फिल्ममेकर लीना मणिमेकलई के खिलाफ केस दर्ज:दिल्ली पुलिस की IFSO यूनिट ने दर्ज किया मामला, धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप

एक महीने पहले

फिल्ममेकर लीना मणिमेकलाई के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। लीना के ऊपर दिल्ली पुलिस की IFSO यूनिट ने केस दर्ज किया है। उनपर अपनी डॉक्यूमेंट्री 'काली' के पोस्टर से धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप है। पुलिस ने उनपर धारा 153A, 295A के तहत मामला दर्ज किया है। दरअसल, उन्होंने अपनी डॉक्यूमेंट्री 'काली' का पोस्टर रिलीज किया, जिसमें मां काली बनी अभिनेत्री को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है। पोस्टर में मां काली के एक हाथ में त्रिशूल और दूसरे हाथ में LGBTQ का झंडा दिखाया गया है, जिससे विवाद और ज्यादा बढ़ गया।

मैं डरती नहीं हूं: लीना
पोस्टर रिलीज होने के बाद बढ़ता विवाद देख लीना ने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर लिखा, "मेरे पास खोने के लिए कुछ नहीं है। मैं हमेशा उन लोगों के साथ आवाज उठाऊंगी, जो निडर होकर बोलते हैं। अगर इसकी कीमत मेरी जिंदगी है, तो मैं वह भी दे दूंगी।" लीना ने बताया था कि उनकी यह फिल्म टोरंटो के आगा खान म्यूजियम में हुए कार्यक्रम 'रिदम ऑफ कनाडा' का एक पार्ट थी। जब लीना को काफी आलोचना झेलनी पड़ी तो उन्होंने सोशल मीडिया अकाउंट प्राइवेट कर लिया और कमेंट्स रिस्ट्रिक्ट कर दिए।

विरोध होने पर लीना ने तमिल में पोस्ट शेयर कर लिखा, "यह फिल्म एक ऐसी घटना की कहानी है, जिसमें एक शाम काली प्रकट होती हैं और टोरंटो की सड़कों पर घूमने लगती हैं। अगर आप पिक्चर देखोगे तो आप मुझे अरेस्ट करने वाले हैशटैग के ट्वीट नहीं, बल्कि मुझे प्यार करने वाले हैशटैग के ट्वीट शेयर करेंगे।"

धार्मिक भावनाएं आहत नहीं की जा सकतीं: नुसरत जहां
नुसरत जहां ने इस मामले पर एक इवेंट के दौरान बातचीत में कहा, "मैं कहूंगी कि धर्म को बीच में मत लाओ। इस चीज को बेचने लायक मत बनाओ। बहुत आसान होता है, अपने ड्राइंग रूम में बैठकर सारी मसालेदार स्टोरी को देखना। लेकिन अगर आप मेरी राय पूछेंगे तो मैंने हमेशा क्रिएटिविटी को अलग से सपोर्ट किया है। व्यक्तित्व को अलग सपोर्ट किया है। और मैंने यह भी हमेशा से माना है कि धार्मिक भावनाएं आहत नहीं की जा सकतीं।"

नुसरत ने आगे कहा, "मैं किसी की धार्मिक भावना आहत नहीं कर सकती, क्योंकि मैं अपने धर्म को अपने हिसाब से फॉलो करती हूं और आप अपने तरीके से। आपको वो करने का हक है और मुझे भी। क्रिएटिवली अगर आप कुछ कर रहे हो तो उसकी जिम्मेदारी आपकी है। मैं नहीं कहूंगी कि आप सही या गलत हो, क्योंकि वो आप ही जानते हो। अगर आप मेरी राय पूछोगे तो मैं क्रिएटिविटी और धर्म को अलग रखती हूं।"

खबरें और भी हैं...