पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Chef Vikas Khanna Sent First Consignment Of Concentrators PPE Kit To India And Aims To Distribute 8 Million Meals In Next One Week

सरहद पार से आई मदद:शेफ विकास खन्ना ने भारत भेजी कंसन्ट्रेटर्स-PPE किट की पहली खेप, मदर्स डे से शुरू करेंगे 8 लाख फूड किट पहुंचाने का काम

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मिशलिन स्टार शेफ और प्रोड्यूसर विकास खन्ना ने एक बार फिर कोरोना महामारी पीड़ितों की मदद की है। विकास इन दिनों युद्ध स्तर पर काम कर रहे हैं, ताकि भारत में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स और PPE किट सहित COVID-19 आपातकालीन राहत सामग्री भेज सकें। विकास ने पिछले साल COVID19 महामारी की पहली लहर के दौरान भारत भर में लाखों लोगों तक भोजन पहुंचाया था।

इस बार वे लगभग 10,000 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर्स और 50,000 फायर प्रूफ PPE किट जुटाने और उन्हें भारत भेजने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं।

पहली खेप में पहुंचाए 650 कंसन्ट्रेटर्स
विकास के प्रयासों से राहत सामग्री की एक खेप भारत पहुंच चुकी है। जिसके बारे में उन्होंने पोस्ट किया था कि योगदान के दौरान 5,25,000 डॉलर से ज्यादा रकम कुछ दिनों में ही जुट गई। जिसके बाद लगभग 650 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर्स और 5,000 PPE किट की पहली शिपमेंट भारत पहुंच गई है। विकास ने लिखा था- ये योगदान 5,25,000 अमरीकी डॉलर पार कर गया यानी करीब 4 करोड़ रु। भारत में पहला शिपमेंट आ चुका है। खन्ना ने बताया कि अपनी मातृभूमि को इस हाल में देखना बहुत ज्यादा दुखदायी है।

विकास का लक्ष्य- जिंदगियां बचें
विकास ने अपने इस प्रयासों के बारे में बताया कि अगले कुछ हफ्ते बहुत भावुक और कठिन होने वाले हैं। जो हमसे बहुत दूर हैं यह हम सभी के लिए आघात करने वाला है। हम तब तक सुरक्षित नहीं हो सकते जब तक सभी सुरक्षित नहीं हैं। हम सभी को बहुत मजबूत होना है।
वे आगे कहते हैं - मैं तब तक नहीं बैठ सकता जब तक यह लक्ष्य पूरा नहीं हो जाता। बाकी सब इंतजार कर सकता है लेकिन हम जान बचाने में देरी नहीं कर सकते।
विकास के साथ कैलिफोर्निया का ऐड ग्रुप विभा भी काम कर रहा है। ताकि भारत के लिए जरूरी सभी मेडिकल उपकरण और फंड जुटाया जा सके।

दस लाख डॉलर जुटाने हैं अभी
विकास ने आगे बताया कि करीब 5 लाख डॉलर महज 5 दिन में ही कलेक्ट हो गए थे। विभा और विकास ने मिलकर 10 लाख डॉलर जुटाने का लक्ष्य बनाया है ताकि भारत के लिए जरूरी उपकरणों की सप्लाई की जा सके। विकास वैक्सीनेशनल सेंटर्स को भी फंड पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं। पिछले साल विकास ने लाखों लोगों तक राशन और फूड पैकेट्स पहुंचाए थे। जिसके लिए पहली लहर के दौरान उनकी मदद NDRF ने की थी।
इस साल भी विकास ने करीब 8 लाख मील्स पहुंचाने का लक्ष्य रखा है। जिसकी शुरुआत अगले हफ्ते से यानी मदर्स डे से कर रहे हैं।