पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अयोध्या में भूमिपूजन, बॉलीवुड में खुशी:लताजी ने कहा सदियों से अधूरा सपना आज साकार होता दिख रहा, अनुपम खेर बोले- जयश्री राम

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फोटो 90 के दशक में दूरदर्शन पर टेलीकास्ट हुए शो रामायण की है। इसमें राम की भूमिका अरुण गोविल ने निभाई थी।
  • लता मंगेशकर ने कहा- राम मंदिर निर्माण का बहुत बड़ा श्रेय आडवाणी जी और बाला साहब ठाकरे को
  • रामायण में राम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल ने कहा- पूरी दुनिया के भक्तों का सपना साकार हो रहा

भारतीय सिनेमा ने ही भगवान राम और रामकथा को हर उस घर तक पहुंचाया जो राम जन्मभूमि तक नहीं पहुंच सकता था। राम जन्मभूमि पूजन के दिन यह खुशी हर उस कलाकार ने भी जाहिर की जो कहीं न कहीं, किसी न किसी रूप में भगवान राम से जुड़ा था। सेलेब्स ने सोशल मीडिया पर अपनी भावनाएं व्यक्त कीं।

लता जी का पूरा ट्वीट है- नमस्कार, कई राजाओं,कई पीढ़ियों और समस्त विश्व के राम भक्तों का सदियों से अधूरा सपना आज साकार होता दिख रहा है। कई सालों के वनवास के बाद आज अयोध्या में प्रभु श्रीराम के मंदिर का पुनर्निर्माण हो रहा है, शिलान्यास हो रहा है।

उन्होंने लिखा- इसका बहुत बड़ा श्रेय माननीय लालकृष्ण आडवाणी को जाता है, क्योंकि उन्होंने इस मुद्दे को लेकर रथ यात्रा करके पूरे भारत में जनजागृति की थी। श्रेय माननीय बालासाहेब ठाकरे जी को भी जाता है। आज बहुत बड़ा आयोजन हो रहा है, उसमें माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, आरएसएस के सरसंघ चालक मोहन भागवत जी, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और राम जन्मभूमि न्यास अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास जी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित होंगे।

आज भले ही करोना की वजह से लाखों रामभक्त वहां पहुंच नहीं पाएंगे पर उनके मन और ध्यान श्रीराम के चरणों में ही होंगे। मुझे ख़ुशी है की ये समारोह नरेंद्रभाई के करकमलों से हो रहा है। आज मैं, मेरा परिवार और पूरा संसार बहुत खुश है और मानो आज हर धड़कन हर सांस कह रही है जय श्रीराम।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें