• Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • About 1000 Platforms For Short Films, A New Industry Parallel To Bollywood And Web Series, Earning Two three Times In A Single Year

शॉर्ट फिल्मों का बड़ा बाजार:शॉर्ट फिल्मों के लिए करीब 1000 प्लेटफॉर्म्स, बॉलीवुड और वेब सीरीज के पैरेलल एक नई इंडस्ट्री, एक ही साल में दो-तीन गुना कमाई

मुंबई3 महीने पहलेलेखक: मनीषा भल्ला
  • एक साथ कई प्लेटफॉर्म पर दिखा सकते हैं फिल्म, 50% तक प्रॉफिट शेयरिंग कर सकते हैं प्लेटफॉर्म के साथ

शॉर्ट फिल्में कभी सिर्फ क्रिएटिविटी या किसी खास सब्जेक्ट को सामने रखने का साधन थीं, लेकिन अब एक फुल टाइम प्रोफेशन हैं। इन्हें लेकर कम समय, कम लागत में ज्यादा कमाई का एक बिजनेस मॉडल बन चुका है। ओटीटी, मोबाइल ऐप्स, यू-ट्यूब जैसे प्लेटफॉर्म की वजह से शॉर्ट फिल्मों की एक पैरलेल इंडस्ट्री खड़ी हो गई है। इसमें एक साल में ही दो से तीन गुना कमाई करना भी संभव है। आज शॉर्ट फिल्मों के लिए करीब 1000 प्लेटफॉर्म्स मौजूद हैं।

ट्रांजिट व्यूइंग से लंबी हुई लकीर

यू-ट्यूब पर ढाई लाख सब्सक्राइबर हासिल कर चुकी गोरिल्ला शॉर्ट चैनल के डायरेक्टर अंबर चक्रवर्ती बताते हैं कि देश में ट्रांजिट व्यूइंग (सफर के दौरान फिल्में या अन्य चीजें देखने का चलन) बढ़ा है। लोग काम पर आते-जाते, एयरपोर्ट या रेलवे स्टेशन जैसी जगहों पर खाली वक्त में शॉर्ट फिल्म देख लेते हैं। आधे घंटे में अच्छी कहानी देखना सब पसंद करते हैं।

अंबर बताते हैं कि अब यह सिर्फ शौक की बात नहीं है। लोग प्रोफेशनली फिल्म मेकिंग सीखते हैं, कुछ लोग इसमें खास इन्वेस्टमेंट भी करते हैं। हर OTT प्लेटफॉर्म पर शॉर्ट फिल्म्स का अलग सेक्शन है। एक तरह से यह अपने आप में एक पूरी इंडस्ट्री है। मेरा यू-ट्यूब चैनल है, इसकी सारी फिल्में डिज्नी हॉटस्टार पर भी हैं।

हर मीडियम के लिए कम समय

कांस फिल्म फेस्टिवल और वैंकूवर फिल्म फेस्टिवल में पहुंचने वाली ‘मराठा मंदिर सिनेमा’ शॉर्ट फिल्म के मेकर पंकज दुबे कहते हैं कि लोगों के पास हर मीडियम के लिए बहुत कम समय है। ऐसे में कम समय में अच्छा कंटेंट दे रही शॉर्ट फिल्में क्लिक हो रही हैं।

शॉर्ट फिल्म बनाना एक तरह से ड्राय-रन है। मतलब, इस पर अच्छा हाथ जम गया तो बड़ी फीचर फिल्म बनाना आसान हो जाता है। आप पर भरोसा करने वाले इन्वेस्टर भी मिल जाते हैं।

पे पर व्यू ऐप

चेन्नई के एस. एस. भारानीधरन और पी. सेंथिल कुमार ने 2019 में सिर्फ शॉर्ट फिल्मों के लिए ही शॉर्ट फ्लिक्स ऐप शुरू किया। यह पे-पर-व्यू मॉडल पर चलता है। सिर्फ 10 रुपए में एक शॉर्ट फिल्म और 30 रुपए में प्रीमियम कंटेंट मिल जाता है। इसके सवा लाख सब्सक्राइबर्स हैं।

