सेलेब्स के विवादित बयान:वीर दास, ​​​​​​​कंगना रनोट से लेकर आमिर खान तक, जब देश के खिलाफ बयान देने पर फंसे सेलेब्स, दर्ज हुई शिकायतें

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गो गोवा गोन, हंसमुख और डेली बेली जैसी फिल्मों में नजर आ चुके वीर दास को विदेश के मंच पर देश के खिलाफ बोलना काफी भारी पड़ रहा है। एक्टर ने स्टैंड अप कॉमेडी के दौरान आई एम फ्रॉम टू इंडिया कविता पढ़ी थी, जिसमें उन्होंने कहा है कि भारतीय पुरुष दिन में महिलाओं को पूजते हैं और रात में उनका बलात्कार करते हैं। उनका ये बयान सामने आने के बाद बॉम्बे हाई कोर्ट के एडवोकेट आशुतोष जे दुबे ने कॉमेडियन के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। इसके अलावा कई बड़ी हस्तियां उनके खिलाफ बयान दे रही हैं। वीर दास से पहले भी कई बॉलीवुड सेलेब्स को देश के खिलाफ बयान देना भारी पड़ चुका है।

कंगना रनोट

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनोट के खिलाफ हाल ही में राजस्थान के चार शहरों में शिकायत दर्ज हुई हैं। ये शिकायतें कंगना के उस विवादित बयान पर हुई हैं, जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत को आजादी भीख में मिली है और असल आजादी 2014 में मिली है। एक्ट्रेस का बयान सामने आते ही लोगों ने उनसे पद्मश्री वापस लेने की डिमांड की है।

शाहरुख खान

साल 2015 में शाहरुख ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था कि देश में असहिष्णुता काफी बढ़ गई है। एक्टर का बयान सामने आते ही लोगों ने उन्हें बुरी तरह से ट्रोल करना शुरू कर दिया। कई लोगों ने तो उन्हें परिवार के साथ पाकिस्तान जाकर रहने की भी सलाह दी थी। एक्टर के इस बयान का असर उनकी फिल्मों के कलेक्शन में भी देखने मिला था।

आमिर खान

साल 2015 में एक सम्मान समारोह के दौरान आमिर खान ने कहा था कि देश में असहिष्णुता काफी बढ़ गई है और उनकी पत्नी देश में सुरक्षित महसूस नहीं करती हैं। हम सभी इस माहौल से डरे हुए हैं और बाहर जाकर बसना चाहते हैं। आमिर के इस बयान के बाद उनके और उनकी पत्नी के खिलाफ सदर थाने में शिकायत दर्ज हुई थी। रायपुर कोर्ट के अधिवक्ता दीपक दीवान और संजय पोपटानी ने धारा 153 (क) के तहत परिवाद दायर किया था, जिसे लोवर कोर्ट द्वारा खारिज कर दिया गया था। बाद में इस मामले पर पुनर्निरिक्षण याचिका प्रस्तुत की गई थी जिसके 4 साल बाद विशेष न्यायालय लीना परिहार की कोर्ट ने केस रजिस्टर करते हुए नोटिस जारी किया था।

पायल रोहतगी

एक्ट्रेस पायल रोहतगी हमेशा से ही अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहती हैं, हालांकि उन्हें महात्मा गांधी, मोतीलाल नेहरू, जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के खिलाफ बयान देना भारी पड़ चुका है। एक्ट्रेस ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करते हुए कहा था कि कांग्रेस परिवार ट्रिपल तलाक के खिलाफ इसलिए था क्योंकि मोतीलाल नेहरू की पांच पत्नियां थीं और मोतीलाल नेहरू, जवाहरलाल नेहरू के सौतेले पिता थे। अभिनेत्री पायल ने अपने इस दावे को पुख्‍ता करने के लिए ऐलिना रामाकृष्णा द्वारा लिखी एक बायोग्राफी का हवाला दिया था। उनका बयान सामने आते ही सबसे पहले उनका ट्विटर अकाउंट सस्पेंड किया गया था, बाद में उनके खिलाफ धारा 153 (ए), 500,आईपीसी की धारा 505 (2) और 34 के तहत कई मामले दर्ज किए गए थे।

हिंदुस्तानी भाऊ

एकता कपूर की सीरीज xxx में एक आर्मी ऑफिसर की यूनिफॉर्म को गलत तरह से इस्तेमाल करते दिखाया गया है। इस पर हिंदुस्तानी भाऊ ने एक वीडियो जारी कर निंदा की थी। वीडियो में भाऊ ने कहा था कि अगर कोई आर्मी ऑफिसर का अपमान करता है तो सिस्टम जाए साइड में कहा था। संविधान का अपमान करने पर भाऊ के खिलाफ देश के कई शहरों में शिकायत दर्ज हुई थी।

खबरें और भी हैं...