पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुरेखा सीकरी का निधन:तीन बार नेशनल अवॉर्ड जीत चुकी थीं 'दादी सा', बहन बनना चाहती थी एक्ट्रेस लेकिन किस्मत सुरेखा सीकरी को NSD ले गई

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मशहूर एक्ट्रेस सुरेखा सीकरी का 75 साल की उम्र में कार्डियक अरेस्ट से निधन हो गया है। अभिनय की दुनिया में 50 साल तक सक्रिय रहीं सुरेखा को सबसे ज्यादा पहचान बालिका वधू में अपने किरदार कल्याणी देवी के रूप में मिली। इस सख्त दादीसा के किरदार ने उन्हें घर-घर में पॉपुलर कर दिया था। उन्हें आखिरी बार जोया अख्तर की घोस्ट स्टोरीज के सेग्मेंट में देखा गया था, जिसका प्रीमियर नेटफ्लिक्स पर हुआ था।

1978 में किया था डेब्यू

सुरेखा सीकरी के करियर की बात करें तो उन्होंने फिल्म किस्सा कुर्सी का से अपने फिल्मी सफर की शुरुआत की थी। यह फिल्म 1978 में रिलीज हुई थी। इसके बाद उन्होंने तमस, सलीम लंगड़े पे मत रो, सरदारी बेगम, सरफरोश, मम्मो, हरी-भरी, जुबैदा, मिस्टर एंड मिसेज अय्यर, रेनकोट, तुमसा नहीं देखा, देव डी, बधाई हो, शीर कोरमा और घोस्ट स्टोरीज जैसी फिल्मों में काम किया।

टेलीविजन पर दादीसा के नाम से मशहूर सुरेखा सीकरी ने बालिका वधु के अलावा एक था राजा एक थी रानी, परदेस में है मेरा दिल, सात फेरे, बनेगी अपनी बात, केसर, जस्ट मोहब्बत जैसे TV शो में भी काम किया था।

सुरेखा सीकरी फिल्मों में आने से पहले जर्नलिस्ट और राइटर बनना चाहती थीं, लेकिन किस्मत उन्हें नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा ले गई जहां उन्होंने 1968 में अपना ग्रेजुएशन पूरा किया। दरअसल, नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा तक पहुंचने की कहानी दिलचस्प है। सुरेखा की बहन फूलमनी एक्ट्रेस बनना चाहती थीं और वह NSD का फॉर्म लेकर आई थीं, लेकिन जल्द ही उनके सिर से एक्टिंग का भूत उतर गया और उनकी जगह सुरेखा ने ये फॉर्म भर दिया और NSD चली गईं।

तीन बार जीता नेशनल अवॉर्ड

NSD ग्रेजुएट सुरेखा सीकरी ने तीन नेशनल अवॉर्ड अपने नाम किए थे। 1988 में फिल्म 'तमस' और 1995 में 'मम्मो' के लिए वह बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस चुनी गई थीं। वहीं 2018 में आई बधाई हो ने भी उन्हें बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का नेशनल अवॉर्ड दिलवाया था। 1989 में हिंदी थिएटर में अपने जबरदस्त योगदान के चलते उन्हें संगीत नाटक अकादमी ने भी सम्मानित किया था।

पति का भी हो चुका निधन

सुरेखा सीकरी की पर्सनल लाइफ की बात करें तो उनके पिता एयरफोर्स में थे, जबकि मां टीचर थीं। सुरेखा ने हेमंत रेगे से शादी की थी, जिससे उनका एक बेटा हुआ जिसका नाम राहुल सीकरी है। राहुल मुंबई में रहते हैं और एक आर्टिस्ट हैं। हार्ट फेलियर के चलते सुरेखा के पति हेमंत रेगे का 20 अक्टूबर 2009 को निधन हो गया था। अभिनेता नसीरुद्दीन शाह सुरेखा के पूर्व बहनोई रह चुके हैं, जिनकी पहली शादी मनारा से हुई थी जो कि सुरेखा की सौतेली बहन हैं। मनारा और नसीर का बाद में तलाक हो गया था।

खबरें और भी हैं...