पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भास्कर एक्सक्लूसिव:कार्तिक आर्यन के बचाव में आए कुमार मंगत पाठक बोले-कभी स्क्रिप्‍ट से छेड़छाड़ नहीं की, आज भी पांव छूने के बाद बात करता है

2 महीने पहलेलेखक: अमित कर्ण
  • कॉपी लिंक
कुमार मंगत ने कार्तिक आर्यन को फिल्म 'प्यार का पंचनामा' से ब्रेक दिया था - Dainik Bhaskar
कुमार मंगत ने कार्तिक आर्यन को फिल्म 'प्यार का पंचनामा' से ब्रेक दिया था
  • प्रोड्यूसर ने एक्टर के गैरपेशेवर होने के आरोपों को नकारा
  • सुभाष घई बोले- कांची के वक्‍त तो अनुशासित थे, अब का पता नहीं

करण जौहर से रिश्‍तों में आई खटास के बाद से कार्तिक आर्यन लगातार आरोपों के घेरे में हैं। इंडस्‍ट्री का एक धड़ा उन्‍हें गैरपेशेवर ठहराने पर आमादा है। स्‍टारडम उनके सिर पर चढ़ गया है, जैसे नैरेटिव सामने आ रहे हैं। कार्तिक खुद इन मामलों पर अब तक चुप हैं। मगर अब उनके साथ काम कर चुके मेकर्स उनके प्रोफेशनल रवैये पर खुलकर सामने आ रहे हैं।

सुभाष घई बोले-शुरू में तो सब अबोध होते हैं
पहली फिल्‍म ‘कांची’ के मेकर सुभाष घई ने कहा,’ किसी भी आदमी का असली पता तो उसकी चढ़ती कामयाबी में ही लगता है। शुरू के संघर्ष में तो सभी विनम्र और अबोध बने रहते हैं जी। मेरे साथ तो वो हमेशा एक स्टूडेंट की तरह रहे थे। तीन साल से मेरी मुलाकात ही नहीं हुई। ना उसने कभी फोन किया। गॉड ब्‍लेस हिम। मेरी शुभकामनाएं उनके साथ हैं। मैंने कांची के बाद कभी उन्‍हें कोई स्क्रिप्‍ट भी पिच नहीं की है।

कुमार मंगत बोले वह सुलझा हुआ इंसान है
‘प्‍यार का पंचनामा’ जैसी हिट सीरीज में कार्तिक को मौका देने वाले प्रोड्यूसर कुमार मंगत पाठक ने कार्तिक को क्‍लीन चिट दी। दैनिक भास्‍कर से खास बातचीत में कहा-कार्तिक बेहद सुलझा हुआ इंसान है। उसके सिर पर कोई स्‍टारडम नहीं चढ़ा है। उसने कभी मेरी फिल्‍मों में स्‍क्रिप्‍ट में बदलाव की मांग नहीं की। आज भी वो जब कभी कहीं भी मिलता है तो पहले पांव छूता है। फिर बातें करता है। हम साथ में एक फिल्‍म कर रहे हैं। वह अगले साल तक फ्लोर पर जा सकती है।