दिल्ली / घूस लेते पकड़े गए डिप्टी सीएम सिसोदिया के ओएसडी के दफ्तर पर सीबीआई का छापा, बिचौलिए के घर भी रेड

सीबीआई हेडक्वार्टर में आरोपी ओएसडी से लंबी पूछताछ हुई। (फाइल) सीबीआई हेडक्वार्टर में आरोपी ओएसडी से लंबी पूछताछ हुई। (फाइल)
X
सीबीआई हेडक्वार्टर में आरोपी ओएसडी से लंबी पूछताछ हुई। (फाइल)सीबीआई हेडक्वार्टर में आरोपी ओएसडी से लंबी पूछताछ हुई। (फाइल)

  • सीबीआई ने सिसोदिया के ओएसडी को 2 लाख की घूस के मामले में गिरफ्तार किया था
  • सीबीआई ने कहा- जीके माधव बिचौलिए की मदद से ट्रांसपोर्टर्स से रकम वसूल रहा था
  • भाजपा ने सिसोदिया पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया, सिसोदिया ने मानहानि का नोटिस दिया

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2020, 07:26 PM IST

नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले सीबीआई ने 2 लाख रु. की रिश्वत लेने के आरोप में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्ण (जीके) माधव समेत 2 लोगों को गिरफ्तार किया। अब अधिकारियों के दफ्तर और बिचौलिए के घर पर सर्चिंग की जा रही है। सीबीआई ने जीके माधव की गिरफ्तारी के वक्त कहा था कि वह बिचौलिए की मदद से ट्रांसपोर्टर्स से रकम वसूल रहा था।

सीबीआई के सूत्रों ने कहा- रिश्वत के मामले में दिल्ली सरकार के अधिकारी जीके माधव और उदित प्रकाश राय के दफ्तर पर सर्चिंग की कार्रवाई जारी है। ये दोनों आईएएस अधिकारी हैं। सीबीआई के सूत्रों ने बताया कि कुछ अन्य जीएसटी अधिकारियों के दफ्तरों पर भी कार्रवाई की जा रही है। इनके अलावा वजीराबाद में रहने वाले बिचौलिए धीरज गुप्ता के घर पर भी सीबीआई की टीम सर्चिंग कर रही है।

भाजपा के आरोप पर सिसोदिया का नोटिस

सीबीआई के मुताबिक, अब तक इस मामले में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की कोई भूमिका सामने नहीं आई है। लेकिन भाजपा ने आरोप लगाया कि अधिकारी उपमुख्यमंत्री के लिए घूस ले रहा था। इधर, उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा को मानहानि का नोटिस भेजा है। प्रवेश वर्मा ने ही प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सिसोदिया पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे।

बिचौलिए की सूचना पर ओएसडी गिरफ्तार

सीबीआई के मुताबिक, आईएएस अफसर माधव 2015 में सिसोदिया का ओएसडी नियुक्त हुआ था। केंद्रीय जांच एजेंसी ने एक दिन पहले ही (बुधवार) दूसरे आरोपी धीरज गुप्ता को पकड़ा था, जो घूसकांड में बिचौलिए की भूमिका निभा रहा था। सीबीआई के प्रवक्ता ने शुक्रवार को बताया- धीरज की सूचना के आधार पर ओएसडी माधव की गिरफ्तारी हुई। उसने पूछताछ में बताया था कि वह जीएसटी से जुड़े मामले रफादफा करने के एवज में ओएसडी के कहने पर ट्रांसपोर्टर्स से घूस की रकम वसूलता था। माधव दिल्ली सरकार के ट्रैक्स डिपार्टमेंट में जीएसटी ऑफिसर के पद पर भी तैनात है। दोनों की गिरफ्तारी 2.26 लाख रुपए की घूस लेने के मामले में हुई है।

सीबीआई ने सही किया: सिसोदिया

मनीष सिसोदिया ने कहा कि सीबीआई ने भ्रष्ट अधिकारी को पकड़ कर सही किया। हम गिरफ्तारी की टाइमिंग पर सवाल नहीं उठा रहे हैं। जो भी रिश्वत लेता है, उसे तुरंत पकड़ा जाए। सीबीआई सख्त कार्रवाई करे। भ्रष्टाचार के खिलाफ हमेशा आप सरकार की जीरो टॉलरेंस पॉसिली रही है।

ओएसडी सिसोदिया के लिए घूस ले रहा था: भाजपा

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीट किया- ओएसडी मनीष सिसोदिया के लिए घूस लेता पकड़ा गया। उसने 10 लाख रुपए रिश्वत की पहली किस्त में 2 लाख रुपए ले लिए थे। आम आदमी बनने का ढोंग करने वाले ये सभी चोर हैं। अब पता चला इन्होंने लोकपाल नियुक्त क्यों नहीं किया। वहीं, पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा, ''ओएसडी तो नाम होता है, जो उसके मालिक हैं, जो हमारे डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया हैं। ये सारे पैसे उन्ही की जेब में जाता है और वो उन्हीं पैसों से शाहीन बाग में बिरयानी पहुंचाते हैं।''

दिल्ली चुनाव के लिए 8 फरवरी को वोटिंग

दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों के लिए शनिवार को मतदान होना है। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। गुरुवार को चुनाव प्रचार थम गया। अब भाजपा-कांग्रेस और आप के प्रत्याशी घर-घर जाकर वोटर्स से संपर्क कर रहे हैं। चुनाव के नतीजे 11 फरवरी को घोषित होंगे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना