Karnataka: येदियुरप्पा सरकार को विधानसभा में कल दोपहर 4 बजे साबित करना होगा होगा बहुमत

कर्नाटक में बीजेपी को 104 कांग्रेस को 78 सीटें और जेडीएस को 38 सीटें मिली थीं। सरकार भाजपा के येदियुरप्पा की बनी।

DainikBhaskar.com| Last Modified - May 18, 2018, 12:57 PM IST

नई दिल्ली/बेंगलुरु. कर्नाटक में बीजेपी की सरकार बनने के बाद कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर ने इसे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। इस पर सुप्रीम कोर्ट में दलीलें हुईं। भारतीय जनता पार्टी की तरफ से पक्ष रखने के लिए सीनियर लॉयर मुकुल रोहतगी यहां पहुंचे। रोहतगी ने दो पत्र सुप्रीम कोर्ट को सौंपे। इसमें से एक लेटर में कहा गया है कि सीएम येदियुरप्पा के पास जरूरी समर्थन मौजूद है। वहीं, दूसरे पत्र में कहा गया है कि बीजेपी को सबसे बड़ी पार्टी होने की वजह से सरकार बनाने का न्योता मिला है। रोहतगी ने कहा कि हमारी सरकार विधानसभा में अपना बहुमत साबित कर देगी। दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राज्य सरकार कल यानी शनिवार दोपहर चार बजे विधानसभा में अपना बहुमत साबित करे। इसके बाद येदियुरप्पा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि वो विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। 

कांग्रेस का आरोप 
- कांग्रेस नेता डीके. शिवकुमार ने एक बार फिर बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाया। उन्होंने कहा- हमारे सभी विधायक हमारे साथ हैं। उनको सरकारी एजेंसियों की तरफ से धमकियां दी जा रही हैं। हम गुरुवार रात चार्टर फ्लाइट का इस्तेमाल करना चाहते थे लेकिन इसकी इजाजत नहीं दी गई।  
- सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस सीकरी ने कहा- इस मामले में विधानसभा में बहुमत साबित करना ही सबसे अच्छा तरीका है। 
- सुप्रीम कोर्ट ने कहा- यह आंकड़ों का खेल है। जिसके पास बहुमत होगा उसे ही सरकार बनाने के लिए न्योता मिलना चाहिए। 

रोहतगी ने और क्या कहा?
- सुप्रीम कोर्ट में भाजपा के वकील मुकुल रोहतगी ने कहा- हमारे पास जानकारी है कि दूसरी पार्टियों के कुछ विधायकों ने कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन को समर्थन देने के बारे में लिखित में कुछ नहीं दिया है। 

किसके पास कितनी सीटें?
-  कर्नाटक चुनाव में बीजेपी को 104 सीटें मिली थीं। कांग्रेस (78 सीटें) और जेडीएस (38 सीटें) ने भी मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था। लेकिन राज्यपाल ने उन्हें नहीं बुलाया। इसको लेकर कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर दी। वहीं, सुप्रीम कोर्ट में दो अन्य अर्जियां भी लगाई गई हैं।

कैसे साबित होगा बहुमत?
- कांग्रेस-जेडीएस के 14 विधायक सदन से गैरहाजिर हो जाएं तो भाजपा के पास मौका

कुल सीटें: 224
2 सीटों पर मतदान नहीं हुआ। इसलिए कुल सीटें: 222
एचडी कुमारस्वामी 2 सीटों से जीते इसलिए सदन में कुल विधायकों की संख्या हुई: 221
अगर 13 विधायक फ्लोर टेस्ट के दौरान सदन से गैरहाजिर हों, 1 प्रोटेम स्पीकर बने तो संख्या हुई: 207

सदन में विधायकों की संख्या 207 होने पर बहुमत का आंकड़ा: 104
बहुमत का आंकड़ा भाजपा के पास: 104

मौजूदा स्थिति :भाजपा सबसे बड़ी पार्टी, बहुमत से 8 सीटें दूर
- राज्य में कुल सीटें 224 हैं। बहुमत के लिए 113 जरूरी।
- 2 सीटों पर मतदान बाकी है। इसलिए बहुमत का आंकड़ा 112 है।

 

Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now