पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अपील:FWICE ने लिखा महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरे को लेटर, मीडिया एंड एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में फिर से काम शुरू करने की अनुमति मांगी

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कारण फिल्मों और टेलीविजन की शूटिंग फिलहाल रुकी हुई हैं। अब इस बात को लेकर सोमवार को फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (FWICE) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को एक लेटर लिखा है। इस लेटर में FWICE ने CM से मीडिया एंड एंटरटेनमेंट (M&E) इंडस्ट्री में काम फिर से शुरू करने के लिए अनुमति देने की मांग की है।

पिछले डेढ़ साल से बेरोजगार हैं लाखों डेली वेजेस वर्कर्स
FWICE ने लेटर में लिखा, "हम M&E इंडस्ट्री में काम फिर से शुरू करने को लेकर पहले भी कई बार आपको लेटर भेज चुके हैं। हालांकि, अब तक हमें आपके ऑफिस की तरफ से कोई जवाब नहीं मिला है और हमारे अनुरोधों पर कोई फैसला भी नहीं लिया गया। सर, हम आपको बताना चाहते हैं कि लाखों आर्टिस्ट, वर्कर्स और तकनीशियन हैं, जो पिछले डेढ़ साल से बेरोजगार हैं। और उनके लिए इंकम का एकमात्र सोर्स M&E इंडस्ट्री ही है। यह इंडस्ट्री लाखों लोगों को काम प्रदान करती है, जिससे वे अपनी फैमिली के लिए दैनिक रोटी कमाने में सक्षम हो पाते हैं। हालांकि, इंडस्ट्री के लॉकडाउन होने से सबसे ज्यादा प्रभाव इन डेली वेजेस वर्कर्स की लाइफ पर ही पड़ रहा है। जिनके पास इंकम का कोई दूसरा सोर्स नहीं है और वे पूरी तरह से इंडस्ट्री के काम पर ही निर्भर हैं।"

इंटस्ट्री की इकोनॉमी को एक और लॉकडाउन से भारी झटका लगेगा
FWICE ने लेटर में आगे लिखा, "अगर एक और बार 15 दिनों के लिए भी लॉकडाउन की अनाउंसमेंट होती है, तो वास्तव में इससे आर्टिस्ट, वर्कर्स और तकनीशियनों और इंडस्ट्री की इकोनॉमी को भारी झटका लगेगा। न केवल वर्कर्स बल्कि प्रोड्यूसर्स भी पहले से ही भारी निवेश से बुरी तरह प्रभावित हैं। प्रोड्यूसर्स ने यह निवेश चल रहे प्रोजेक्ट्स पर किया था, जो दुर्भाग्यपूर्ण लॉकडाउन के कारण रुक गए हैं। इंडस्ट्री के आर्टिस्ट, वर्कर्स और तकनीशियन के 32 विभिन्न क्राफ्ट्स की मातृ संस्था होने के नाते हमारे सदस्यों के पास कई कॉल आते हैं। इन सभी कॉल में लोग अनुरोध करते हैं कि इंडस्ट्री में काम फिर से शुरू किया जाए।"

इंडस्ट्री में फिर से काम शुरू करने की अनुमति प्रदान करें
FWICE ने लिखा, "सर, हम आपसे अनुरोध करते हैं कि कृपया हमें M&E इंडस्ट्री के काम को फिर से शुरू करने के लिए एक विशेष अनुमति प्रदान करें। जिससे इन लाखों डेली वेजेस वर्कर्स को इस सबसे कठिन समय में अपना जीवन यापन करने और अपनी फैमिली के साथ सर्वाइव करने में सक्षम बनाया जा सके। हम यह सुनिश्चित करते हैं कि काम फिर से शुरू होने पर M&E इंडस्ट्री के लिए सरकार द्वारा जारी किए गए सभी दिशा-निर्देश और SOP का सख्ती से पालन किया जाएगा।"

वर्क लोकेशन पर सभी आवश्यक सावधानी बरती जाएंगी
FWICE ने लिखा, "FWICE और समन्वय समिति आपको आश्वस्त करती है कि सरकार के सभी नियमों और विनियमों का पालन सभी क्रू-मेंबर्स के एक-एक सदस्य द्वारा किया जाएगा और हर एक वर्क लोकेशन पर सभी आवश्यक सावधानी बरती जाएंगी। हम M&E इंडस्ट्री में काम फिर से शुरू करने के लिए आपकी अनुमति का इंतजार करेंगे।" इस लेटर में FWICE के मुख्य सलाहकार अशोक पंडित, अध्यक्ष बीएन तिवारी, मुख्य सलाहकार शरद शेलार, महासचिव अशोक दुबे और कोषाध्यक्ष गंगेश्वर श्रीवास्तव के हस्ताक्षर मौजूद हैं।

खबरें और भी हैं...