मनी लॉन्ड्रिंग केस में ED जैकलीन को आरोपी बनाएगी:आज कोर्ट में पेश हो सकती है चार्जशीट, 7.27 करोड़ का फंड पहले अटैच कर चुकी

एक महीने पहले

एक्ट्रेस जैकलीन फर्नांडीज की मुश्किलें बढ़ गई हैं। ED एक्ट्रेस को 200 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग केस में आरोपी बनाने की तैयारी में है। जांच एजेंसी बुधवार को कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर सकती है। ED ने अप्रैल में एक्ट्रेस की सात करोड़ से अधिक संपत्ति अटैच की थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ED का मानना है कि जैकलीन को शुरू से पता था कि इस केस के मख्य आरोपी सुकेश चंद्रशेखर ठग है और वह जबरन वसूली करने वाला है। दोनों रिलेशन में थे। इनकी कई प्राइवेट फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं, जिसके बाद ED ने जैकलीन से पूछताछ की और दोनों की फोटोज को सबूत के रूप में रखा है। सुकेश ने रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर्स की पत्नियों से 200 करोड़ रुपए वसूले थे।

खबर में आगे बढ़ने से पहले आप पोल पर अपनी राय दे सकते हैं...

जैकलीन की गिरफ्तारी संभव
जैकलीन की इस मामले में फिलहाल गिरफ्तारी अभी नहीं हो सकती है, क्योंकि ED ने अभी तक चार्जशीट अदालत में पेश नहीं की है। अदालत में सुनवाई के बाद गिरफ्तारी की जा सकेगी। हालांकि, अभी उन्हें देश से बाहर जाने की अनुमति नहीं है।

जैकलीन को सुकेश ने पर्शियन ब्रीड की बिल्लियां गिफ्ट की थीं।
जैकलीन को सुकेश ने पर्शियन ब्रीड की बिल्लियां गिफ्ट की थीं।

सुकेश ने जैकलीन को डायमंड रिंग देकर प्रपोज किया था
ED की पूछताछ में जैकलीन ने सुकेश के साथ रिलेशन की बात मानी थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक्ट्रेस ने पूछताछ में बताया कि उसने सुकेश से करोड़ों के रुपए के गिफ्ट लिए थे। सुकेश ने उसे डायमंड रिंग देकर प्रपोज किया था। इस रिंग में J और S बना हुआ था।

सुकेश ने एक्ट्रेस को एस्पुएला नाम का एक 50 लाख का घोड़ा और 9-9 लाख रुपए की बिल्लियां गिफ्ट की थीं। इनके अलावा, गुच्ची के 3 डिजाइनर बैग, गुच्ची के 2 जिम वियर, लुई विटॉन के एक जोड़ी शूज, हीरे की दो जोड़ी बालियां, माणिक का एक ब्रेसलेट, दो हेमीज ब्रेसलेट और एक मिनी कूपर कार दी थी।

यह फोटो दिल्ली के ईडी ऑफिस की है। उनसे अब तक 8 बार पूछताछ की जा चुकी है।
यह फोटो दिल्ली के ईडी ऑफिस की है। उनसे अब तक 8 बार पूछताछ की जा चुकी है।

200 करोड़ ठगी केस: रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर्स की पत्नियों से वसूले थे
सुकेश चंद्रशेखर से जुड़े केस में सबसे पहले दिल्ली पुलिस में FIR दर्ज हुई थी। उस FIR पर दिल्ली EOW ने अगस्त में जांच शुरू की। इस मामले में ED ने भी मनी लॉन्ड्रिंग की जांच शुरू कर दी थी। सुकेश पर आरोप है कि उसने रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर शिविंदर सिंह और मालविंदर सिंह को जेल से बाहर निकलवाने का झांसा देकर उनकी पत्नियों से 200 करोड़ से अधिक की ठगी की।

सुकेश खुद को कभी PM ऑफिस और कभी गृह मंत्रालय से जुड़ा अधिकारी बताता। उसकी इस धोखाधड़ी में तिहाड़ जेल के कई अफसर भी शामिल थे। सुकेश इन सभी को मोटी रकम देता था। ED ने 24 अगस्त को चेन्नई में सुकेश का सी-फेसिंग बंगला सीज कर लिया था। बंगले से 82.5 लाख रुपए, 2 किलो सोना और 12 से ज्यादा लग्जरी कारें जब्त की गई थीं।