कोरोना पर मसीहा:सोनू सूद बोले-इंडिया महामारी के लिए कभी पहले से तैयार ही नहीं था, हमें मानना होगा कि हमसे गलती हुई

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक्टर सोनू सूद पिछले साल से ही कोरोना महामारी के बीच देश के जरूरतमंद लोगों की लगातार मदद करने का काम कर रहे हैं। वहीं अब वे कोरोना की तीसरी लहर आने से पहले चीन, फ्रांस और ताइवान की कंपनियों के साथ मिलकर भारत में कई ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की तैयारियों में भी जुट गए हैं। इस बात की जानकारी उन्होंने खुद हाल ही में एक न्यूज वेबसाइट को दिए एक इंटरव्यू में दी है। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि भारत इस महामारी के लिए कभी पहले से तैयार ही नहीं था। लेकिन, अब हमें तीसरी लहर के लिए पहले से ही तैयार रहने की आवश्यकता है।

राज्यों को ऑक्सीजन प्लांट्स उपलब्ध कराएंगे
सोनू सूद ने बताया कि ऑक्सीजन प्लांट्स के लिए 20 दिन के बाद कंपनियों के साथ उनकी एक वर्चुअल मीटिंग भी होनी है। उन्होंने खुलासा किया कि वे लॉजिस्टिक्स पर कड़ी मेहनत कर रहे हैं और चीजों को एक साथ लाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमें जल्द ही ऑक्सीजन प्लांट्स का पहला सेट मिलने वाला है। सोनू की योजना है कि फ्रांस से ऑक्सीजन प्लांट्स खरीद कर उन्हें दिल्ली, पंजाब, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों को दिया जाएगा।

तीसरी लहर के लिए पहले से ही तैयार रहें
एक्टर ने आगे कहा, "हमारा आइडिया यह है कि कोरोना की तीसरी लहर के लिए हम पहले से ही तैयार रहें। सोनू ने यह भी खुलासा किया कि उन्होंने अपनी टीम में ऐसे लोगों की संख्या बढ़ाई है, जो ग्रामीण इलाकों के लोगों तक पहुंच रहे हैं। हर कॉल पर 400 लोगों की एक टीम काम करती है। हालांकि, सरकार भी अपना काम कर रही है। लेकिन, सोनू सूद का मानना है कि पहले से चीजों को एक साथ रखना बेहद आवश्यक है।"

हम कभी महामारी के लिए तैयार ही नहीं थे
महामारी के लिए भारत की खराब प्रतिक्रिया के बारे में बात करते हुए सोनू ने कहा कि हमारे देश की पूरी GDP का सिर्फ एक से दो प्रतिशत हिस्सा ही हेल्थकेयर पर खर्च किया जाता है। इसलिए, हम कभी महामारी के लिए तैयार ही नहीं थे। सोनू के अनुसार, भारत एक घनी आबादी वाला देश है, लेकिन यह एक बहाना नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि हमें मानना होगा कि हमसे गलती हुई है।

खबरें और भी हैं...