आर्यन केस में आरोपों पर NCB का जवाब:जब लोग हमारी आलोचना कर रहे थे, तब भी हम एक ऑपरेशन में बिजी थे, 1 करोड़ की ड्रग्स पकड़ीं

एक महीने पहले

पिछले कुछ दिनों नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) को आर्यन खान से जुड़े ड्रग्स छापे मामले की जांच और संचालन के लिए राजनीतिक नेताओं और सोशल मीडिया में भारी आलोचना मिली है। एजेंसी पर राजनीतिक रूप से प्रभावित होने के आरोप लगे हैं। लेकिन, एजेंसी का कहना है कि यह एक पारदर्शी जांच एजेंसी है और देश के हित में काम कर रही है।

आलोचना हमें स्ट्रॉन्ग बना रही है
NCB के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर मीडिया से बात की और कहा, “आलोचना ही हमें देश से ड्रग्स को साफ करने के अपने लक्ष्य की दिशा में काम करने में मजबूत बना रही है। आलोचक आरोप लगाने में व्यस्त थे, हम एक ऑपरेशन कर रहे थे जिसमें हमने 1 करोड़ रुपये की दवाएं बरामद की हैं। अधिकारी ने कहा, हम उनकी आलोचना का जवाब नशीले पदार्थों के खतरे को साफ करके दे रहे हैं। नशीली दवाओं के तस्करों को पकड़ने के लिए एनसीबी लगातार छापेमारी और अभियान चला रहा है। हमारे पास ड्रग मामले में पकड़े जाने वाले हर व्यक्ति के लिए काउंसलिंग करते हैं। आर्यन की काउंसलिंग को लेकर लोग इतनी बड़ी बात क्यों कर रहे हैं? ऐसे मामलों में यह एक नॉर्म्स है।

एक दिन आपको मुझ पर गर्व होगा
बता दें कि, आर्यन का एनसीबी के तहत एक काउंसलिंग सेशन था, जहां स्टार किड ने कथित तौर पर कहा था कि वह गरीबों के कल्याण के लिए काम करेगा और ऐसा कुछ भी नहीं करेगा जिससे भविष्य में उसका नाम बदनाम हो। आर्यन ने कहा, 'मैं अच्छा इंसान बनकर अच्छे काम करूंगा और एक दिन आपको मुझ पर गर्व होगा।'

20 अक्टूबर को जमानत पर आएगा फैसला
आर्यन खान के साथ अरबाज मर्चेंट, मुनमुन धमीचा समेत अन्य आरोपियों को भी 20 अक्टूबर तक जेल में ही रहना होगा। सेशंस कोर्ट द्वारा 20 तारीख को ही आर्यन समेत अन्य आरोपियों की जमानत याचिका पर फैसला सुनाया जाएगा, तब तक आर्यन को सलाखों के पीछे ही रहना होगा। जेल में आर्यन को कैदी नंबर 956 का बैच मिला है।

खबरें और भी हैं...