बातचीच:पियूष मिश्रा बोले- 'लॉकडाउन खुलने के बाद अब कंटेंट ड्रिवेन फिल्में ही चलेंगी, अब लोगों को बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता'

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फिल्म और थिएटर आर्टिस्ट पियूष मिश्रा की माने तो उन्हें सोशल मीडिया बिल्कुल रास नहीं आता। उन्हें इस बात की सुकून हैं की वे इस प्लेटफार्म पर नहीं हैं। हाल ही में दैनिक भास्कर से खास बातचीत के दौरान, एक्टर ने सोशल मीडिया के साइड इफेक्ट्स बताए। बातों-ही-बातों में उन्होंने बताया की वे शराबी के इर्द-गिर्द कोई कॉमेडी फिल्म बनाना चाहेंगे। साथ ही बता दें, पियूष की आगामी सीरीज 'इललीगल सीजन 2' जल्द ही डिजिटल प्लेटफार्म पर प्रीमियर होने वाली है। बातचीत के दौरान, अभिनेता ने इस सीरीज से जुडी कुछ खास बातें भी शेयर की।

मुझे सोशल मीडिया से कोई फर्क नहीं पड़ता
सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर ना होने के बारे में पियूष कहते है, "इस बात से इंकार नहीं करूंगा की इस प्लेटफार्म की वजह से कई पुरानी यादें ताजा हो जाती हैं लेकिन सच कहूं तो मैं इस माध्यम को बिल्कुल फॉलो नहीं करता। मुझे सोशल में मीडिया पर कौन क्या कह रहा हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। इस प्लेटफार्म पर चाहे लोग तारीफ करें या आलोचना, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। मैं बस अपना काम ईमानदारी से करता हूँ और जैसे ही वो प्रोजेक्ट खत्म हो जाता हैं, आगे बढ़ जाता हूं। मेरे लिए मेरी प्राइवेसी बहुत मायने रखती है और इसी वजह से मैं किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर नहीं हूं। अपने इस फैसले से बहुत संतुष्टि है।"

उम्मीद है मेहनत रंग लाएगी
इललीगल सीजन 2 के बारे में पियूष कहते है, "पहले सीजन के मुकाबले इस सीजन की स्क्रिप्टिंग बहुत स्ट्रांग है और यही वजह है की इस सीजन से मेरी ज्यादा उम्मीदें है। जनार्दन का किरदार बहुत ही निर्दयी है, शूटिंग के शुरुआत के दिन में मुझे इस किरदार में एडजस्ट होने के लिए वक्त लग गया था। आम तौर पर जब भी कोई फिल्म करता हूं तो उसके खत्म होने के बाद, मैं उस किरदार को भूल जाता हूं लेकिन ऐसा पहली बार हुआ जहा जनार्दन की पर्सनालिटी अब भी मेरे दिलों-दिमाग में छाई है। पूरी टीम ने बहुत मेहनत की है स्क्रीन पर हम सभी एक्टर्स का बेस्ट दर्शाने के लिए, उम्मीद करता हूं हमारी मेहनत रंग लाए।"

अब कंटेंट राजा बनेगा
ओटीटी प्लेटफार्म पर अलग-अलग तरह के कंटेंट रिलीज होने पर पियूष अपने विचार व्यक्त करते हुए कहते हैं, "ऑडियंस अब बहुत समझदार हो चुकी है, अब लोगों को बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता। लॉकडाउन में उन्होंने कई तरह के कंटेंट देखे हैं फिर चाहे वो इंडियन कंटेंट हो या इंटरनेशनल। लॉकडाउन खुलने के बाद अब कंटेंट ड्रिवेन फिल्में ही चलेंगी। आप अपनी फिल्म में बड़े स्टार्स को शामिल करें या नहीं, कंटेंट ही अब राजा बनेगा। अब फिल्ममेकर्स को समझना होगा की लूज प्लॉट नहीं चलेंगे। आने वाले दिनों में स्टार्स का स्टारडम एक तरफ, फिल्म का कंटेंट बहुत जरूरी होने वाला है।"

एल्कोहॉलिज्म पर काम करना चाहता हूं
तो ऐसा कोई कंटेंट जहां पियूष मिश्रा को लगता है की इंडियन सिनेमा ने अब तक एक्स्प्लोर नहीं किया और वे उस पर काम करना चाहेंगे? इस पर वे तुरंत कहते है, "मेरे दिमाग में एल्कोहॉलिज्म को लेकर कॉमेडी फिल्म बनाने की इच्छा है। राजू हिरानी जैसी स्क्रिप्ट हो जहां कॉमेडी भी हो और ऑडियंस के लिए कुछ सीख भी। ज्यादातर फिल्मों में शराबी को पूरी तरह से शराबी दिखाया जाता है। लेकिन मैं ऐसी फिल्म बनाना चाहूंगा जहा किसी शराबी को कॉमेडी के जरिए ऑडियंस को बताऊं की ये कितनी गंभीर बिमारी है। मौका मिला तो इस कॉन्सेप्ट पर जरुर काम करूंगा।"

खबरें और भी हैं...