तमिल, तेलुगू और मलयालम शॉर्ट फिल्म से शुरुआत हुई। सेंथिल कुमार ने बताया कि हम काफी मुनाफा कमा रहे हैं। इसलिए अब हिंदी, कन्नड़ के अलावा अंग्रेजी और स्पेनिश में भी शॉर्ट फिल्म और शॉर्ट वेब सीरीज में एक्सपैन्ड कर रहे हैं।

150 फिल्मों का रेवेन्यू शेयरिंग मॉडल

दिल्ली के राहुल दत्ता की 150 शॉर्ट फिल्में कई ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर मौजूद हैं। अमेजन यूके और यूएस में भी राहुल की फिल्में दिखती हैं। राहुल हर ओटीटी प्लेटफॉर्म के साथ 50-50% रेवेन्यू शेयरिंग का कॉन्ट्रैक्ट करते हैं। इनकी शॉर्ट फिल्म में बड़ी फिल्मों के विलेन रणजीत तक काम कर चुके हैं।

राहुल बताते हैं कि भारत में शॉर्ट फिल्मों का बाजार इतना बढ गया है कि अब इसके अलग से डिस्ट्रीब्यूटर हैं। न तो काम की कमी है, न ही इन्वेस्ट करने वालों की।

राहुल की शॉर्ट वेब सीरीज ‘बेचारे’, सीजन-1 का बजट 25 लाख रुपए था। MX प्लेयर समेत ये लगभग दस प्लेटफॉर्म्स पर रेवेन्यू शेयरिंग पर चल रही है। एक साल में लागत पूरी हो गई और अब इसका सीजन-2 आ रहा है।

एक फिल्म 12 इंटरनेशनल प्लेटफॉर्म पर

शॉर्ट फिल्म मेकर मिहिर धीरजलाल उपाध्याय बताते हैं कि मेरी फिल्म ‘गुड नाइट-स्लीप टाइट’ डेढ़ महीने में ही भारत समेत 12 इंटरनेशनल प्लेटफॉर्म्स पर और भारती एयरटेल, हंगामा और एमएक्स प्लेयर पर भी आ चुकी हैं। फिल्म की तीन लाख की लागत 12 महीने में रिकवर हो जाएगी। अमेजन प्राइम के साथ भी बात चल रही है, जहां मुझे लागत से दोगुनी कमाई की उम्मीद है। मिहिर की एक और फिल्म ‘द ब्लाइंड डेट’ चार लाख में बनी है। इसके लिए MX प्लेयर और इरोज नाउ जैसे प्लेटफॉर्म से दो या तीन गुना कमाई की उम्मीद है।

शॉर्ट फिल्मों में बड़े चेहरे

  • नेटफ्लिक्स पर अभी ‘कालीपीली टेल्स’ आई है । इसमें सयानी गुप्ता, विनय पाठक, गौहर खान और सोनी राजदान जैसे जाने-माने चेहरे दिखे।
  • नेटफ्लिक्स की रे सीरीज में मनोज बाजपेयी और गजराज राव ने धूम मचाई। ‘नवरस’ में मणिरत्नम की लीडरशिप में तमिल सिनेमा के बड़े स्टार्स और डायरेक्टर ने साहित्य के नौ रस पर आधारित नौ शॉर्ट फिल्में बनाईं।
  • प्रसाद कदम के निर्देशन में बनी शॉर्ट फिल्म ‘हैप्पी बर्थ डे’ के लिए अनुपम खेर को न्यूयॉर्क सिटी इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला।
  • टिस्का चोपड़ा ने खुद ‘चटनी’ शॉर्ट फिल्म बनाई जो इस जॉनर में सुपरहिट मानी जाती है।
  • अभिनेत्री शेफाली शाह ने अभी-अभी ‘हैप्पी बर्थ डे मम्मी जी’ से शॉर्ट फिल्म के डायरेक्शन में डेब्यू किया है।
खबरें और भी हैं...