टीवी के पितामह पर पड़ा दुख:मुकेश खन्ना अपनी मौत की खबरों का खंडन करते रहे, लेकिन दिल्ली में बड़ी बहन कमल हार गईं कोरोना से जंग

8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक दिन पहले मुकेश खन्ना की मौत की झूठी खबर ने लोगों को हैरानी में डाल दिया था, लेकिन 24 घंटे के अंदर ही टीवी के पितामह पर दुखों का पहाड़ टूट गया है। दिल्ली में रहने वाली मुकेश खन्ना की बड़ी बहन कमल कपूर कोरोना से जंग हार गईं। इस बात की जानकारी मुकेश ने सोशल मीडिया के जरिए शेयर की। उन्होंने लिखा- सचमुच मैं पहली बार जिंदगी में हिल गया हूं।

कमल को सांस लेने में हो रही थी दिक्कत कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक 62 साल के मुकेश की बड़ी बहन को 12 दिन पहले कोरोना संक्रमण हुआ था। वे रिकवर कर गईं थीं। लेकिन एक दिन पहले उन्हें सांस लेने में तकलीफ हुई। जब उन्हें दोबारा हॉस्पिटल ले जाया गया तो कहीं भी आईसीयू बेड उपलब्ध नहीं हो सका। जिसके चलते उन्हें बचाया नहीं जा सका।

तीन हफ्ते पहले हुआ भाई का निधन
मुकेश खन्ना के भाई सतीश का तीन हफ्ते पहले ही हार्टअटैक से निधन हो गया था। सतीश पहले कोरोना वायरस संक्रमित हुए थे। सतीश होम आइसोलेशन में थे और सभी प्रोटोकॉल्स के साथ दवाएं भी ले रहे थे। बाद में 8 अप्रैल को उनकी रिपोर्ट निगेटिव आ गई थी। इसके बाद उन्होंने बेटे की गोद में दम तोड़ दिया।

गौरतलब है कि मुकेश खन्ना कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लगवा चुके हैं और पिछले एक साल से किसी भी पार्टी या फंक्शन में नहीं गए हैं।