जैकलीन को हेलिकॉप्टर गिफ्ट:200 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग केस के आरोपी सुकेश ने दिया था मिनी चॉपर, जैकलीन ने लौटाया

मुंबईएक महीने पहले

200 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग केस के आरोपी सुकेश चंद्रशेखर ने फिल्म एक्ट्रेस जैकलीन फर्नांडिस का भरोसा जीतने के लिए उन्हें करोड़ों के तोहफे दिए थे। इस बात का खुलासा ED ने अपनी चार्जशीट में किया है। चार्जशीट के मुताबिक सुकेश ने जैकलीन को मिनी चॉपर भी दिया था, लेकिन एक्ट्रेस ने वह चॉपर लौटा दिया था। यह चार्जशीट ED ने जैकलीन से 30 अगस्त और 20 अक्टूबर को हुई पूछताछ के बाद फाइल की है।

भाई, बहन और मां पर भी लुटाए पैसे
सुकेश ने जैकलीन को गुची के 3 डिजाइनर बैग, जिम वियर, एक जोड़ी लुई वीटन के जूते, दो जोड़ी हीरे की ईयररिंग्स और माणिक का एक ब्रेसलेट, दो हेमीज ब्रेसलेट, 15 जोड़ी ईयररिंग्स, 5 बर्किन बैग्स दिए थे। इतना ही नहीं, जैकलीन की मां को पोर्शे कार दी थी। यूएस में रहने वाली बहन जेराल्डिन को BMW और 1.8 लाख डॉलर भेजे थे। वहीं ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले उनके भाई को 15 लाख रुपए भेजे थे। जैकलीन ने कहा था कि उनकी बहन ने 1.5 लाख डॉलर का लोन सुकेश से लिया था।

52 लाख का घोड़ा भी दिया था गिफ्ट में
इससे पहले यह भी जानकारी सामने आई थी कि चंद्रशेखर ने एक्ट्रेस को गोल्ड और डायमंड ज्वेलरी, इम्पोर्टेड क्रॉकरी दी थीं। इनके अलावा 52 लाख रुपए का एक घोड़ा और 9-9 लाख की चार पर्शियन कैट भी गिफ्ट की थीं। जैकलीन के लिए सुकेश ने कई चार्टर्ड फ्लाइट्स बुक की थीं। ED सूत्रों के मुताबिक, चंद्रशेखर ने एक्ट्रेस पर करीब 10 करोड़ रुपए खर्च किए थे।

पिंकी ईरानी सिलेक्ट करती थी तोहफे
चार्जशीट में यह भी बताया गया है कि सुकेश की सहयोगी पिंकी ईरानी ही जैकलीन को दिए जाने वाले तोहफे सिलेक्ट करती थी। पिंकी को हाल ही में गिरफ्तार किया गया है। पिंकी ने जो खुद को जैकलीन के स्टाफ की एंजेल बताती है, उसने ही चंद्रशेखर को एक्ट्रेस से मिलवाया था। पिंकी ही लग्जरी गिफ्ट्स एक्ट्रेस तक पहुंचाती थी।

ED जल्द ही फाइल करेगी सप्लीमेंट्री चार्जशीट
चंद्रशेखर ने कहा है कि एक्ट्रेस नोरा फतेही महबूब खान के नाम से बीएमडब्ल्यू खरीदना चाहती थीं। उनकी रिक्वेस्ट पर चेन्नई में बी. मोहन राज को 75 लाख रुपए दिए गए थे। ईडी जल्द ही सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल करेगी, जिसमें ईरानी समेत और भी आरोपियों का नाम हो सकते हैं।

200 करोड़ की ‌वसूली का है मामला
यह मामला दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (EOW) में सुकेश और अन्य के खिलाफ कथित आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी और करीब 200 करोड़ रुपए की जबरन वसूली को लेकर दर्ज FIR पर आधारित है।

ED ने छापेमारी के बाद अपने बयान में कहा था, 'सुकेश चंद्रशेखर इस धोखाधड़ी का मास्टरमाइंड है। वह 17 साल की उम्र से अपराध की दुनिया का हिस्सा रहा है।' ईडी ने 24 अगस्त को सुकेश के चेन्नई में सी-फेसिंग बंगले को सीज किया था। उसके बंगले से 82.5 लाख रुपए नगद, 2 किलोग्राम सोना और एक दर्जन से अधिक लग्जरी कारों को जब्त किया गया था। ED प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत जैकलीन का बयान भी दर्ज कर चुकी है।