पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डॉक्टर की पिटाई का मामला:वरुण धवन ने घटना की निंदा की, बोले- इस तरह के कृत्यों को कभी भी सही नहीं ठहराया जा सकता

13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी की भारत में शुरुआत के बाद से, देश के अलग-अलग हिस्सों से डॉक्टर्स के खिलाफ हिंसा की कई रिपोर्टें सामने आई हैं। हाल ही में, असम के एक यंग डॉक्टर को एक मरीज के रिश्तेदारों और दोस्तों ने बेरहमी से पीटा, इस मामले ने लोगों को शॉक कर दिया है। बॉलिवुड एक्टर वरुण धवन ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया और इसकी निंदा की। उन्होंने कहा कि इस तरह के कृत्यों को कभी भी सही नहीं ठहराया जा सकता है।

वरुण की फैमिली में सात मेंबर्स थे कोरोना से संक्रमित

वरुण ने वीडियो में कहा, "यह एक सीरियस इश्यू है और हमें वास्तव में इस टॉपिक पर अवेयरनेस पैदा करने की जरूरत है। दूसरी लहर किसी के लिए भी आसान नहीं रही है, मेरी फैमिली के कम से कम सात मेंबर्स हैं, जिन्हें इस फेज के दौरान कोरोना हुआ और यह सब हमारी फैमिली के लिए बहुत स्ट्रेसफुल था। इसलिए मैं समझता हूं, लेकिन यह उन डॉक्टर्स के साथ अनफेयर है, जो आपका इलाज कर रहे हैं, जो दिन-रात आपके इलाज करने के लिए लगे हुए हैं।

वरुण ने डॉक्टर्स को किया सपोर्ट

वरुण ने आगे कहा, "मुझे नहीं लगता कि डॉक्टर्स ओवररिएक्ट कर रहे हैं, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमें इस बारे में बात करनी और इस बारे में जागरूकता पैदा करने की जरूरत पड़ रही है। वो डॉक्टर इन्फेक्टेड पेशेंट्स से जाके मिल रहा है, अपनी फैमिली से नहीं मिल रहा है, बिना ब्रेक लिए काम कर रहे हैं पीपीई किट्स में और हम उन पर हमला कर रहे हैं अगर हम अपने किसी प्रियजन को खो देते हैं तो। यह गलत है। लोगों को यह समझने की जरूरत है कि यह उनकी गलती नहीं है, यह बीमारी अभी नई है, लोग इसे समझ रहे हैं। लेकिन आप डॉक्टर्स को परेशान नहीं कर सकते, आप डॉक्टर्स पर हमला नहीं कर सकते, आप बस ऐसा नहीं कर सकते।"

वरुण की मौसी का भी हुआ निधन

वरुण ने आगे अपनी मौसी के बारे में भी बताया, जो पिछले साल शिकागो के एक हॉस्पिटल में ऐडमिट थीं और फिर 40 दिन बाद उनका निधन हो गया था। उन्होंने कहा कि यह दुखद है कि उन्हें डॉक्टर्स के लिए हिंसा के बारे में बात करनी पड़ रही है। उन्होंने यह भी कहा कि मेडिकल स्टाफ के खिलाफ इस तरह का बर्ताव सही नहीं है। सभी डॉक्टर्स भगवान की तरह हैं, खासकर मौजूदा हालात में।