पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Kangana Ranaut Says Taapsee Pannu, Swara Bhasker, Richa Chadha Have ‘bills To Pay’: ‘Others May Not Have My Inclination To Gain Enemies’

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नेपोटिज्म पर खींचतान:तापसी, स्वरा, ऋचा का सपोर्ट ना मिलने पर भड़कीं कंगना, बोलीं-तीनों पर घर के बिल भरने का प्रेशर इसलिए बॉलीवुड में दुश्मन नहीं बनाना चाहती हैं

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बॉलीवुड में नेपोटिज्म, आउटसाइडर-इनसाइडर का मुद्दा अब गरमाता ही जा रहा है। पिछले दिनों कंगना ने एक इंटरव्यू में तापसी पन्नू और स्वरा भास्कर को बी-ग्रेड एक्ट्रेस बता दिया था। जिसके बाद तापसी और स्वरा ने भी उनपर हमला बोला था। अब एक इंटरव्यू में कंगना ने फिर दोनों पर निशाना साधा है और इस डिबेट में उनका सपोर्ट ना करने पर दुख जताया है। 

कंगना बोलीं-तापसी,स्वरा, ऋचा पर बिल भरने का प्रेशर

पिंकविला को दिए इंटरव्यू में कंगना ने तापसी, स्वरा के पलटवार पर दुख जताते हुए कहा, ‘यह दुखद है। मैं नहीं जानती कि मुझे क्या कहना चाहिए लेकिन मैं उनकी जगह पर रह चुकी हूं। जो लोग बाहर से बॉलीवुड में आते हैं, हम आउटसाइडर्स को अपने पेरेंट्स के घर का कम्फर्ट नहीं मिलता है। मैं अनिल कपूर या महेश भट्ट की बेटी नहीं हूं। जब आप स्वरा भास्कर, तापसी पन्नू और ऋचा चड्ढा की बात करें तो मैं समझ सकती हूं कि उन पर अपने घर के बिल भरने का प्रेशर है। हर कोई वैसे नहीं जीना चाहता जैसे  मैं जीती हूं। इसलिए मैं समझ सकती हूं कि वह (तापसी, स्वरा और ऋचा) कहां से आती हैं और उनपर कितना प्रेशर है।’ 

वो दुश्मन नहीं बनाना चाहतीं

कंगना ने आगे कहा, ‘मैं समझ सकती हूं कि दूसरों का यहां दुश्मनों की संख्या बढ़ाने का इरादा नहीं है लेकिन मैं उनसे बस इतना चाहती हूं कि वह कम से कम दूसरों के स्ट्रगल की इज्जत तो करें।

तापसी कहती हैं कि मेरे अजीबोगरीब एक्सपीरियंस रहे हैं। क्या मैं अजीब हूं? वो कहती हैं कि मैं एक्सट्रीमिस्ट हूं। स्वरा कहती हैं कि नेपोटिज्म पर मेरे दावे फेक हैं।

ऋचा कहती हैं कि कुछ लोग यूनिवर्स को पॉजिटिव वाइब्रेशन नहीं देते हैं। हां, बात सच है कि आसपास जो घट रहा है, मैं उससे पॉजिटिव फील नहीं करती लेकिन मेरे स्ट्रगल का असम्मान करना दूसरी बात है।’ 

तापसी ने फिर दिया जवाब

कंगना की बातें सुनकर तापसी पन्नू फिर चुप नहीं बैठीं और उन्होंने एक ट्वीट के जरिए कंगना पर तंज कसा। तापसी ने लिखा, हाय ऋचा और स्वरा, कोई हमारे बिल और ईएमआई को लेकर बहुत चिंतित है। कितनी दयालु इंडस्ट्री है। हमें बी-ग्रेड स्ट्रगल के लिए कितना सम्मान मिल रहा है।

कंगना की किन बातों से शुरू हुआ विवाद?

कंगना ने अर्णब गोस्वामी को दिए इंटरव्यू में तापसी और स्वरा को बी-ग्रेड एक्ट्रेस बताया था। उन्होंने कहा था- मुझे यहां (बॉलीवुड में) रहने में घाटा ही है। क्योंकि उन्हें (मूवी माफिया) कल तापसी पन्नू और स्वरा भास्कर जैसी 20 और जरूरतमंद आउटसाइडर्स मिल जाएंगी, जो कहेंगी सिर्फ कंगना को नेपोटिज्म से दिक्कत है। लेकिन हम करन जौहर से प्यार करते हैं।

अगर आप करन जौहर से प्यार करती हैं तो फिर आप दोनों बी-ग्रेड एक्ट्रेस क्यों हो? आप आलिया भट्ट और अनन्या पांडे से बेहतर दिखती हो। दोनों बहुत अच्छी एक्ट्रेस हो। आपको काम क्यों नहीं मिलता? आपकी पूरी मौजूदगी नेपोटिज्म का सबूत है। 

कंगना के आरोपों पर चुप नहीं रहीं तापसी 

हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में तापसी ने कहा था- यह देखकर दुख होता है कि कोई उस इंडस्ट्री में बाहरी लोगों का मजाक उड़ा रहा है, जिसने हमें बहुत कुछ दिया है। उन पैरेंट्स के बारे में सोचिए, जिनके बच्चे यहां हैं। वे हमारे बारे में क्या सोचते होंगे? जैसे कि हम बुरे लोग है और बाहरी लोगों को खाने के लिए बैठे हैं।

तापसी ने कंगना के नेपोटिज्म वाले आरोप पर कहा कि उनकी कोई भी फिल्म ऐसे किसी मूवी माफिया गैंग ने प्रोड्यूस नहीं की है, जिन्हें कंगना निशाना बनाती हैं और उनकी आने वाली फिल्मों सा भी इनका कोई लेना-देना नहीं है।

बकौल तापसी- हां मुझे फिल्मों से निकाला गया और स्टार किड्स से रिप्लेस किया गया। लेकिन कंगना और उनकी बहन का मेरी कड़ी मेहनत को क्रेडिट न देना और मेरा नाम घसीटना भी उसी लेवल का हैरेसमेंट है। 

यह सब इसलिए, क्योंकि मैंने उनके सुर में सुर मिलाने से इनकार कर दिया। क्योंकि मैंने आउटसाइडर्स के लिए झंडा उठाने वाली बनने से इनकार कर दिया। क्योंकि हम सभी उतने कड़वे नहीं हैं। क्योंकि मैंने किसी की मौत का फायदा निजी बदले के लिए उठाने से इनकार कर दिया और मैंने उस इंडस्ट्री का मजाक बनाने से इनकार कर दिया, जिसने हमें रोटी और पहचान दी। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें