पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कंगना रनोट के खिलाफ बंगाल में दूसरी FIR:TMC नेता ने कंगना पर लगाया नफरत फैलाने का आरोप, एक्ट्रेस ने ममता को बताया खून की प्यासी

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
TMC नेता ऋजु दत्ता ने कंगना रनोट के खिलाफ यह FIR उनकी सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर की है। - Dainik Bhaskar
TMC नेता ऋजु दत्ता ने कंगना रनोट के खिलाफ यह FIR उनकी सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर की है।

कंगना रनोट के खिलाफ पश्चिम बंगाल के उल्टाडांगा में FIR दर्ज हुई है। तृणमूल कांग्रेस पार्टी के नेता ऋजु दत्ता द्वारा दर्ज कराई कई इस FIR में एक्ट्रेस पर नफरत फैलाने का आरोप लगाया गया है। नेता ने सोशल मीडिया पर शिकायत पत्र की हाथ से लिखी हुई कॉपी शेयर करते हुए लिखा है, 'सांप्रदायिक हिंसा भड़काने के उद्देश्य से नफरत फैलाने और हमारी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की छवि खराब करने के लिए मैंने कंगना रनोट के खिलाफ बंगाल में FIR दर्ज कराई है।'

कंगना की सोशल मीडिया पोस्ट पर आपत्ति
ऋजु ने कंगना के खिलाफ यह FIR उनकी एक सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर की है। दरअसल, कंगना ने चुनाव के बाद हो रही हिंसा पर रिएक्ट करते हुए लिखा था, 'इस फासीवादी राक्षसी ममता का सपोर्ट करने वालों पर लानत है। इस सरकार (केंद्र) को शर्म आनी चाहिए , जो अपने सपोर्टर्स को नहीं बचा सकती।' रिपोर्ट्स की मानें तो कंगना ने सोशल मीडिया स्टोरी में ममता की कुछ विवादित फोटो भी शेयर की थीं।

कंगना ने ममता को बताया खून की प्यासी
FIR पर रिएक्शन देते हुए कंगना ने अपने बयान में कहा, 'विडंबना यह है कि खून की प्यासी राक्षसी ममता, जो उन्हें वोट न देने वालों को खुलकर मार रही हैं और लिंच कर रही हैं, वह मुझ पर सांप्रदायिक हिंसा का आरोप लगा रही हैं। राक्षसी ममता यह तो तुम्हारे अंत की शुरुआत है। पूरा देश तुम्हारे हाथों मासूमों का खून बहते देख रहा है। तुम मेरे खिलाफ कई केस या FIR करके भी मुझे डरा नहीं सकतीं या मेरी आवाज को नहीं दबा सकतीं।'

कोलकाता में भी कंगना के खिलाफ केस
कुछ दिनों पहले एडवोकेट सुमीत चौधरी ने कोलकाता के पुलिस कमिश्नर सौमेन मित्रा को ई-मेल भेजकर एक्ट्रेस की शिकायत की थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि कंगना के ट्वीट लगातार पश्चिम बंगाल की जनता का अपमान कर रहे हैं, जिनसे वहां के लोगों की भावनाएं आहत हो रही हैं। उन्होंने आरोप लगाया था कि कंगना अपने इरादे को पूरा करने के लिए बंगाल की जनता को भड़का रही हैं।

दरअसल, पश्चिम बंगाल में टीएमसी की जीत के बाद कंगना ने अपनी एक पोस्ट में लिखा था कि वहां बांग्लादेशी और रोहिंग्या की संख्या ज्यादा है। इससे स्पष्ट नजर आता है कि हिंदू बहुमत में नहीं हैं। जबकि डेटा बंगाली मुसलामानों को पूरे भारत में सबसे गरीब और बंचित बताता है। उन्होंने ट्वीट में लिखा था, 'अच्छा है दूसरा कश्मीर बनने जा रहा है।'

ट्विटर अकाउंट हो चुका सस्पेंड

मंगलवार को ट्विटर ने नियमों के उलंघन का हवाला देकर कंगना रनोट का अकाउंट सस्पेंड कर दिया था। यह एक्शन एक्ट्रेस की उन पोस्ट्स के बाद लिया गया था, जिनमें उन्होंने पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा को लेकर नाराजगी जाहिर की थी और केंद्र सरकार से वहां राष्ट्रपति शासन की मांग की थी। इतना ही नहीं, एक ट्वीट में कंगना ने ममता बनर्जी को ताड़का बताया था।

उन्होंने लिखा था, 'मैं गलत थी, वह रावण नहीं है। वह तो सबसे अच्छा राजा था, जिसने दुनिया का सबसे सम्पन्न देश बनाया। वह ग्रेट एडमिनिस्ट्रेटर, स्कॉलर और वीणा वादक था। वह तो खून की प्यासी राक्षसी ताड़का है, जिन्होंने उसे वोट दिया। तुम्हारे हाथ भी खून से सने हुए हैं।'

खबरें और भी हैं...