आपबीती:पहली कोरोना पॉजिटिव सेलेब्रिटी थीं कनिका कपूर, बोलीं- हमें जान से मारने की धमकियां मिलीं, लोग कहते थे मुझे मर जाना चाहिए

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कनिका कपूर देश की पहली ऐसी सेलेब्रिटी थीं जिन्हें कोरोना वायरस संक्रमण हुआ था। अब कनिका ने खुलासा किया है कि संक्रमण के बाद उन्होंने किस तरह लोगों की आलोचनाओं का सामना किया। कनिका कपूर के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर मार्च 2020 में सामने आई थी जिसके बाद उन्हें लोगों के गुस्से से दो-चार होना पड़ा था।

कनिका इस साल सबसे ज्यादा गूगल की गई सेलेब्रिटीज में भी शुमार रहीं। अब जब वे इस दौर से उबर कर अपने काम पर फोकस कर रही हैं तो उन्होंने अपने मुश्किल वक्त के बारे में बताया है।

उस वक्त मैं बहुत लाचार थी- कनिका
स्पॉटबॉय के दिए एक इंटरव्यू में कनिका ने बताया- वह दौर वाकई बहुत मुश्किल था। न सिर्फ मेरे लिए बल्कि मेरी पूरी फैमिली के लिए। क्योंकि हमें नहीं पता था कि असल में हमारे साथ क्या हो रहा था। इसके अलावा पूरा मीडिया और लोग हमारे खिलाफ हो गए थे, वो भी उस चीज के लिए जिसके बारे में मैं खुद अवेयर नहीं थी। जाहिर है मैं बेहद लाचार महसूस कर रही थी। मुझ पर कई आरोप लगे। इस वक्त के बीच मैंने कई सारी चीजें रियलाइज कीं। लेकिन मुझे लगा कि मेरे बारे में कुछ भी लिखने या टिप्पणी करने से पहले वे कम से कम यह सुनते होंगे कि सच क्या था। अफवाहों के आधार पर आप किसी पर आरोप लगा रहे हैं। यह कैसे सही है?

कनिका ने सुनाई सिलसिलेवार कहानी
कनिका ने आगे कहा- जब मैं 9 मार्च को वापस आई तब भारत में क्वारैंटाइन नियम लागू नहीं थे। 10 मार्च को सबने होली खेली। और मैं फिर मां-पापा के पास लखनऊ गई। फिर 16 और 17 मार्च को मुझे फीवर होने लगा। इसलिए मैंने अपना चेकअप करवाया और 20 मार्च को मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। अब सोचिए कि अगर मुझे इसका असर पता होता तो क्या मैं अपने पैरेंट्स, खास तौर पर मेरी 90 साल की दादी की जिंदगी को खतरे में डाल सकती थी। लोगों ने आरोप लगाए कि मैंने एयरपोर्ट पर अपना चेकअप नहीं करवाया, नियम फॉलो नहीं किए।

सिंगर आगे बताती हैं- उस दौरान मैं बहुत दुखी और परेशान थी क्योंकि हमें जान से मारने की धमकी मिल रही थी। लोग कह रहे थे कि मुझे मर जाना चाहिए। कई लोगों ने यह भी कहा कि मेरा कॅरियर खत्म हो गया। लेकिन किसी को यह अहसास नहीं हुआ कि मैं एक सिंगल मदर हूं, अपने बच्चों से दूर और कड़ी मेहनत करके मैंने कॅरियर बनाया है और एक दिन आप बोल रहे हैं कि आपका कॅरियर खत्म, लाइफ खत्म, आप मर जाईए। इन सब चीजों ने मुझे झिंझोड़कर रख दिया था। मुश्किल वक्त था, लेकिन मेरा परिवार मेरे साथ था। अब वक्त गुजर गया है और मैं आगे बढ़ गई हूं।

कनिका के साथ घटा था यह सब कुछ

  • कनिका 9 मार्च को लंदन से लौटी थीं। उसके बाद वे लखनऊ के महानगर स्थित एक अपार्टमेंट में रुकीं। जहां 700 परिवार रहते हैं।
  • ताज होटल में रखी गई पार्टी में शामिल हुईं। 15 मार्च को यह पार्टी कांग्रेस के पूर्व सांसद जितिन प्रसाद के ससुर आदेश सेठ ने दी थी।
  • इस पार्टी में उनके साथ राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, उनके बेटे दुष्यंत सिंह, उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जयप्रताप समेत कई लोग मौजूद थे। तीनों को बाद में खुद को आइसोलेट करना पड़ा था।
  • कनिका कानपुर में अपने रिश्तेदार के यहां समारोह में शामिल होने गई थीं। कोरोना पॉजिटिव होने के बाद पार्टी में शामिल 45 लोगों की जांच की गई थी, हालांकि सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई थी।
  • 20 मार्च को संक्रमण की पुष्टि हुई थी। इसके बाद कनिका लखनऊ एसजीपीआई में भर्ती थीं, लगातार 5 बार पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी।
  • लंदन से लौटने के बाद तय नियमों का पालन नहीं करने पर कनिका के खिलाफ लखनऊ में तीन एफआईआर भी दर्ज हुई थीं।
खबरें और भी हैं...