• Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Aryan's Eyes Were Seen In Arthur Road Jail, Ate Biscuits With Water, Only Drank Jail Tea On The First Day, Giving His Food To Another Prisoner

भास्कर पड़ताल:आर्थर रोड जेल में आर्यन का आंखों देखा हाल; पानी में डुबोकर बिस्किट खाता है, सिर्फ पहले दिन पी थी जेल की चाय

मुंबईएक महीने पहलेलेखक: राजेश गाबा
  • जेल में खाना देने वाले श्रवण ने बताई आर्यन खान की जेल की दिनचर्या
  • जेल के कैंटीन से चिप्स, बिस्किट और पानी खरीद कर यूज करता है आर्यन

शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान जेल का खाना नहीं खा रहे हैं। सिर्फ पहले दिन उन्होंने जेल की चाय पी थी। उस दिन से उन्होंने जेल में खाने की किसी चीज को हाथ नहीं लगाया। आर्यन जेल में मिलने वाला खाना भी नहीं खाते, दूसरे कैदियों को दे देते हैं और गुमसुम अपने में ही खोए रहते हैं।

ऐसी तमाम बातें 16 अक्टूबर को जेल से रिहा हुए कैदी श्रवण नडार ने दैनिक भास्कर को बताईं। नडार धोखाधड़ी के केस में 6 महीने से आर्थर रोड जेल में बंद था। सोमवार को ही जेल से छूटा है। श्रवण उसी बैरक में था, जहां आर्यन को रखा गया है। आर्यन की बैरक में खाना देने की ड्यूटी श्रवण की ही थी। मुंबई क्रूज ड्रग केस में आर्यन खान आर्थर रोड जेल में ही बंद हैं। 20 अक्टूबर को उनकी जमानत पर सुनवाई होनी है।

एक बैरक में 4 सेल, हर सेल में 100 लोग
श्रवण ने बताया कि आर्यन और उसके साथियों को हफ्ते भर क्वारैंटाइन रखने के बाद 1 नंबर बैरक में लाया गया। यहां एक बैरक में 4 सेल और एक सेल में 100 कैदी हैं। यानी 4 सेल में 400 कैदी हैं। सब एक-दूसरे से सटकर सोते हैं। हिलने-डुलने में भी दिक्कत होती है। चिपककर सोना पड़ता है। एक सेल में 4 टॉयलेट हैं। इसमें एक वेस्टर्न और 3 इंडियन हैं। आर्यन के सेल में भी 100 कैदी हैं, इसमे 10 पंखे लगे हैं।

दूसरे कैदियों को अपना खाना दे देता है आर्यन
श्रवण ने बताया कि आर्यन ने पहले दिन ही जेल की चाय पी थी। वह मैंने ही उसे दी थी। इसके अलावा उसने कुछ नहीं खाया। वह कैंटीन से बिस्किट, चिप्स मंगाता है। बिस्किट को पानी में डुबोकर खाता है। मैंने कई बार देखा है। बोतलबंद पानी पीता है।

श्रवण ने आगे बताया कि जेल के नियम के मुताबिक 'हक का भत्ता' (अपने हिस्से का खाना) लेना होता है। आर्यन अपना खाना लेता जरूर है, लेकिन वह उसे दूसरे कैदियों को दे देता है। वह कुछ नहीं खाता। कई बार मैंने और जेल के अधिकारियों ने उससे पूछा, लेकिन वह सिर्फ इतना कहता है कि मन नहीं है, भूख नहीं है। वह अकेला गुमसुम बैठा रहता है, किसी से बात नहीं करता।

घर से आई जींस, टी-शर्ट पहनता है
श्रवण ने बताया कि आर्यन घर से आई टी-शर्ट और जींस पहन रहा है। उसे कोई VIP ट्रीटमेंट नहीं मिल रहा। मैं परसों जब आ रहा था, तब उसने मनीऑर्डर से आए 4500 रु. से चिप्स और पानी की 5 दर्जन बॉटल ली थीं। मैंने आर्यन से बात की, उसने बस इतना कहा- आपको बधाई, आप जा रहे हो बाहर। मैंने उससे कहा कि आप भी जल्दी आ जाओगे, ऊपरवाले पर भरोसा रखो।

जेल में बाल काटे गए, दाढ़ी बनाई गई
जेल से रिहा हुए श्रवण ने बताया कि जेल में आने के बाद आर्यन काफी घबराया हुआ था। टेंशन में था। उसके बाल काटे गए, फिर शेविंग बनाई गई। वह जेल में न टीवी देखता है, न किसी से बात करता है।

ये है आर्यन खान की दिनचर्या
श्रवण ने बताया कि सुबह 6 बजे सीटी बजती है। कैदियों की गिनती होती है। आर्यन भी गिनती के बाद हाथ-मुंह धोकर नाश्ता लेने आता है। नाश्ते में शीरा, पोहा और चाय होती है। आर्यन इसे दूसरे कैदी को दे देता है।

10 बजे खाना मिलता है। खाने में 2 रोटी, दाल और सब्जी होती है। आर्यन उसे भी दूसरों को दे देता है। उसके बाद वो आराम करने चला जाता है। दोपहर 3 बजे चाय मिलती है। फिर शाम को 5.30 बजे खाना मिलता है। 6 बजे फिर सभी कैदियों की काउंटिंग होती है। फिर सब अपने बैरक में लौट जाते हैं। आर्यन शांत बैठा रहता है, या फिर लेट जाता है।