गाल पर बवाल:मंत्री गुलाबराव पाटिल ने सड़कों की तुलना हेमा मालिनी के गालों से की, एक्ट्रेस बोलीं- ये ट्रेंड बन गया है

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महाराष्ट्र के जल आपूर्ति और स्वच्छता मंत्री गुलाबराव पाटिल ने सड़कों की तुलना एक्ट्रेस और भाजपा सांसद हेमा मालिनी के गालों से की है। दरअसल रविवार को एक राजनीतिक रैली में शामिल हुए थे। गुलाबराव ने अपने बयान में कहा था, 'जो 30 सालों से विधायक रहे हैं उन्हें मेरे विधानसभा क्षेत्र में आना चाहिए और यहां कि सड़कें देखनी चाहिए। अगर सड़कें हेमा मालिनी के गालों जैसी नहीं हुईं तो मैं इस्तीफा दे दूंगा।'

मुझे इस तरह के कमेंट्स पसंद नहीं हैं
हेमा मालिनी ने महाराष्ट्र के मंत्री गुलाबराव पाटिल के बयान पर अपना रिएक्शन देते हुए कहा,"बेहतर होगा कि मैं अपने गालों को ठीक से, सुरक्षित रूप से रख लूं। मुझे इस तरह के कमेंट्स पसंद नहीं हैं।" उन्होंने कहा कि मेरे सड़क और मेरे गालों की तुलना करने का ट्रेंड सबसे पहले लालू प्रसाद यादव ने की थी। उसके बाद ये ट्रेंड अब भी जारी है। हेमा ने आगे कहा, "ऐसा नहीं करना चाहिए। किसी भी महिला के बारे में ऐसी बातें किसी को नहीं करनी चाहिए।

गुलाब राव पाटिल ने माफी मांगी
मंत्री गुलाबराव ने अपने बयान पर मांफी मांगते हुए कहा "मेरा मतलब किसी को चोट पहुंचाना नहीं था। मुझे अपने कमेंट के लिए खेद है। मैं उस शिवसेना से ताल्लुक रखता हूं जिसके आइडल छत्रपति शिवाजी महाराज हैं। हमारी पार्टी के संस्थापक बाला साहेब ठाकरे ने हमें महिलाओं का सम्मान करना सिखाया है।

संजय राउत ने भी दिया बयान
गुलाबराव के बयान के बाद इस विवाद में सांसद संजय राउत भी कूद पड़े हैं। उन्होंने कहा, इस तरह की तुलना पहले भी हुई है और इसे हेमा जी के प्रति सम्मान के रूप में देखा जाना चाहिए। हम उनकी इज्जत करते हैं। इसे नेगेटिव रूप में नहीं देखें। इससे पहले बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव ने भी ऐसा उदाहरण दिया था।

हेमा का राजनातिक सफर
हेमा मालिनी 2003 से भाजपा की राज्यसभा सांसद हैं। 2014 में भाजपा की टिकट से मथुरा से चुनाव जीत कर लोकसभा पहुंची हैं। हेमा को आखिरी बार फिल्म 'शिमला मिर्ची' में देखा गया था। इसमें उनके साथ, राजकुमार राव और रकुल प्रीत सिंह नजर आए थे।

खबरें और भी हैं...