• Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Happy Bithday Saira Bano: Saira Banon Wanted To Marry 22 year old Dilip Kumar At The Age Of 12, The Actor Used To Go From Mumbai To Chennai Every Day To Meet The Actress.

हैप्पी बर्थडे सायरा बानो:12 साल की उम्र में 22 साल बड़े दिलीप कुमार से शादी करना चाहती थीं सायरा बानो, एक्ट्रेस से मिलने रोजाना मुंबई से चेन्नई जाते थे एक्टर

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

7 जुलाई 2021 को बॉलीवुड की सबसे कामयाब और खूबसूरत जोड़ी तब टूट गई जब दिलीप साहब दुनिया और सायरा बानो को अलविदा कह गए। हमेशा एक दूसरे के साथ बने रहे सायरा और दिलीप की खूबसूरत लव स्टोरी किसी रोमांटिक फिल्म से कम नहीं थी। आज एक्ट्रेस के जन्मदिन के खास मौके पर आइए जानते हैं कैसे शुरू हुआ था दोनों का अटूट रिश्ता-

1961 में जंगली फिल्म से बॉलीवुड डेब्यू करने वालीं सायरा की मां नसीम बानो अपने जमाने की मशहूर एक्ट्रेस थीं और उनकी नानी शमशाद बेगम दिल्ली की मशहूर गायिका थीं। नसीम से एहसान मिंया से शादी की थी जो बंटवारे के बाद पाकिस्तान चले गए थे, लेकिन नसीम बच्चों के साथ लंदन में रहती थीं। बाद में उनका परिवार भारत आ गया था। यहां सायरा ने महज 16 साल की उम्र में जंगली फिल्म से डेब्यू किया था, जिसके बाद वो आई मिलन की बेला, ब्लफमास्टर, पड़ोसन, पूरब-पश्चिम, झुक गया आसमान, आखिरी दांव और बैराग जैसी कई हिट फिल्मों में नजर आ चुकी हैं। साल 1963-1969 में एक्ट्रेस तीसरी सबसे ज्यादा फीस लेने वाली और 1971-75 में चौथी सबसे ज्यादा फीस लेने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस थीं।

12 साल की उम्र में दिलीप की दीवानी हो गई थीं सायरा

एक इंटरव्यू के दौरान सायरा ने बताया कि 12 साल की उम्र में वो अपनी मां नसीम के साथ महबूब खान की फिल्म आन देख रही थीं, जिसमें दिलीप कुमार लीड रोल में थे। एक्टर का दमदार रोल देखकर ही सायरा उन्हें पसंद करने लगी थीं। फिल्म देखकर सायरा ने अपनी मां से जिद करने लगीं कि वो इसी शख्स से शादी करेंगी। उस समय सायरा को बच्चा समझकर हर किसी ने नजरअंदाज कर दिया, लेकिन किसे पता था कि उनकी जिद सच हो जाएगी।

राजेंद्र कुमार से शादी करना चाहती थीं सायरा

साल 1963 में सायरा बानो ने राजेंद्र कुमार के साथ आई मिलन की बेला में काम किया था। फिल्म के दौरान दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ने लगीं और सायरा ने उनसे शादी करने की जिद पकड़ ली, लेकिन राजेंद्र पहले से ही शादीशुदा था। जब इस बारे में सायरा की मां को पता चला तो वो सीधे दिलीप कुमार के पास पहुंची। सायरा, दिलीप की फैन थीं, ऐसे में उनकी मां चाहती थीं कि दिलीप उन्हें समझाएं कि वो राजेंद्र से शादी करने की जिद छोड़ दें।

दिलीप और सायरा के बीच अच्छी दोस्ती नहीं थी, न ही दोनों ने साथ में ज्यादा फिल्मों में काम किया था, लेकिन फिर भी एक्टर उन्हें समझाने पहुंच गए। दिलीप ने उन्हें बताया कि वो शादी के बाद एक दूसरी महिला बनकर रह जाएंगी। इसी बीच अचानक सायरा ने दिलीप ने पूछ लिया कि क्या आप मुझसे शादी करेंगें। ये सुनकर जाहिर तौर पर दिलीप साहब हैरान जरुर हुए होंगे, लेकिन इसके बाद दोनों के रास्ते एक हो गए।

रोज मुंबई से चेन्नई आते थे दिलीप साहब

बताया जाता है कि दिलीप कुमार, सायरा से मिलने के लिए रोजाना मुंबई से फ्लाइट पकड़कर चेन्नई जाया करते थे, और मुलाकात के तुरंत बाद फ्लाइट लेकर मुंबई आ जाया करते थे। सायरा को अपने साथ घुमाने के लिए दिलीप साहब उनके घरवालों से परमिशन भी लेते थे।

दिलीप कुमार और सायरा बानो ने 11 अक्टूबर 1966 में शादी कर ली। उस समय सायरा 22 और दिलीप उनसे दोगुने 44 साल के थे।

क्यों कभी मां नहीं बनीं सायरा

दिलीप कुमार ने अपनी ऑटोबायोग्राफी दिलीप कुमार-द सब्सटेंट एंड द शैडो में बताया है कि साल 1976 में सायरा मां बनने वाली थीं, लेकिन 8वें महीने में ब्लडप्रेशर बढ़ने के कारण उनके बच्चे की जान नहीं बच पाई। इस बच्चे को खोकर कपल इतने टूट गए कि उन्होंने कभी बच्चे न करने का फैसला कर लिया। दोनों हमेशा एक दूसरे का सहारा रहे।

खबरें और भी हैं...