लोकसभा अपडेट्स /शिवसेना में शामिल हुईं प्रियंका चतुर्वेदी, कहा- बदसलूकी से नाराज होकर कांग्रेस छोड़ी

Dainik Bhaskar

Apr 19, 2019, 07:59 PM IST


X

  • मथुरा में राफेल डील पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान प्रियंका चतुर्वेदी के साथ बदसलूकी हुई थी
  • 8 कार्यकर्ताओं पर अनुशासनात्मक कार्रवाई हुई, लेकिन सिंधिया की सिफारिश पर सभी बहाल हुए

नई दिल्ली. प्रियंका चतुर्वेदी शुक्रवार को शिवसेना में शामिल हो गईं। उन्होंने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ली। इस दौरान प्रियंका ने कहा, महिला सम्मान बहुत बड़ा मुद्दा है। मैंने आत्मसम्मान के लिए पार्टी छोड़ी। बदसलूकी से नाराज होकर मैंने कांग्रेस छोड़ी। मैंने सब सोच-समझा और इसके बाद शिवसेना में जुड़ने का फैसला किया। मैंने यह जाना कि कौन से मुद्दे मेरी प्राथमिकता हैं। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि प्रियंका का शिवसेना में स्वागत है। वे ना केवल मुंबई और महाराष्ट्र, बल्कि पूरे देश में वे शिवसेना के लिए काम करेंगी।

 

प्रियंका कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता थीं। बदसलूकी करने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बहाली से दुखी होकर उन्होंने शुक्रवार को पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था। इससे पहले प्रियंका ने ट्वीट में आरोप लगाया था कि कांग्रेस में उन गुंडों को तरजीह दी जा रही है, जो महिलाओं के साथ बदसलूकी करते हैं। पार्टी के लिए मैंने गालियां और पत्थर खाए, लेकिन पार्टी नेताओं ने मुझे धमकियां दीं। उनका बच जाना दुर्भाग्यपूर्ण है।

  • प्रियंका के साथ मथुरा में हुई थी बदसलूकी

    प्रियंका के साथ मथुरा में हुई थी बदसलूकी

    पिछले दिनों मथुरा में प्रियंका चतुर्वेदी राफेल विमान सौदे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करने गई थीं, तब उनके साथ बदसलूकी हुई। उनकी सिफारिश पर मथुरा के 8 कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई। लेकिन 15 अप्रैल को यूपी प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया की सिफारिश के बाद इन सभी को बहाल कर दिया गया।

     

    pp

     

  • देवगौड़ा ने कहा- मैं रिटायर नहीं हो रहा

    देवगौड़ा ने कहा- मैं रिटायर नहीं हो रहा

    पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस सुप्रीमो देवगौड़ा का कहना है कि भाजपा के बुजुर्ग नेता लाल कृष्ण आडवाणी की तरह वह सक्रिय राजनीति से संन्यास लेने नहीं जा रहे हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री और अपने बेटे कुमारस्वामी के बयान पर उनका कहना था कि प्रधानमंत्री बनना जरूरी नहीं है। हां, अगर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री बने तो वह उनके साथ रहेंगे। कुमारस्वामी ने कहा था कि देवगौड़ा के प्रधानमंत्री बनने की संभावनाएं हैं।

  • कर्नाटकः भाजपा विधायक ने राहुल गांधी और कुमारस्वामी को जोकर कहा

    कर्नाटकः भाजपा विधायक ने राहुल गांधी और कुमारस्वामी को जोकर कहा

    भाजपा विधायक बसवाराज बोम्मई ने राहुल गांधी और एचडी कुमारस्वामी को जोकर कहा है। उन्होंने कहा कि मतदाता तय करेंगे कि कौन हीरो है और कौन जोकर। उनका इशारा था कि मोदी हीरो हैं और राहुल और कुमारस्वामी जोकर। विधायक का कहना था कि अपनी बातों, सोच और शारीरिक भावभंगिमा से दोनों (राहुल, कुमारस्वामी) ने खुद का मजाक बनाया है।  

  • परिवार का मुखिया होने के नाते पत्नी का साथ देना मेरी जिम्मेदारीः शत्रुघ्न

    परिवार का मुखिया होने के नाते पत्नी का साथ देना मेरी जिम्मेदारीः शत्रुघ्न

    पटना साहिब से कांग्रेस के उम्मीदवार शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा है कि परिवार का मुखिया होने के नाते पत्नी का साथ देना मेरी जिम्मेदारी है। वह लखनऊ सीट से कांग्रेस उम्मीदवार प्रमोद कृष्णम के उस बयान पर जवाब दे रहे थे, जिसमें उन्होंने कहा था कि सिन्हा को विरोधी पार्टी के उम्मीदवार का समर्थन नहीं करना चाहिए। शत्रुघ्न की पत्नी पूनम सिन्हा सपा के टिकट पर लखनऊ से चुनाव लड़ रही हैं।

  • उत्तरप्रदेशः केंद्रीय मंत्री ने कहा- भाजपा कार्यकर्ता को आंख दिखाई तो भुगतना होगा खामियाजा

    उत्तरप्रदेशः केंद्रीय मंत्री ने कहा- भाजपा कार्यकर्ता को आंख दिखाई तो भुगतना होगा खामियाजा

    केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा है कि भाजपा कार्यकर्ता अपराध से अर्जित धन और भ्रष्टाचार को जमींदोज करने को तैयार हैं। पूर्वांचल के किसी अपराधी की औकात नहीं कि गाजीपुर की सीमा में आकर उनके वर्कर को आंख दिखाए। अगर ऐसा हुआ को वो आंख सलामत नहीं रहेगी। 

  • हरियाणाः नेहरू की गलती की वजह से कश्मीर समस्याः खट्टर

    हरियाणाः नेहरू की गलती की वजह से कश्मीर समस्याः खट्टर

    मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग हो सकता था, लेकिन पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की गलतियों की वजह से वहां धारा 370 लगी। उनका कहना था कि भाजपा लगातार कह रही है कि धारा 370 को हटाया जाएगा, लेकिन कांग्रेस कहती है कि इसे बनाए रखा जाएगा।  

  • आयोग ने निर्वाचन दल को पुलिस बल के साथ रवाना किया

    भुवनेश्वर. ओडिशा के कंधमाल संसदीय क्षेत्र में चरमपंथियों के द्वारा बुधवार को निर्वाचन दल वाहन पर विस्फोट किया गया था। इस दौरान हुई गोलीबारी में एक ग्राम रोजगार सेविका की मौत हो गई थी। इसके बाद चुनाव आयोग ने तय किया कि चरमपंथियों के प्रभाव वाले क्षेत्रों से निर्वाचन दल और सामग्री को पुलिस बल के साथ पैदल मार्च करते हुए ले जाया जाएगा। सुरक्षित स्थान पर पहुंचने के बाद चुनाव होने तक वहीं रोका जाएगा। शुक्रवार को सभी दलों को पुलिस बल के साथ एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाया गया। शाम चार बजे तक सभी लोग सुरक्षित पहुंच चुके थे।

COMMENT