• Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Birth Anniversary: Om Purihad Became Homeless At The Age Of 6, Washed Cups In Tea Stlls, Worked As A Laborer, Now Even Hollywood Talks About Acting

बर्थ एनिवर्सरी:6 साल की उम्र में बेघर हो गए थे ओम पुरी, चाय के कप धोए, मजदूरी की, अब हॉलीवुड तक में होती हैं एक्टिंग की चर्चा

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अपने बेहतरीन अभिनय से कई किरदारों को दर्शकों के दिलों में उतार देने वाले ओम पुरी की आज 71वीं बर्थ एनिवर्सरी है। ओम पुरी ने अपने अभिनय के हुनर से दो बार नेशनल फिल्म अवॉर्ड, पद्मश्री अवॉर्ड और लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड हासिल किया था, हालांकि ये कम ही लोग जानते हैं कि ओम पुरी का बचपन बेहद गरीबी में बीता। महज 6 साल की उम्र से शुरू हुआ जिंदगी का संघर्ष उनके एक्टर बनने तक जारी रहा है। आज उनकी बर्थ एनिवर्सरी के खास मौके पर आइए जानते हैं कैसा थी ओम की संघर्षों से भरी जिंदगी-

अपने जन्म की तारीख तक नहीं जानते थे ओम पुरी

ओम के परिवार बचपन से ही गरीबी में गुजर-बसर करता आया है। गरीबी के चलते उनके पास जन्म प्रमाण पत्र तक नहीं था, जिससे उनकी पैदाइश का साल पता किया जा सके। ओम की मां उनसे कहा करती थीं कि वो दशहरा के दो दिन पहले पैदा हुए हैं। जब उनका स्कूल में दाखिला करवाया गया तो उनके अंकल ने बर्थ डेट के आगे 9 मार्च 1950 लिख दिया था। बड़े होने के बाद जब ओम पुरी ने जानना चाहा तो पता चला कि साल 1950 में दशहरा 20 अक्टूबर को था, ऐसे में उनकी बर्थ डेट 18 अक्टूबर थी।

6 साल की उम्र में ओम के पिता को हुई थी जेल

ओम पुरी के पिता एक जमाने में रेलवे और आर्मी में काम किया करते थे। जब ओम 6 साल के हुए उनके पिता को सीमेंट चोरी करने के आरोप में जेल में डाल दिया गया। पिता के जेल जाने के बाद ओम और उनका परिवार बेघर हो गया। घर खर्च चलाने के लिए ओम चाय की दुकान में बर्तन धोने लगे और उनके भाई कुली बन गए। घर खर्च चलाने के लिए ओम पास के रेलवे ट्रैक से कोयला उठाया करते थे।

NSD में हुई थी नसीरुद्दीन शाह से दोस्ती

छोटी मोटी नौकरियों से कमाई कर ओम पुरी ने अपनी पढ़ाई जारी रखी और प्राइमरी की पढ़ाई के बाद उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एडमिशन ले लिया। यहां पढ़ाई करते हुए ओम पुरी की दोस्ती नसीरुद्दीन शाह से गहरी हो गई और बाद में उन्हीं के कहने पर ओम फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में पढ़ाई के लिए पुणे गए थे। एक पुराने इंटरव्यू के दौरान ओम पुरी ने बताया था कि उनका परिवार उस समय इतना गरीब था कि उनके पास इस कॉलेज में पहनने के लिए कोई शर्ट तक नहीं थी।

शबाना आजमी ने उड़ाया था चेहरे का मजाक

NSD में पढ़ाई करते हुए ओम पुरी की मुलाकात शबाना आजमी से हुई थी। इस दौरान शबाना ने बड़े बुरे रवैये के साथ उन्हें देखकर कर रहा था, पता नहीं कैसे-कैसे लोग हीरो बनने चले आते हैं। जाहिर है कि शबाना को अपने इस कमेंट पर अफसोस जरूर हुआ होगा। एक्टिंग करियर के दौरान शबाना और ओम धारावी, मृत्युदंड, अल्बर्ट पिंटो को गुस्सा क्यों आता है, सिटी ऑफ जॉय जैसी कई फिल्मों में साथ नजर आए हैं।

बायोग्राफी में पत्नी ने किए थे चौंकाने वाले खुलासे

ओम पुरी की पत्नी नंदिता ने साल 2009 में उनकी बायोग्राफी, अनलाइकली हीरो- द स्टोरी ऑफ ओम पुरी लॉन्च की थी। इस किताब में नंदिता ने खुलासा किया था कि ओम ने महज 14 साल की उम्र में अपनी 55 साल की कामवाली से शारीरिक संबंध बनाए थे। किताब में नंदिता ने लिखा था कि ओम को अपनी कामवाली से बचपन में प्यार हो गया था। एक दिन बिजली जाने पर उन्होंने अपनी कामवाली को पकड़ लिया और उनके बीच संबंध बन गए।

बायोग्राफी के बाद ओम पुरी और पत्नी के बीच हुआ विवाद

बायोग्राफी लॉन्च होने के बाद ओम पुरी अपनी पत्नी से नाराज हो गए थे। एक्टर का कहना था कि पब्लिसिटी के लिए नंदिता ने किताब में कुछ ऐसी बातें भी लिख दी हैं जो लिखने लायक नहीं थीं। नंदिता ने किताब में ओम पुरी के संबंधों पर काफी आपत्तिजनक बातें लिखी थीं। दोनों के बाद विवाद इतने बढ़ने लगे थे कि नंदिता ने उन पर घरेलू हिंसा का तक आरोप लगाया था। साल 2013 में दोनों ने तलाक ले लिया था।

खबरें और भी हैं...