• Hindi News
  • International
  • Eminem's Childhood Spent In Poverty; World's Most Successful Artist Today With 1 Oscar, 15 Grammys And 15 Guinness World Records

रैपर एमिनेम बर्थ-डे स्पेशल:2 साल की उम्र में पिता ने छोड़ा, मां को थी नशे की लत; लेकिन आज दुनिया के सबसे कामयाब कलाकार

एक महीने पहलेलेखक: हितेश तिवारी

हिपहॉप या रैप (रिदम एंड पोएट्री) म्यूजिक के भगवान कहे जाने वाले अमेरिकन रैपर एमिनेम का आज 49वां बर्थ-डे है। एमिनेम का असली नाम मार्शल ब्रूस मैथर्स है, लेकिन फैंस उन्हें स्लिम शेडी, रैपगॉड और बी-रैबिट के नाम से भी जानते हैं। अब तक अपने म्यूजिक करियर में उन्होंने 15 ग्रैमी, 1 ऑस्कर और कई सारे अवार्ड्स जीते हैं। एमिनेम एकमात्र ऐसे कलाकार हैं, जिनके 1 गाने को 200 करोड़ और 3 गानों को यूट्यूब पर 100 करोड़ से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं। वहीं गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी एमिनेम के नाम 15 रिकॉर्ड दर्ज हैं।

9 साल की उम्र में 10 दिन कोमा में रहे एमिनेम
एमिनेम का जन्म 17 अक्टूबर,1972 को अमेरिका के मिसौरी में हुआ था। एमिनेम जब महज 2 साल के थे, तब उनके पिता ने घर छोड़ दिया था और मां को नशे की लत लग चुकी थी। एमिनेम का बचपन भी गरीबी में कटा। कई बार घर का किराया न भरने के कारण उन्हें अपनी मां के साथ एक जगह से दूसरी जगह भटकना पड़ता था। 9 साल की उम्र में रंगभेद के चलते अश्वेत युवकों ने उन पर हमला किया और वे 10 दिन के लिए कोमा में चले गए थे।

दुनिया के पहले वाइट रैपर बने एमिनेम
एमिनेम के म्यूजिक करियर की शुरुआत साल 1988 में हुई थी, तब वे 16 साल के थे। करियर के शुरुआती दिनों में रंगभेद के चलते उन्हें कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। रैप म्यूजिक शुरुआत से ही ब्लैक (अश्वेत) लोगों का माना गया है। ऐसे में एक वाइट रैपर का आना कई लोगों को नागवारा था, लेकिन एमिनेम की कला के सामने उनके आलोचकों को भी झुकना पड़ा। आज दुनियाभर में रैप म्यूजिक को सुनने वाले लोग एमिनेम का नाम बखूबी जानते हैं।

ड्रग्स के दल-दल से निकलकर की थी ऐतिहासिक वापसी
एमिनेम ने साल 2002 से ड्रग्स लेना शुरू किया और उन्हें धीरे-धीरे इसकी लत लग गई। नींद की गोलियों की लत से छुटकारा पाने के लिए उन्होंने 2005 में रिहेब सेंटर (नशा मुक्ति केंद्र) जॉइन किया, लेकिन इसके बाद भी वे ड्रग्स लेते रहे। 2007 में मेथाडोन ड्रग्स का ओवरडोज होने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके बाद उन्होंने नशे से निजात पाने के लिए 12 चरण में इलाज शुरू किया। 20 अप्रैल, 2008 से अब तक ड्रग्स छोड़े उन्हें 13 साल हो चुके हैं। फोटो में दिख रहा है ये सिक्का उनकी इच्छाशक्ति और नशे पर उनकी जीत को दर्शाता है।

30 सेकेंड में 225 शब्द, 7.5 शब्द प्रति सेकेंड की स्पीड से रैप करने का रिकॉर्ड
2013 में आए सॉन्ग 'रैप गॉड' में एमिनेम ने सबसे तेज स्पीड से रैप कर रिकॉर्ड बनाया था। इस सॉन्ग में 15 सेकेंड में 97 शब्द यानी 6.46 शब्द प्रति सेकेंड की स्पीड से रैप करने पर उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ था। 2020 में आए सॉन्ग 'गॉडजिला' में एमिनेम ने 30 सेकेंड में 225 शब्द, 7.5 शब्द प्रति सेकेंड की स्पीड से रैप कर अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया था।

ऑस्कर अवॉर्ड में परफॉर्मेंस के बाद हॉलीवुड की हस्तियों ने दिया स्टैंडिंग ओवेशन
2002 में आई एमिनेम की सेमी ऑटोबायोग्राफी फिल्म 8 माइल के सॉन्ग 'लूज युवरसेल्फ' के लिए उन्हें ऑस्कर अवॉर्ड मिला था। कमाल की बात यह है कि जब उन्हें ऑस्कर मिला, तब वे वहां मौजूद नहीं थे। वे घर पर अपनी 7 साल की बेटी के साथ टीवी पर उसका पसंदीदा कार्टून देख रहे थे। 2003 में मिले अवॉर्ड के लिए एमिनेम ने 17 साल बाद ऑस्कर में परफॉर्म किया। एमिनेम के इस परफॉर्मेंस के बाद वहां मौजूद सभी लोगों ने खड़े होकर उन्हें स्टैंडिंग ओवेशन दिया था।

खबरें और भी हैं...