प्रोड्यूसर मुश्ताक नाडियाडवाला ने लगाई इंसाफ की गुहार:बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर कर पाकिस्तान से बच्चों को वापस लाने की मांग की

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बॉलीवुड फिल्म प्रोड्यूसर मुश्ताक नाडियाडवाला ने दावा किया है कि उनकी पत्नी मरियम चौधरी ने अवैध रूप से उनके बच्चों को पाकिस्तान में बंधक बनाकर रखा है। इस मामले में प्रोड्यूसर ने बॉम्बे हाईकोर्ट से इंसाफ की गुहार लगाते हुए पिटीशन फाइल की है। इसमें उन्होंने मांग की है कि उनके बच्चों को सुरक्षित पाकिस्तान से भारत वापस लाया जाए। इस मामले में कोर्ट ने विदेश मंत्रालय से जवाब मांगा है।

29 अगस्त को होगी सुनवाई
प्रोड्यूसर ने याचिका में कहा कि उनके बच्चे पाकिस्तान विजिटिंग वीजा पर गए थे, जो कि साल 2021 में ही खत्म हो चुका है। इसके बावजूद भी मरियम ने उनके 9 साल के बेटे और 6 साल की बेटी को अवैध रूप से पाकिस्तान में रखा हुआ है। मुश्ताक का कहना है यह इमिग्रेशन कानून के खिलाफ है, ऐसे में उनके बच्चों को भारत वापस भेजना चाहिए। वहीं, जज नितिन जामदार की अध्यक्षता वाली बेंच ने गुरुवार को मामले की सुनवाई की। क्योंकि यह मामला दो देशों का है ऐसे में कोर्ट ने विदेश मंत्रालय को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। बता दें मामले की अगली सुनवाई 29 अगस्त को होगी।

मरियम के परिवार को ठहराया जिम्मेदार
मुश्ताक ने याचिका में यह भी दावा किया है कि उनकी पत्नी उन्हें बिना कारण बताए भारत लौटने से मना कर दिया है। ऐसे में हो सकता है कि मरियम ने परिवार ने उनका ब्रेनवॉश कर या उन्हें जबरन पाकिस्तान में रहने पर मजबूर किया हो।

मरियम बच्चों को लेकर चली गई पाकिस्तान
याचिका के अनुसार मुश्ताक और मरियम चौधरी की प्रेम कहानी लंदन से शुरू हुई थी। कुछ समय तक रिलेशनशिप में रहने के बाद साल 2012 में कपल शादी कर ली। इसके बाद मरियम भारत आ गईं और उन्होंने यहां की नागरिकता के लिए अप्लाई कर दिया। इसी बीच उनके दो बच्चे हुए।
हालांकि साल 2020 में वो अपने बच्चों को लेकर पाकिस्तान चली गईं, जहां पर उन्होंने साल 2021 में लाहौर की अदालत में बच्चों की लीगल गार्जियनशिप के लिए पिटीशन फाइल की। इस पिटीशन को लाहौर कोर्ट ने मंजूरी दे दी।

खबरें और भी हैं...