बर्थ एनिवर्सरी:11 की उम्र में किया नौकरानी का काम, 1000 से ज्यादा फिल्मों में काम करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड मनोरमा के नाम

एक महीने पहले

आज साउथ इंडस्ट्री की सुपरस्टार रहीं मनोरमा का 85वां जन्मदिन है। मनोरमा को लोग आची के नाम से जानते हैं। मां को कैंसर होने के बाद आची घरों में नौकरानी का काम किया करती थीं। एक दिन एक नाटक मंडली को एक ऐसी एक्ट्रेस की तलाश थी जो एक्टिंग के साथ गाना भी गा सके। इसी बीच मनोरमा में नाटक मंडली को तमाम खूबियां दिखीं। फिर क्या था नाटक अंधमन कढ़ाली से मनोरमा के एक्टिंग करियर की शुरुआत हो गई।

मनोरमा ने अपने करियर में 1000 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है। सबसे ज्यादा फिल्मों में काम करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड इन्हीं के नाम दर्ज है। साथ ही मनोरमा ने 5000 से ज्यादा स्टेज परफार्मेंस भी दी हैं। उन्होंने कई टीवी सीरियल्स में भी काम किया है। मनोरमा को 1989 में आई फिल्म पुढ़िया पढ़ाई में उनकी एक्टिंग के लिए नेशनल अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है।

उन्हें भारत सरकार ने भी फिल्मों में उनके योगदान के लिए 2002 में पद्म श्री अवॉर्ड से सम्मानित किया है। मनोरमा का 78 साल की उम्र में शरीर के कई अंग फेल होने से निधन हो गया था।

मां को हुआ कैंसर तो किया नौकरानी का काम

मनोरमा का जन्म मद्रास के थन्जावुर में हुआ था। मनोरमा की मां घरों में नौकरानी का काम किया करती थीं लेकिन उन्हें कैंसर हो गया। जिसकी वजह से मनोरमा ने 11 साल की उम्र में ही स्कूल छोड़ दिया और मां की जगह वो घरों में काम करने लगीं। घर की माली हालात ठीक नहीं थी। नौकरानी का काम कर मनोरमा उतना नहीं कमा पा रहीं थीं, मां के इलाज में भी दिक्कतें आ रही थीं।

एक्ट्रेस फिल्मों में गाने में थी असमर्थ तब मनोरमा को मिला पहला नाटक

एक बार एक नाटक मंडली पल्लथुर आई हुई थी। इस दौरान उस नाटक में काम करने वाली एक्ट्रेस गाना नहीं गा पा रही थी। जिसके बाद मनोरमा को इस नाटक में एक्ट्रेस का रोल दिया गया। यहीं से 11 साल की उम्र मे मनोरमा के एक्टिंग और सिंगिग करियर की शुरुआत हुई। मनोरमा की एक्टिंग और गायकी काफी अच्छी थी, जिसके चलते नाटकों में काम करने के दौरान ही उन्हें फिल्म इनबावाज्वु में काम मिला। बस फिर क्या था यहीं से मनोरमा के घर के हालात भी सुधरने लगे और ज्यादातर फिल्मों में मनोरमा को ही साइन किया जाने लगा।

तमिलनाड़ू की तत्कालीन सीएम जयललिता से अवॉर्ड लेतीं मनोरमा।
तमिलनाड़ू की तत्कालीन सीएम जयललिता से अवॉर्ड लेतीं मनोरमा।

5 मुख्यमंत्रियों के साथ किया काम

मनोरमा ने अपने फिल्मी करियर में 5 मुख्यमंत्रियों के साथ काम किया है। उन्होंने सीएन अन्नादुरई, एम करुनानिधि, जयललिता, एम.जी. रामाचन्ंद्रन, एनटी रामाराव के साथ फिल्मों में काम किया है। ये सभी पहले एक्टर थे जो बाद में पॉलिटिक्स में सक्रिय हुए और बाद में सीएम बने।

एक हजार से ज्यादा फिल्मों में काम

मनोरमा का नाम एक हजार से ज्यादा फिल्मों में काम करने के लिए 1985 में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है। उन्होंने अपने करियर में कई फिल्मों में मां का रोल निभाया है। मनोरमा के अनुसार ये सभी रोल उन्होंने अपनी मां से इंस्पायर होकर प्ले किए हैं।

2013 में की आखिरी फिल्म

मनोरमा ने आखिरी बार शार्ट फिल्म 'थाए नी कन्नूरागू' में काम किया था। इस फिल्म में मनोरमा ने एक कैंसर पैशेंट का रोल प्ले किया था। मनोरमा को उनके कॉमिक रोल के लिए भी जाना जाता था। 2013 के बाद मनोरमा की तबीयत ठीक नहीं रहती थी और उनके शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। मनोरमा ने 10 अक्टूबर 2013 को इस दुनिया को अलविदा कह दिया।

एक्टिंग के लिए मिला नेशनल अवॉर्ड

मनोरमा को फिल्म पुढ़िया पढ़ाई में उनकी एक्टिंग के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के नेशनल अवॉर्ड से नवाजा जा गया। 2002 में उन्हें भारत सरकार ने फिल्म इंडस्ट्री में उनके योगदान के लिए पद्म श्री दिया गया।