजौरी गार्डन से दमयंती चंदेला, हरिनगर से राजकुमारी ढिल्लन, आरके पुरम से प्रमिला टोकस, कालकाजी से आतिशी, रोहताश नगर से सरिता सिंह।

निगम के मौजूदा पार्षदों को विधानसभा का टिकट 
पार्षद जय भगवान उपकार को बवाना, चौहान बांगर से पार्षद अब्दुल रहमान को सीलमपुर, हाजी यूनुस को मुस्तफाबाद, कल्याणपुरी से पार्षद कुलदीप कुमार को कोंडली और त्रिलाकपुरी ईस्ट से रोहित कुमार महरौलिया को त्रिलोकपुरी से टिकट दिया।

हमारे पास पर्याप्त समय है: भाजपा 
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा- भाजपा में उम्मीदवारों के टिकट वितरण के लिए लंबी प्रकियाओं से गुजरना पड़ता है। अंतिम निर्णय पार्लियामेंट्री बोर्ड लेती है। हमारे पास पर्याप्त टाइम है। 7-18 जनवरी तक पहली सूची आ सकती है। केजरीवाल के खिलाफ मंैने लड़ने की इच्छा जता दी है। - मनोज तिवारी,

17 तक सूची जारी करेंगे : कांग्रेस
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने कहा- आप समझ सकते हैं कि अरविंद केजरीवाल कैसे सरकार चला रहे थे कि 24 सीटों पर नए आदमी को मौका देना पड़ा। यहां विधायक डमी हैं। त्रिमूर्ति सरकार चलती है। हमारी अपनी व्यवस्था है, दो-तीन दिन में हम भी सूची जारी करेंगे।

15 मौजूदा विधायकों के टिकट काटे गए

पार्टी की तरफ से टिकट देने के लिए काम के आधार पर टिकट देने की बात कही थी। जिसके लिए पार्टी की तरफ से सर्वे कराया गया था। इसके आधार पर पार्टी की तरफ से मौजूदा विधायकों के टिकट काटने की बात कहीं जा रही है।

  • तिमारपुर से पंकज पुष्कर की जगह दिलीप पांडे।  
  • बवाना से रामचंद्र की जगह जय भगवान उपकार। 
  • मुंडका से सुखबीर दलाल की जगह धर्मपाल लाकड़ा।  
  • पटेल नगर से हजारीलाल चौहान की जगह राजकुमार आनंद।  
  • हरी नगर से जगदीप सिंह की जगह राजकुमारी ढिल्लों।  
  • द्वारका से आदर्श शास्त्री की जगह विनय मिश्रा।  
  • दिल्ली कैंट से कमांडो सुरेंद्र की जगह वीरेंन्द्र सिंह कादियान।  
  • राजेन्द्र नगर से विजेंद्र गर्ग की जगह राघव चड्‌ढा।  
  • कालकाजी से अवतार सिंह की जगह आतिशी।  
  • बदरपुर से नाराय दत्त शर्मा की जगह राम सिंह नेताजी।  
  • त्रिलोकपुरी से राजू धिंगान की जगह रोहित कुमार महरौलिया।  
  • कोंडली से मनोज कुमार की जगह कुलदीप कुमार।  
  • सीलमपुर से हाजी इशराक की जगह अब्दुल रहमान। 
  • गोकुलपुर से चौधरी फतेह सिंह की जगह चौधरी सुरंद्र कुमार।  
  • मटिया महल से आसिम अहमद खान की जगह शोएब इकबाल को टिकट दिया।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना